Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

दस में से आठ मौकों पर काम आता है धोनी का अनुभव: विराट कोहली

Richa Gupta
ANALYST
न्यूज़
1.97K   //    Timeless

कोहली-धोनी
कोहली-धोनी

भारत ने विश्वकप के अपने छठवें मुकाबले में वेस्टइंडीज को 125 रनों से हराकर अंक तालिका में दूसरा स्थान हासिल कर लिया है। भले ही टीम की बल्लेबाजी अफगानिस्तान के मैच की तरह इस बार भी डामाडोल नजर आई हो लेकिन जीत मिलने से कप्तान विराट कोहली खुश हैं। उन्होंने महेंद्र सिंह धोनी की तारीफ करते हुए कहा कि हमें जब भी रनों की जररूत पड़ी है, तब माही ने रन बनाए हैं। दस में से आठ मौकों पर उनका अनुभव टीम के काम आता है।

टूर्नामेंट में लगातार पांचवीं जीत हासिन करने के बाद उत्साहित नजर आ रहे विराट कोहली ने कहा कि मैं बल्लेबाजों से शिकायत नहीं कर सकता हूं। उनको अपनी मजबूती और कमजोरी के हिसाब से तालमेल बैठाकर पिच के मुताबिक खेलना होगा। हम आईसीसी की वनडे रैंकिंग में नंबर एक पर पहुंच गए हैं। हम पिछले काफी समय से ऐसा ही खेल रहे हैं। बल्लेबाजी में देखें तो पिछले दो मैचों से संघर्ष करना पड़ रहा है लेकिन फिर भी हमने जीत हासिल की है। यह मेरे लिए संतोषजनक है। अपनी बात करूं तो मुझे तेजी से परिस्थितियों का आंकलन करके बल्लेबाजी करना पसंद है और यही मेरा मजबूत पक्ष है। मेरे 70 प्रतिशत रन सिंगल-डबल से आए हैं। इस तरह रन बनाना हमेशा बेहतर होता है।

धोनी के बारे में कप्तान ने कहा कि उन्हें पता है कि मैदान पर क्या करना चाहिए। उनका जब बुरा दिन होता है तो हर कोई आलोचना करने लगता है लेकिन हमने धोनी का हमेशा समर्थन किया है। उनकी अच्छी बात यह है कि जब भी उनसे रनों की जरूरत होती है तो वह आपको दिला देते हैं। उनका अनुभव दस में से आठ बार हमारे काम आता है। हार्दिक पांड्या और धोनी ने आखिरी में अच्छी पारी खेली थी। इन दोनों की मदद से ही हम 269 रनों का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा कर पाए। इस तरह की पिच पर इतना स्कोर विपक्षी टीम को हराने के लिए काफी होता है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

Tags:
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...