"अश्विन कलाई के स्पिनर की तरह आक्रमण का मौका नहीं देंगे" - भारतीय दिग्गज का बड़ा बयान

अश्विन को वेस्टइंडीज दौरे के लिए दिया गया है मौका
अश्विन को वेस्टइंडीज दौरे के लिए दिया गया है मौका

टेस्ट क्रिकेट में भारतीय टीम के दिग्गज स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) की भारत की टी20 टीम में वापसी हुई है। पिछले साल नवंबर में न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20 मुकाबला खेलने के बाद लगभग आठ महीनों के बाद अश्विन को वेस्टइंडीज दौरे के लिए भारतीय टीम में चुना गया था। उन्होंने दौरे पर खेले पहले मैच में अच्छा प्रदर्शन भी किया। हालांकि, इसके बावजूद पूर्व भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज पार्थिव पटेल (Parthiv Patel) का मानना है कि अश्विन टी20 विश्व कप नहीं खेल पाएंगे। पार्थिव ने कहा,

अगले मैच में यदि भारत दो स्पिनरों के साथ खेलता है तो मैं रवि बिश्नोई को अश्विन की जगह खेलते हुए देख रहा हूं। ईमानदारी से कहूं तो मुझे नहीं लगता है कि अश्विन टी20 विश्व कप खेलने वाले हैं। मुझे कुलदीप यादव, बिश्नोई और युजवेंद्र चहल के साथ वैरायटी चाहिए। कलाई के स्पिनर आपको आक्रमण का मौका देते हैं जो कि अश्विन आपको नहीं दे सकते हैं।

भारत के पास स्पिन विभाग में क्या हैं विकल्प?

टी20 क्रिकेट में भारत के पास फिलहाल युजवेंद्र चहल के रूप में सबसे बड़ा स्पिन हथियार है। इसके अलावा यदि विकल्पों की बात की जाए तो भारत के पास रवि बिश्नोई और कुलदीप यादव जैसे विकल्प मौजूद हैं। बिश्नोई ने अपने छोटे से करियर में यह साबित कर दिया है कि वह बड़े से बड़े मंच पर भी बिना दबाव के अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं।

2017 के बाद से अश्विन लगातार लिमिटेड ओवर्स क्रिकेट से बाहर चल रहे थे। हालांकि, 2021 टी20 विश्व कप के साथ उन्होंने टी20 टीम में वापसी की थी। पिछले साल खेले गए विश्व कप में अश्विन ने कुछ खास प्रदर्शन नहीं किया था और इसके बाद उन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज में भी मौका दिया गया था। इसके बाद से एक बार फिर अश्विन टी20 की टीम से बाहर हो गए और उन्हें वापसी करने में लगभग आठ महीनों का समय लग गया।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment