Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

क्रिकेट स्पेशल: तुम चैंपियन नहीं बन सकते अम्बाती रायडू

अम्बाती रायडू ने अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास लिया
अम्बाती रायडू ने अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लिया
Ankit Pasbola
ANALYST
Modified 04 Jul 2019, 12:08 IST
फ़ीचर
Advertisement

भारत के मध्यक्रम के बल्लेबाज अम्बाती रायडू ने खेल के सभी प्रारूपों से संन्यास का ऐलान किया है। दायें हाथ के बल्लेबाज रायडू विश्व कप में जगह बनाने में असफल हुए थे। विश्व कप के दौरान शिखर धवन और विजय शंकर के चोटिल होने के बावजूद भी उन्हें मौका नहीं मिल सका। उनका यह फैसला बड़ा चौंकाने वाला रहा।

एकदिवसीय मैचों में है उम्दा औसत

अम्बाती रायडू ने भारत के लिए 55 एकदिवसीय मैच खेले। इस दौरान उन्होंने 47.06 की उम्दा औसत से 1694 रन बनाए हैं। इस बीच रायडू ने 3 शतक व 13 अर्द्धशतक भी अपने नाम किये। निश्चित ही उनके सीमित अंतर्राष्ट्रीय करियर में आंकड़े चौंकाने वाले हैं।

हर खिलाडी के करियर में उतार-चढ़ाव आते हैं, मगर जो चुनौतियों का सामना करते हैं वही चैंपियन बन पाते हैं। कुछ बातें रायडू अपने साथी खिलाड़ियों से सीख लेते तो शायद विशेष बन पाते।

विश्व कप 2011 में टीम में नहीं चुने जाने से दुखी थे रोहित

रोहित शर्मा इस विश्व कप में 4 शतक लगा चुके हैं और इस समय सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। साल 2011 विश्व कप में रोहित भारतीय टीम में नहीं चुने गए थे। वह काफी निराश थे। वह रूके नहीं बल्कि आगे बढ़े। मौजूदा समय में वह सबसे बेहतरीन सलामी बल्लेबाज हैं।

रोहित शर्मा ने रिकॉर्ड तीन दोहरे शतक लगाए हैं, जो कि अद्भुत है। अगर रोहित भी 2011 में थम जाते, ठहर जाते या हार मान लेते तो क्या उस मुकाम तक पहुंच पाते ?

दिनेश कार्तिक ने 15 साल बाद किया अपना विश्व कप डेब्यू

33 वर्षीय अम्बाती रायडू के ही समकालिक दिनेश कार्तिक का अंतर्राष्ट्रीय करियर उनके सामने सब्र की जीवित मिसाल है। विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक का अंतर्राष्ट्रीय करियर उतार-चढ़ाव भरा रहा।

दिनेश कार्तिक ने साल 2004 में अपना अंतर्राष्ट्रीय पर्दापण किया था और तीन साल बाद ही विश्व कप 2007 में उन्हें 15 सदस्यीय टीम में चुना गया। हालांकि, उन्हें विश्व कप में प्लेइंग इलेवन में मौका नहीं मिला। इसके बाद साल 2011 और साल 2015 विश्व कप में कार्तिक अपनी जगह नहीं बना सके। मगर वह ठहरे नहीं चलते गए। विकेकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक ने अपने अंतर्राष्ट्रीय पर्दापण के 15 साल बाद विश्व कप में पहला मैच खेला।

Advertisement

बीते साल, करियर और उम्र की ढलान पर कार्तिक ने निदहास ट्रॉफी में ऐतिहासिक पारी खेली और खुद को इस रेस में बनाये रखा। दिनेश कार्तिक के पास तो हार मानने कई कारण थे मगर उन्होंने आगे बढ़ने की हिम्मत दिखाई। भले ही अम्बाती रायडू के आंकड़े दिनेश कार्तिक से कही बेहतर हो, मगर चुनौतियों का सामना करने में कार्तिक आगे होंगे।

यह भी पढ़ें:अंबाती रायडू को आइसलैंड की नागरिकता का ऑफर, भारतीय टीम में ना चुने जाने को लेकर किया गया ट्वीट

तुम चैंपियन नहीं बन सकते रायडू...

तुम्हारे करियर पर सवाल खड़ा करना बेवकूफी होगा क्योंकि तुम्हारे आंकड़े तुम्हारी प्रतिभा की कहानी बयां करते हैं। हालाँकि, तुम्हारे अचानक से लिए इस फैसले से धैर्य और जीवटता में प्रश्न चिह्न लगना लाजमी है।

हर अंधेरा छटता है, हर बुरा समय का अंत होता है। मगर तुम्हें शायद रात ही पसंद है रायडू इसीलिए तुम अँधेरे में ही ठहर गए। तुम अच्छे खिलाड़ी तो हो मगर चैंपियन नहीं बन सकते रायडू.....कभी नहीं बन सकते।

Hindi Cricket Newsसभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं ।

Published 04 Jul 2019, 12:08 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit