Hindi Cricket News - युवराज सिंह ने भारतीय टीम के सीनियर खिलाड़ियों को लेकर बड़ा खुलासा किया

युवराज सिंह
युवराज सिंह

युवराज सिंह की गिनती भारतीय टीम के सबसे तेज तर्रार बाएं हाथ के बल्लेबाजों में से होती है। युवराज सिंह मैदान पर एक फाइटर हैं, लेकिन ड्रेसिंग रूम में उन्हें काफी शरारती माना जाता था, जो अपने साथियों के साथ काफी मस्ती करता था। हालांकि, युवराज हमेशा बचकर नहीं निकले और कई बार उन्हें सीनियर्स ने मैदान पर डांटा भी है।

स्पोर्टस्टार को दिए इंटरव्यू में युवराज सिंह ने इस बात का खुलासा किया है कि उन्हें और कैफ को कई बार मैदान पर कुंबले ने डांटा था। युवराज सिंह ने खुलासा करते हुए कहा,"मुझे बहुत डांटा गया था। राहुल द्रविड़ और वेंकटेश प्रसाद ने मुझे डांटा। मुझे और कैफ को कई बार कुंबले ने मैदान पर डांटा था, लेकिन हमने इसे स्वीकार किया, सीखा और सुधार किया।"

युवराज सिंह ने अपने करियर के शुरुआती दिनों को याद करते हुए कहा,"मैंने साल 2000 में शुरुआत की थी, तब कोई आईपीएल नहीं था। मैं अपने आदर्श खिलाड़ियों को टीवी पर देखता था और अचानक ही मुझे उनके साथ बैठने का मौका मिल गया। मेरे मन में उनके लिए बहुत सम्मान है और मैंने उनसे सीखा कि मीडिया से किस तरह बात करनी चाहिए। आपका व्यवहार कैसा होना चाहिए।"

ये भी पढ़ें - IPL में अगर सिर्फ भारतीय खिलाड़ी खेलेंगे, तो क्या हो सकती है सभी टीमों की संभावित प्लेइंग इलेवन

इस इंटरव्यू में युवराज सिंह ने खुलासा किया कि उन्हें बतौर कप्तान सौरव गांगुली से जितना सपोर्ट मिला उतना धोनी या कोहली से उतना सपोर्ट नहीं मिला। युवराज सिंह ने कहा,"मैंने सौरव गांगुली के साथ क्रिकेट खेला और उन्होंने मुझे बहुत सपोर्ट किया। इसके बाद महेंद्र सिंह धोनी कप्तान बने। धोनी और सौरव में से चुनाव करना मुश्किल सवाल है, लेकिन जिस तरह से सौरव गांगुली ने मेरा साथ दिया, उसकी वजह से उनके साथ मेरी ज्यादा यादें जुड़ी हैं। मुझे नहीं लगता कि धोनी और विराट कोहली से मुझे ऐसा सपोर्ट मिला।"

Quick Links

App download animated image Get the free App now