Create
Notifications

वर्ल्ड कप 2019: भारतीय टीम में शामिल सभी ऑलराउंडर्स के वन-डे आंकड़ों पर एक नजर

Enter caption
Neetish Kumar Mishra

वर्ल्ड कप 2019 की शुरुआत 30 मई से होने वाली है जिसके लिए सभी 10 टीमों पूरी तरह से तैयार हैं। 25 मई से अभ्यास मैचों की भी शुरुआत हो चुकी है। पहले दिन के अभ्यास मैच में दक्षिण अफ्रीका ने श्रीलंका को और अफगानिस्तान ने पाकिस्तान को हराया। वैसे भी पाकिस्तान टीम लगातार 11 वन-डे मैच हारकर आई है।

भारतीय टीम भी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपना पिछला वन-डे सीरीज हार कर आई है। लेकिन उसके बाद हुए आईपीएल में कई भारतीय खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन किया है जिस कारण उसका मनोबल जरूर बढ़ा है। भारतीय टीम प्रबंधन ने भारत की वर्ल्ड कप टीम में 4 ऑलराउंडरों (हार्दिक पांड्या, केदार जाधव, विजय शंकर और रविंद्र जडेजा) को मौका दिया है। जिनमें से कोई 3 ऑलराउंडर टीम का हिस्सा अवश्य रहेगा।

वर्ल्ड कप से पहले आज हम बात करने जा रहे हैं उन सभी 4 ऑलराउंडरों के वन-डे मैचों के प्रदर्शन के बारे में

#4. रविंद्र जडेजा (लेफ्ट आर्म ऑर्थोडॉक्स गेंदबाज, बाएं हाथ के बल्लेबाज):

Enter caption

रविंद्र अनिरुद्ध सिंह जडेजा (रविंद्र जडेजा) को भारतीय टीम की ओर से वर्ल्ड कप में हिस्सा लेने का मौका मिला है। हालांकि उन्हें अधिक मैचों में खेलने का मौका शायद ही मिले क्योंकि टीम के दो मुख्य स्पिनर युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव की जोड़ी पिछले एक-डेढ़ सालों से अच्छा प्रदर्शन कर रही है। रविंद्र जडेजा ने अब तक 151 वन-डे मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 29.92 की औसत से 2032 रन बनाए हैं। इसमें 10 अर्धशतक शामिल हैं। इसके अलावा उन्होंने 35.89 की औसत से 174 विकेट भी चटकाए हैं। रविंद्र जडेजा ने वन-डे क्रिकेट में 53 कैच लपके हैं।

रविंद्र जडेजा ने वर्ल्ड कप के 8 मैचों में 14.25 की औसत से 57 रन बनाए हैं और 39.66 की औसत से 8 विकेट चटकाए हैं। पिछले दो सालों में उनका वन-डे करियर उतार चढ़ाव वाला रहा है। उन्होंने पिछले 2 सालों में 22 वन-डे मैच खेलते हुए 16.33 की औसत से 147 रन बनाए हैं, जबकि 43.82 की औसत से 23 विकेट चटकाए हैं और 8 कैच लपके हैं।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं।

#3. केदार जाधव (राइट आर्म ऑफ ब्रेक गेंदबाज, दाएं हाथ के बल्लेबाज):

Enter caption

केदार जाधव आईपीएल के दौरान चोटिल हो गए थे। उनको वर्ल्ड कप में खेलने को लेकर संशय बना हुआ था। हालांकि वे भारतीय टीम के साथ इंग्लैंड पहुंच चुके हैं लेकिन शुरुआती एक-दो मैचों से बाहर रह सकते हैं। केदार जाधव इस समय भारतीय टीम के महत्वपूर्ण अंग बन चुके हैं। उन्होंने इंग्लैंड में चैंपियंस ट्रॉफी में भी शानदार प्रदर्शन किया था। केदार जाधव ने अब तक 59 वन-डे मैचों में 43.48 की औसत से 1147 रन बनाए हैं जिसमें 2 शतक और 5 अर्धशतक शामिल हैं। इसके अलावा उन्होंने कभी-कभार गेंदबाजी करते हुए 34.70 की औसत से 27 विकेट भी लिए हैं। केदार जाधव वन-डे क्रिकेट में 26 कैच भी लपक चुके हैं।

केदार जाधव के पिछले 2 साल के वन-डे क्रिकेट में प्रदर्शन पर नजर डालें तो उन्होंने 44 मैचों में 37.15 की औसत से 706 रन बनाए हैं, जिसमें 4 अर्धशतक शामिल हैं। इसके अलावा उन्होंने 37.90 की औसत से 21 विकेट भी चटकाए हैं और 19 कैच लपके हैं। केदार जाधव इस बार अपना पहला वर्ल्ड कप खेलने जा रहे हैं।

#2. हार्दिक पांड्या (मध्यम गति के तेज गेंदबाज, दाएं हाथ के बल्लेबाज):

Enter caption

हार्दिक पांड्या ने बीते एक-दो सालों में खुद को एक मजबूत ऑलराउंडर के रूप में साबित किया है। हार्दिक पांड्या वर्ल्ड कप में भारतीय टीम के लिए तुरुप का इक्का होंगे। इस साल आईपीएल में उन्होंने बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों विभागों में शानदार प्रदर्शन किया था। हार्दिक पांड्या इस बार पहला एकदिवसीय वर्ल्ड कप खेलने जा रहे हैं। लेकिन इससे पहले वे वर्ल्ड टी20 चैंपियनशिप और चैंपियंस ट्रॉफी खेल चुके हैं।

हार्दिक पांड्या ने अपने वन-डे करियर में 45 वन-डे मैच खेले हैं जिसमें उन्होंने 29.24 की औसत से 731 रन बनाए हैं। उनके नाम 4 अर्धशतक भी दर्ज हैं। इसके अलावा गेंदबाजी करते हुए भी उन्होंने 39.72 की औसत से 44 विकेट चटकाए हैं। पांड्या ने कुल 19 कैच भी लपके हैं। पिछले 2 साल के प्रदर्शन पर नजर डालें तो उन्होंने कुल 38 वन-डे मैचों में 571 रन बनाए हैं, जिसमें 3 अर्धशतक शामिल हैं। इसके अलावा पांड्या ने 41.48 की औसत से 35 विकेट भी चटकाए हैं।

#1. विजय शंकर (मध्यम गति के तेज गेंदबाज, दाएं हाथ के बल्लेबाज):

Enter caption

विजय शंकर का वन-डे मैचों में प्रदर्शन कुछ अच्छा नहीं रहा है। हालांकि न्यूजीलैंड के खिलाफ एक मैच में अंबाती रायडू के साथ उनकी साझेदारी को देखते हुए उन्हें भारतीय टीम में मौका दिया गया। इसके अलावा वे अच्छी गेंदबाजी भी कर सकते हैं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू सीरीज के एक मैच में उन्होंने अंतिम ओवर में 2 विकेट लेकर भारत को जीत दिलाई थी। अब ऐसे में यह देखना बड़ा दिलचस्प होगा कि इतने कम अनुभव के बावजूद वे इतने बड़े टूर्नामेंट में कैसा प्रदर्शन करते हैं।

विजय शंकर ने अब तक 9 वन-डे मैचों में हिस्सा लिया है, जिसमें उन्होंने 33.30 की औसत से 165 रन बनाए हैं। उनका सर्वाधिक स्कोर 46 रन रहा है। इसके अलावा उन्होंने गेंदबाजी करते हुए 94.0 की औसत से 2 विकेट चटकाए हैं। विजय शंकर ने अपने वन-डे करियर में 5 कैच भी लपके हैं।

Edited by सावन गुप्ता

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...