Create

वर्ल्ड कप 2019: टूर्नामेंट में पहली बार खेल रहे 6 खिलाड़ी जो अपनी छाप छोड़ सकते हैं

वर्ल्ड कप 2019 शुरू होने में एक महीने का समय बाकी है

वर्ल्ड कप शुरू होने में अब एक महीने का समय बाकी है। क्रिकेट के सबसे बड़े टूर्नामेंट के 12वें संस्करण में दस टीमें होंगी, जो एक-दूसरे के खिलाफ संघर्ष करेंगी ताकि यह पता लगाया जा सके कि दुनिया में सर्वश्रेष्ठ टीम कौन है।

इंग्लैंड और वेल्स में होने जा रहा वर्ल्ड कप दुनिया भर के कुछ प्रमुख खिलाड़ियों जैसे कि क्रिस गेल, इमरान ताहिर आदि का शायद आखिरी टूर्नामेंट हो सकता है। वहीं विराट कोहली, स्टीव स्मिथ, केन विलियम्सन और जो रूट अपना वर्चस्व बनाना चाहेंगे। तो वहीं कुछ खिलाड़ी ऐसे होंगे जो यह टूर्नामेंट पहली बार खेल रहे और अच्छा प्रदर्शन कर अपनी छाप छोड़ना चाहेंगे।

आईये एक नज़र डालते हैं पहली बार वर्ल्डकप खेल रहे ऐसे 6 खिलाड़ियों पर जो अपने प्रदर्शन के दम पर अपनी पहचान बनाना चाहेंगे।


# 1 जॉनी बेयरस्टो

जॉनी बेयरस्टो पिछले कुछ समय से शानदार फॉर्म में है

जॉनी बेयरस्टो के करियर की शुरुआत 2011 में हुई थी, लेकिन इंग्लैंड के 2015 विश्व कप अभियान में असफलता के बाद पूरी टीम में बदलाव आया और बेयरस्टो को इस प्रकार एकदिवसीय क्रिकेट में वापसी का मौका मिला। मध्यक्रम में खेलते आ रहे जॉनी बेयरस्टो को इंग्लैंड के लिए 2017 के मध्य में पाकिस्तान के इंग्लैंड दौरे पर बतौर सलामी बल्लेबाज़ खेलने का अवसर मिला और इसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा। इंग्लैंड के लिए ओपनिंग करते हुए 33 पारियों में बेयरस्टो ने 50.72 के औसत से 6 शतकों और 113.32 के बेहतरीन स्ट्राइक रेट से 1471 रन बनाए हैं।

वह इंग्लैंड के मजबूत बल्लेबाजी क्रम की एक अहम कड़ी हैं और टीम को तेज़ शुरुआत देने में उनका अहम योगदान होता है, और इस शुरुआत के दम पर अक्सर जो रूट, इयोन मोर्गन, बटलर, बेन स्टोक्स और मोइन अली जैसे खिलाड़ियों को और अधिक खुल कर खेलने का मौका मिलता हैै। बेयरस्टो का हाल के दिनों में आईपीएल में फॉर्म भी बेहद शानदार रहा, जहाँ उन्होंने सिर्फ 10 मैचों में 157.24 की स्ट्राइक रेट से 445 रन बनाये।

ऐसे में जब इंग्लैंड वर्ल्ड कप जीतने के प्रबल दावेदारों में माना जा रहा है, बेयरस्टो की भूमिका निश्चित रूप से महत्वपूर्ण होने जा रही है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं।

# 2 उस्मान ख्वाजा

Enter caption

उस्मान ख्वाजा के वनडे करियर की शुरुआत धीमी रही और उन्हें कभी भी टीम में नियमित जगह नही मिली। लेकिन 2019 की शुरुआत के बाद उनका फॉर्म जैसा रहा, उन्हें फिर से शानदार टेस्ट फॉर्म के कारण एकदिवसीय टीम में वापस बुलाया गया और उन्होंने यह मौका भुनाया। भारत के खिलाफ 8 और पाकिस्तान के खिलाफ 5 मैच खेलकर, ख्वाजा ने 769 रन बनाए, जिसमें 2 शतक और 6 अर्धशतक शामिल थे।

ऑस्ट्रेलिया के भारत और पाकिस्तान के खिलाफ श्रृंखला में जीत हासिल करने और विश्व कप के दावेदार के रूप में अपनी दावेदारी पेश करने के लिए उनका फॉर्म महत्वपूर्ण था। ऑस्ट्रेलिया एक ऐसी टीम थी जिसका प्रदर्शन साल 2018 में काफी खराब रहा था, लेकिन ख्वाजा के साथ-साथ मैक्सवेल और फिंच के फॉर्म में वापस आने के बाद ऑस्ट्रेलिया को वर्ल्डकप के दावेदारों में से एक माने जाने लगा है।

वार्नर और स्मिथ की टीम में वापसी के बाद जैसी क्रिकेट ख्वाजा खेलते हैं वह टीम के लिए और भी ज्यादा बेहतर होगी।

# 3 शिमरोन हिटमायर

शिमरोन हेटमेयर

वेस्टइंडीज ने वर्ल्ड कप के लिए एक ऐसी टीम का चयन किया है जो कि संभावनाओं से भरी नज़र आ रही है। टीम में एक से एक आक्रामक खिलाड़ी हैं और उन्हीं में से एक हैं शिमरोन हिटमायर । नंबर 4 या 5 पर बल्लेबाजी करने वाला यह खिलाड़ी कुछ ही ओवेरों के अंदर मैच बदलने की क्षमता रखता है और अपने दिन पर किसी भी गेंदबाजी आक्रमण को तहस नहस करने की क्षमता रखता है।

सिर्फ 25 मैच पुराने, हिटमायर ने 899 रन और 4 शतकों के साथ अंतर्राष्ट्रीय मंच पर अपनी छाप छोड़ी है, और उनका स्ट्राइक रेट 110.30 है। उनके पास दुनिया की शीर्ष 2 एकदिवसीय टीमों इंग्लैंड और भारत के खिलाफ शतक हैं।

पेस और स्पिन के खिलाफ वह खेलने में सक्षम हैं और इंग्लैंड की पिचों पर बेहद बेहतरीन प्रदर्शन कर सकते हैं। हालांकि उनका हालिया फॉर्म अच्छा नही रहा है, क्योंकि आईपीएल में उनका बेहद खराब प्रदर्शन रहा है। लेकिन एकदिवसीय क्रिकेट और इंग्लिश पिचें पूरी तरह से एक अलग स्थिति होंगी और उनका प्रदर्शन भी बेहतर हो सकता है।

# 4 कागिसो रबाडा

कागिसो रबाडा

एकदिवसीय और टेस्ट रैंकिंग दोनों में शीर्ष 5 में शामिल होने वाले एकमात्र गेंदबाज, कगिसो रबाडा 2015 में पदार्पण करने के बाद से ही शानदार गेंदबाजी करते आये हैं। वो एक वास्तविक तेज गेंदबाज़ हैं जो नियमित रूप से 140-150 किमी / घंटा की गति से गेंदबाजी करते हैं।

सिर्फ 66 एकदिवसीय मैचों में 106 विकेटों के साथ, रबाडा केवल 24 साल की उम्र में भविष्य के एक महान गेंदबाज़ बनने की राह में हैं। आईपीएल में 12 मैचों में 25 विकेटों के साथ उनका फॉर्म असाधारण रहा है। 2017 में चैंपियंस ट्रॉफी के बाद यह विश्व स्तर पर उनका दूसरा प्रमुख 50 ओवर टूर्नामेंट होगा।

रबाडा 2 साल पहले जो गेंदबाज़ थे आज उससे कहीं बेहतर और घातक गेंदबाज बन चुके हैं और दक्षिण अफ्रीका के पहला वर्ल्ड कप खिताब जीतने के लिए रबाडा निश्चित रूप से उनके सबसे प्रमुख हथियार होंगे।

# 5 राशिद खान

राशिद खान

20 साल के राशिद खान पहले से ही टी 20 क्रिकेट में एक बड़े सितारे बन चुके हैं। अफगानिस्तान के लिए खेलते हुए मात्र 57 एकदिवसीय मैचों में 123 विकेटों की संख्या बताती भी है कि वह एक विश्वस्तरीय स्पिन गेंदबाज़ हैं और बड़े मंचों पर मौका मिलने पर अच्छे प्रदर्शन से मैच बदलने की क्षमता रखते हैं।

उनकी लेग स्पिन को पढ़ना मुश्किल होता है और टूर्नामेंट में खेलने वाली कई टीमें उनके खिलाफ पहली बार खेल रही होंगी और इसी बात के चलते वह इस वर्ल्डकप में कुछ मैचों में गेम चेंजर बन सकते हैं। मुजीब, नबी, शिनवारी और हामिद हसन जैसे गेंदबाजों के साथ अफगान गेंदबाजी आक्रमण काफी टीमों को मुश्किल में डालने की क्षमता रखता है।

राशिद खान अभी आईपीएल में अच्छे फॉर्म में भी हैं। अगर अफगानिस्तान को विश्व कप में ज्यादा बेहतर प्रदर्शन करना है, तो राशिद खान को निश्चित रूप से अपनी असल क्षमता के अनुरूप प्रदर्शन करना होगा।

# 6 जसप्रीत बुमराह

जसप्रीत बुमराह भारतीय टीम के लिए लगातार अच्छा प्रदर्शन करते आये हैं

जसप्रीत बुमराह वह गेंदबाज़ हैं जिनका आज के समय में भारतीय टीम के लिए खेलना उतना ही महत्वपूर्ण है जितना कि विराट कोहली का। जसप्रीत बुमराह वह खिलाड़ी हैं जो संभावित रूप से, भारत के अब तक के सबसे महान तेज गेंदबाज बनने की राह पर हैं। वर्तमान में वनडे रैकिंग में नंबर एक पर काबिज बुमराह वर्ल्डकप में अपनी पहचान बनाने और टूर्नामेंट में पहले से जीत की दावेदार मानी जा रही भारतीय टीम की सफलता में अहम किरदार निभाना चाहेंगे।

22.15 की अविश्वसनीय औसत से सिर्फ 49 एकदिवसीय मैचों में 85 विकेट के साथ बुमराह इस समय दुनिया के प्रमुख तेज गेंदबाजों में से एक हैं। अंतिम ओवरों में और पावरप्ले में गेंदबाजी करने में समान रूप से सक्षम और फिट बुमराह विश्व कप में सभी टीमों के विरुद्ध एक अहम कड़ी होंगे।

वह शमी, भुवनेश्वर कुमार, युजवेंद्र चहल, और कुलदीप यादव के साथ मिलकर दुनिया की सबसे शक्तिशाली गेंदबाजी आक्रमण बनाते हैं। हालाँकि, शमी को छोड़कर बाकी सभी गेंदबाज़ अपने पहले विश्व कप में खेल रहे होंगे और उम्मीदों का भार निश्चित रूप से बुमराह और सभी गेंदबाजों पर होगा।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment