Create

भारतीय स्पिनरों के खिलाफ स्वीप शॉट खेलना कारगर साबित हुआ : रॉस टेलर

Rahul

भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच हुए पहले एकदिवसीय में मेहमान टीम के अनुभवी बल्लेबाज रॉस टेलर और युवा बल्लेबाज टॉम लैथम ने 200 रन की रिकॉर्ड साझेदारी कर भारत को आसानी के साथ यह मुकाबला हरा दिया। इस साझेदारी में टेलर ने 95 रन बनाये, तो लैथम ने शानदार शतक जड़ा। न्यूज़ीलैंड के दिग्गज बल्लेबाज टेलर ने इस जीत का श्रेय भारतीय स्पिनर के खिलाफ लगातार खेले गए स्वीप शॉट्स को देना बेहतर समझा और साथ ही साझेदारी के दौरान स्पिनर्स के खिलाफ रणनीति पर खरा उतरने में कामयाब होना रहा।

टेलर और लैथमने भारतीय स्पिनर कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल के खिलाफ शानदार बल्लेबाजी करते हुए, स्वीप शॉट्स और रिवर्स स्वीप पर भरोसा रखा और स्पिन गेंदबाजों पर दबाव बढ़ाया। कुलदीप और युजवेंद्र ने अपने 20 ओवर में 125 रन देकर केवल मात्र एक विकेट अपने नाम किया। टेलर ने पोस्ट मैच कॉन्फ्रेंस में इस रणनीति को लेकर कहा कि स्वीप शॉट्स के साथ ही हमने भारतीय स्पिन गेंदबाजों पर दबाव बढ़ाना शुरू कर दिया था। मुझे लगता है लैथम ने बहुत बेहतरीन स्वीप शॉट्स खेले। मैंने उनसे रिवर्स स्वीप के लिए भी कहा और उन्होंने ऐसा किया। हम अपनी साझेदारी के दौरान इस रणनीति पर ही चलते रहे। साथ ही हमें शुरुआत से ही अच्छे साझेदारी की जरूरत थी, जो हमें सलामी बल्लेबाजों द्वारा मिली क्योंकि भीषण गर्मी में 3 घंटे के बाद हमें थोड़ा बहुत आराम करने का वक्त मिला, जिसका फायदा हमें बल्लेबाजी के दौरान मिला।

न्यूज़ीलैंड टीम ने पहला एकदिवसीय आसानी के साथ 1 ओवर रहते हुए भारत से जीत लिया। मेहमान टीम के लिए 200 रनों की साझेदारी कर टेलर और लैथम ने जीत को पक्का किया। हालांकि टेलर अपने शतक से जरुर चुक गए लेकिन युवा बल्लेबाज लेथम ने शतक जरुर लगाया। रॉस टेलर ने भारतीय परिस्थितियों में खेलने का श्रेय आईपीएल में खेले गए मैचों को भी दिया और विश्वास जताया है कि वह इस श्रृंखला को अपने नाम करेंगे। भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच दूसरा एकदिवसीय मुकाबला 25 अक्टूबर को पुणे में खेला जायेगा। जहाँ मेहमान टीम मुकाबला जीत कर सीरीज को अपने नाम करेगी, तो मेजबान भारत के पास सीरीज में वापसी करने का बेहतरीन मौका होगा।

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment