आईपीएल में केकेआर द्वारा चुने जाने का पाकिस्तानी खिलाड़ी ने साझा किया दिलचस्प किस्सा

यासिर अराफात ने आईपीएल में साइन किये जाने का किस्सा बताया
यासिर अराफात ने आईपीएल में साइन किये जाने का किस्सा बताया

पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज यासिर अराफात (Yasir Arafat) ने खुलासा करते हुए बताया कि किस तरह उन्हें आईपीएल (IPL) 2009 से पहले कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) की टीम द्वारा कॉन्ट्रैक्ट मिला था। हालाँकि गेंदबाज ने तब विश्वास नहीं किया था कि टीम के मालिक शाहरुख़ खान (Shahrukh Khan) ने खास तौर पर स्काउटिंग टीम के द्वारा उनके लिए कॉन्ट्रैक्ट भेजा है।

जब अराफात कोलकाता नाइट राइडर्स में शामिल हुए, तो वह उमर गुल, मोहम्मद हफीज, शोएब अख्तर और सलमान बट के साथ फ्रेंचाइजी में शामिल होने वाले पांचवें पाकिस्तानी खिलाड़ी बन गए। 40 वर्षीय ने कहा कि शाहरुख खान फ्रेंचाइजी में शामिल होने के कारणों में से एक थे।

हाल ही में क्रिकेट डेन के यूट्यूब चैनल पर बातचीत के दौरान तेज गेंदबाज ने खुलासा किया कि जब वह 2008 में केंट के लिए काउंटी क्रिकेट खेल रहे थे तब केकेकार की स्काउट टीम ने उनसे मुलाकात की थी। हालाँकि तब उन्हें यह मजाक लगा था जैसा कि क्रिकेट पाकिस्तान की खबर में बताया गया है। उन्होंने कहा,

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने पहले संस्करण के लिए नामों का चयन किया था और दुर्भाग्य से, मेरा नाम नहीं था और नहीं खेल सका था। मैं 2008 में केंट के लिए काउंटी क्रिकेट खेल रहा था जहां केकेआर की स्काउटिंग टीम विशेष रूप से भारत से आई थी और वे मुझसे एक मैच के दौरान मिले थे।
उन्होंने खुलासा किया कि शाहरुख खान चाहते हैं कि मैं उनकी टीम की तरफ से खेलूं। शुरू में, मुझे लगा कि यह एक मजाक है कि शाहरुख कॉन्ट्रैक्ट के बारे में बात करने के लिए किसी को क्यों भेजेंगे। उन्होंने मुझे एक कार्ड भी दिया और मेरी कांटेक्ट डिटेल्स ली।

हालाँकि भारत और पाकिस्तान के बीच खराब रिश्तों की वजह से यह डील फाइनल नहीं हुई और 2008 के सीजन के बाद से आईपीएल में पाकिस्तानी खिलाड़ियों को बैन कर दिया गया।

शाहरुख खान ने लंदन में किसी के जरिए मेरा कॉन्ट्रैक्ट लिया - यासिर अराफात

अराफात ने आगे बताया कि उन्हें एक ईमेल भी मिला, जिसमें उनसे पूछा गया कि उन्होंने केकेआर के ऑफर को स्वीकार क्यों नहीं किया और इसी सिलसिले में शाहरुख़ खान ने उन्हें कॉल भी किया था। तेज गेंदबाज ने कहा,

कुछ सप्ताह बाद, मुझे एक ईमेल प्राप्त हुआ जिसमें उन्होंने कांटेक्ट न करने की शिकायत की और चर्चा स्थगित कर दी गई। उन्होंने मुझे फिर से तीन साल के कॉन्ट्रैक्ट की पेशकश की जहां शाहरुख ने खुद फोन किया और मेरा स्वागत किया। उन्होंने संयुक्त राज्य अमेरिका की यात्रा के दौरान लंदन में किसी के माध्यम से मेरा कॉन्ट्रैक्ट भी लिया। फिर मुंबई में धमाका हुआ और पाकिस्तानी खिलाड़ी फिर कभी प्रतियोगिता का हिस्सा नहीं बन पाए।

यासिर अराफात का पाकिस्तान के लिए छोटा करियर ही रहा। उन्होंने तीन टेस्ट, 11 वनडे और 13 टी20 मैचों में अपने देश का प्रतिनिधित्व किया।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar