Create

वर्ल्ड कप 2019: तीन ऐसे कारण जिनकी वजह से वेस्टइंडीज खिताब जीतने की प्रबल दावेदार है

Ankit
E4जय

वेस्टइंडीज आईसीसी विश्व कप की दो बार की चैंपियन है। उनका पहला खिताब 1975 के उद्घाटन संस्करण में आया और उन्होंने 1979 में दूसरा खिताब अपने नाम किया। ये दोनों खिताब उन्होंने कप्तान क्लाइव लॉयड और सर विव रिचर्ड्स की कप्तानी में वेस्टइंडीज की टीम ने जीता था

भारत के खिलाफ वेस्टइंडीज अपना तीसरा विश्वकप खिताब जीतने से चूक गयी थी। 1983 में खेले गए फाइनल मैच में भारत ने वेस्टइंडीज को हराया था। उस पूरे दौर में वेस्टइंडीज टीम का वर्चस्व हुआ करता था, हालाँकि आज की कहानी कुछ और है। वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड और उनके खिलाड़ियों के बीच विवाद किसी से छिपा नहीं है। यहाँ तक कि टीम के सीनियर खिलाड़ी भी इस विवाद से अछूते नही रहे हैं।

इस समय प्रत्येक टीम विश्वकप को ध्यान में रखते हुए अपनी तैयारी कर रही है। वेस्टइंडीज के दिग्गज खिलाड़ी क्रिस गेल का यह आखिरी विश्वकप है। विंडीज़ टीम विश्वकप जीतकर उनका सम्मान करना चाहेगी।

अब बात करते हैं उन तीन पहलुओं की जिनके कारण वेस्टइंडीज विश्वकप जीत सकती है:

#3 'लीडिंग फ्रॉम द फ्रंट' कप्तान जेसन होल्डर

Eछह

जेसन होल्डर ने वेस्टइंडीज़ की कप्तानी एक कठिन दौर में कई है। विपरीत परिस्थितियों में भी उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया है। वह निश्चित ही विश्वकप में भी अपनी कप्तानी से प्रभावित करने वाले हैं।

पिछले विश्वकप से ठीक पहले जनवरी 2015 में होल्डर वेस्ट इंडीज के लिए सबसे कम उम्र के कप्तान बने। उन्होंने वेस्ट इंडीज की एक युवा टीम का नेतृत्व किया। विश्वकप 2015 में उनकी अगुवाई में विंडीज़ टीम क्वार्टर फाइनल तक पहुँची थी और नॉकआउट मुकाबले में न्यूज़ीलैण्ड से हार कर बाहर हो गयी थी। उन्हें 4 सितंबर 2015 को टेस्ट कप्तान नियुक्त किया गया।

वेस्टइंडीज की टीम युवा खिलाड़ियों के साथ भी अच्छी नजर आ रही है। यह देखना दिलचस्प होगा कि कप्तान अपने युवा खिलाड़ियों का किस प्रकार से उपयोग कर पाते हैं।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं।

#2 क्रिस गेल फैक्टर

Eवज

क्रिस गेल एक अलग स्तर के विस्फोटक बल्लेबाज हैं। वह इस प्रकार से बल्लेबाजी करते हैं कि मानो वेस्टइंडीज टीम के सारे रन उन्होंने अकेले ही बनाने हो। बड़े से बड़ा गेंदबाज क्रिस गेल के सामने गेंदबाजी करने में जरुर घबराता होगा।

आगामी विश्वकप 2019 क्रिस गेल का आखिरी विश्वकप रहने वाला है। जिस प्रकार की उनकी हालिया फॉर्म रही है, उससे यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि वह इस विश्वकप में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहेंगें। हाल ही में इंग्लैण्ड के खिलाफ खेली श्रृंखला में उन्होंने जमकर रन बनाए हैं।

खुद को यूनिवर्स बॉस कहने वाले गेल ने इंग्लैंड के खिलाफ कई रिकॉर्ड अपने नाम किये। उन्होंने वनडे क्रिकेट में अपने दस हजार रन पूरे किए। ऐसा कारनामा करने वाले गेल दुनिया के 14 वें और वेस्टइंडीज के दूसरे बल्लेबाज बने। दस हजार रन पूरा करने वाले गेल सबसे उम्रदराज खिलाड़ी बने। गेल ने इस द्विपक्षीय सीरीज में रिकॉर्ड 39 छक्के जड़कर अपने इरादे स्पष्ट कर दिए हैं।

#1 पावर हिटर और दमदार पेस अटैक

Enter caption

वेस्टइंडीज की टीम दुनिया भर में अपनी आक्रामक बल्लेबाजी के लिए जानी जाती है। पिछले कुछ वर्षों में टीम की रैंकिंग जरूर गिरी है मगर उनकी बल्लेबाजी की शैली में कोई बदलाव नहीं आया है।

वर्तमान समय में भी, इस टीम में कई आक्रामक बल्लेबाज हैं। एविन लुईस, शाई होप, शिमरोन हिटमायर और डेरेन ब्रावो जैसे युवा बल्लेबाज,अनुभवी क्रिस गेल के साथ मजबूत बल्लेबाजी क्रम बनाते हैं। जहाँ एक तरफ हिटमायर और एविन लुइस विस्फोटक बल्लेबाज हैं वहीं दूसरी तरफ शाई होप और डेरेन ब्रावो सम्भलकर बल्लेबाजी करते हैं। टीम में कार्लोस ब्रेथवेट और आंद्रे रसेल जैसे ऑलराउंडर भी मौजूद है जो अपनी धाकड़ बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं।

इसके अलावा लंबे समय के बाद, वेस्टइंडीज के पास एक अच्छा पेस अटैक है। अनुभवी जेसन होल्डर की अगुवाई में केमार रोच, शैनन गेब्रियल, शेल्डन कॉटरेल और ओशेन थॉमस जैसे गेंदबाज हैं। केमार रोच और ओशेन थॉमस अपनी गति से किसी भी बल्लेबाज को चौका सकते हैं।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाईलाइटस और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment