Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

World Cup 2019: सौरव गांगुली ने की एम एस धोनी और केदार जाधव की आलोचना

SENIOR ANALYST
न्यूज़
Published 01 Jul 2019, 13:09 IST
01 Jul 2019, 13:09 IST

मैच खत्म होने के बाद धोनी और केदार जाधव
मैच खत्म होने के बाद धोनी और केदार जाधव

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने इंग्लैंड के खिलाफ आखिर के ओवरों में एम एस धोनी और केदार जाधव की धीमी बल्लेबाजी की आलोचना की है। आखिर के ओवरों में जब टीम को बड़े-बड़े शॉट्स की जरूरत थी तो धोनी और जाधव ने बाउंड्री लगाने की कोशिश नहीं की और सिंगल-डबल लेते रहे। सौरव गांगुली ने दोनों खिलाड़ियों के इस रवैये की आलोचना की है।

जब धोनी और केदार जाधव बल्लेबाजी कर रहे थे तो कमेंट्री के दौरान इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने कहा ' मैं बिल्कुल हैरान हूं। भारत को इसकी कतई जरूरत नहीं है। उन्हें तेजी से रन बनाने की जरूरत है और वे इतनी धीमी बल्लेबाजी कप रहे हैं। कुछ भारतीय फैंस अब स्टेडियम से बाहर जा रहे हैं। वे धोनी को शॉट्स खेलते हुए देखना चाहते हैं। धोनी को बड़े शॉट खेलना चाहिए भले ही कैच आउट हो जाएं।

इसके बाद सौरव गांगुली ने कहा ' मेरे पास इसका कोई जवाब नहीं है। एक-एक रन क्यों लिए जा रहे हैं, मुझे समझ नहीं आ रहा है। 338 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए आप 5 विकेट बचाकर नहीं रख सकते, आपको बड़े शॉट्स खेलने ही होंगे। गेंद कहीं भी जाए आपको बड़े शॉट्स खेलने की कोशिश जरूर करनी चाहिए।

सौरव गांगुली ने मैच के बाद भी कहा कि पहले 10 ओवर और आखिरी के 6 ओवरों में उतनी तेजी से रन नहीं बने, जितने बनने चाहिए थे। अगर भारतीय टीम 300 रन पर ऑल आउट हो जाती तो मैं ज्यादा खुश होता लेकिन विकेट बचाकर रखने से क्या फायदा।

गौरतलब है कि बर्मिंघम में खेले गए मैच में इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 337 रन बनाए, जवाब में भारतीय टीम 5 विकेट के नुकसान पर 306 रन ही बना पाई। आखिर के ओवरो में जिस तरह से धोनी और जाधव ने बल्लेबाजी की, उससे काफी सवाल खड़े हो रहे हैं।

Hindi Cricket Newsसभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

Modified 20 Dec 2019, 23:39 IST
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...