Create
Notifications

लिवरपूल बनी FA कप चैंपियन, शूटआउट में चेल्सी को हराया

लिवरपूल ने आठवीं बार FA कप का खिताब जीतने में कामयाबी हासिल की।
लिवरपूल ने आठवीं बार FA कप का खिताब जीतने में कामयाबी हासिल की।
Hemlata Pandey

लिवरपूल फुटबॉल क्लब ने FA कप का खिताब जीत लिया है। वेम्बली स्टेडियम में खेले गए फाइनल मुकाबले में दोनों टीमें फुल टाइम और इसके बाद एक्स्ट्रा टाइम तक कोई गोल नहीं किया। इसके बाद लिवरपूल ने चेल्सी को पेनेल्टी शूटआउट में 6-5 से हराते हुए आठवीं बार टाइटल अपने नाम किया। 5 शॉट्स के बाद दोनों टीमों का शूटआउट स्कोर 4-4 था और फिर सडन डेथ में लिवरपूल के लिए कोस्तास सिमिकास ने गोल करते हुए टीम को जीत दिलाई। इससे ठीक पहले टीम के गोलकीपर ऐलिसन बेकर ने चेल्सी के मेसन माउंट का गोल रोका और लिवरपूल को बेहतर स्थिति में पहुंचा दिया।

The Wembley Wizards. https://t.co/Qxk4rMmXdC

लिवरपूल पहले ही चैंपियंस लीग के फाइनल में पहुंच चुकी है और इंग्लिश प्रीमियर लीग में भी सिर्फ 3 नंबर के अंतर से लीग टेबल टॉपर मैनचेस्टर सिटी से पीछे दूसरे नंबर पर है। टीम ने फरवरी में ही चेल्सी को हराकर कारबारो कप जीता था और अब ये दूसरी ट्रॉफी भी चेल्सी को हराकर जीत ली है। वहीं चेल्सी लगातार तीसरी बार एफए कप का फाइनल हारी है। 2019 में आर्सेनल ने चेल्सी को फाइनल में 2-1 से हराया था जबकि पिछले साल चेल्सी को लाइचेस्टर सिटी के खिलाफ 1-0 से हार मिली थी और अब लिवरपूल के सामने टीम शूटआउट में परास्त हो गई। FA कप इतिहास में ये चेल्सी की खिताबी मुकाबले में आठवीं हार है।

Jurgen Klopp has now won every trophy there is to offer at @LFC 🏆🏆🏆🏆🏆🏆 https://t.co/RLYydfyhHw

मैच के बाद चेल्सी के सभी खिलाड़ी, फैंस और सपोर्ट स्टाफ काफी निराश थे। टीम के लिए हाल के कुछ महीने कुछ ज्यादा खास नहीं रहे हैं। चैंपियंस लीग के क्वार्टरफाइनल में गत चैंपियन चेल्सी को आखिरी मिनटों में रियाल मेड्रिड के हाथों हार मिली, टीम इंग्लिश प्रीमियर लीग के इस सीजन में एक समय लीग टेबल में टॉप पर थी लेकिन खराब प्रदर्शन के कारण अब टीम तीसरे स्थान पर ये सीजन खत्म करने की कगार पर है। FA कप फाइनल में हार के बाद टीम के मैनेजर टुचेल ने भी माना कि उन्हें टीम की जीत की उम्मीद थी।

To a man, we gave it everything. We are Chelsea, we'll be back. 💛 https://t.co/27JWDFXV1Z

FA कप इंग्लिश फुटबॉल क्लबों के बीच हर साल होने वाला नॉकआउट टूर्नामेंट है और इस बार प्रतियोगिता का 150वां साल है। 1871-72 में शुरु हुई ये दुनिया की सबसे पुरानी फुटबॉल चैंपियनशिप है। आर्सेनल ने सबसे ज्यादा 14 बार इस ट्रॉफी को अपने नाम किया है।


Edited by Prashant Kumar

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...