Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

Euro 2016: पोलैंड ने स्विट्जरलैंड और वेल्स ने उत्तरी आयरलैंड को मात दी

Pritam Sharma
ANALYST
Modified 11 Oct 2018, 13:26 IST
Advertisement
सेंट इटिने (फ्रांस), 25 जून (आईएएनएस)। पोलैंड ने शनिवार को यूरो फुटबाल चैम्पियनशिप के मुकाबले में स्विट्जरलैंड 5-4 से हराकर पहली बार इस टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली है। मैच का पहला गोल पोलैंड के जाकुब ब्लास्कोव्सकी ने 39वें मिनट में किया, लेकिन 82वें मिनट में स्विट्जरलैंड की शेड्रान शकिरी ने गोल कर स्कोर बराबर कर दिया। मैच बराबरी पर छूटने के कारण फैसला पेनाल्टी के जरिए निकाला गया। स्विट्जरलैंड के स्टार मिडफील्डर ग्रानिट खाका इकलौते ऐसे खिलाड़ी थे जो पेनाल्टी को गोल में नहीं बदल पाए। टीम की तरफ से कप्तान स्टेफन लिक्सटेनर, शकिरी, फाबियान श्चार और रिकाडरे रोड्रिग्वेज ने गोल किए। लेकिन खाका की किक गोलपोस्ट से बाहर रह गई। पोलैंड के लिए कप्तान रॉबर्ट लेवांडोव्स्की, अर्काडिस्ज मिलिक, कामिल गिलिक, ब्लास्कोव्सकी और ग्रजगोर्ज क्रायचोविएक ने गोल किए। 30 जून को होने वाले क्वार्टर फाइनल में पोलैंड का सामना क्रोएशिया या पुर्तगाल से होगा। पौलेंड की टीम मैच की शुरुआत से ही अच्छा खेल रही थी। पहले मिनट में ही वह एक गोल से आगे हो सकती थी, लेकिन किस्मत ने उसका साथ नहीं दिया। लेवांडोव्स्की के शॉट को गोलकीपर ने नकार दिया था लेकिन मिलिक ने दोबारा गेंद को गोलपोस्ट मे पहुंचाना चाहा, लेकिन असफल रहे। मिलिक ने इसके बाद भी कई मौके बनाए लेकिन सफलता उनसे दूर रही। पहले हाफ के अंत में स्विट्जरलैंड की टीम ने वापसी की और कुछ प्रहार करे, लेकिन वो भी गोल नहीं कर पाई। हालांकि पोलैंड की मेहनत रंग लाई और 39वें मिनट में ब्लास्कोव्सकी ने टीम को सफलता दिलाई। ग्रोसिकी ने ब्लास्कोव्सकी को बाएं तरफ से पास दिया जिसे उन्होंने आसानी से गोलपोस्ट में डाल दिया। एक गोल से पीछे चल रही स्विट्जरलैंड की टीम दूसरे हाफ में आक्रामक खेल खेलने के इरादे से उतरी थी। खाहा ने 51वें मिनट पर गोलपोस्ट पर निशाना दागा लेकिन पोलैंड के गोलकीफर फाबिआनस्की ने गोल नहीं होने दिया। फाबिआनस्की ने 73वें मिनट में भी स्विट्जरलैंड को गोल करने से रोका। लेकिन 82वें मिनट में अखिरकार शाकिरी ने स्विट्जरलैंड को बराबरी कर दी। सेफेरोविक और इरेन डेरडियोक ने मिलकर गेंद को आगे पहुंचाया और शाकिरी को पास दिया जिन्होंने इस बार फाबिआनस्की को मात देने में कोई गलती नहीं की और गेंद को गोलपोस्ट में डाल टीम को बराबरी पर ला खड़ा किया। यह गोल मैच को अतिरिक्त समय में ले जाने के लिए काफी था, लेकिन फैसला वहां भी नहीं निकला। अंत में पेनाल्टी के जरिए मैच का फैसला निकाला गया। वहीं कल खेले गए एक और मुकाबले में उत्तरी आयरलैंड को अपनी ही टीम की ओर से की गई गलती का खामियाजा भुगतना पड़ा। मुकाबले के पहले हाफ में दोनों टीमों की ओर से गोल दागकर बढ़त बनाने का संघर्ष चलता रहा, लेकिन मध्यांतर तक यह जद्दोजहद चलती रही और एक भी गोल नहीं हुआ। मध्यांतर के बाद एक बार फिर दोनों टीमें क्वार्टर फाइनल में पहुंचने के लक्ष्य के साथ मैदान पर उतरीं। मुकाबले के 75वें मिनट में कुछ ऐसा हुआ, जो उत्तरी आयरलैंड और वेल्स दोनों ही टीमों की उम्मीद से बाहर था। उत्तरी आयरलैंड के खिलाड़ी गारेथ मेकुले ने अपनी ही टीम के नेट पर गोल कर दिया, जिसके कारण वेल्स को मुकाबले में 1-0 की बढ़त मिल गई। मेकुले की इस गलती का खामियाजा टीम को अपनी हार के रूप में चुकाना पड़ा और वेल्स ने जीत हासिल कर यूरो 2016 के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश पा लिया। --आईएएनएस Published 25 Jun 2016, 22:46 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit