Create

भारतीय महिला टीम को फुटबॉल दोस्‍ताना मैच में बेलारूस के हाथों झेलनी पड़ी शिकस्‍त

भारत बनाम बेलारूस
भारत बनाम बेलारूस
Vivek Goel

भारतीय महिला फुटबॉल टीम को गुरुवार को अपने दूसरे अंतरराष्‍ट्रीय फुटबॉल दोस्‍ताना मुकाबले में बेलारूस के हाथों 1-2 की शिकस्‍त झेलनी पड़ी। जहां दोनों टीमों ने पहला हाफ बराबरी का खेला, वहीं बेलारूस ने 66वें मिनट में शुप्‍पो नसतासिया द्वारा पेनल्‍टी को गोल में तब्‍दील करके बढ़त बनाई। इसके बाद 78वें मिनट में फिलिपेंका हाना ने उनकी बढ़त दोगुनी की। भारत की संगीता बासफोड़े ने अतिरिक्‍त समय में एक गोल दागकर अंतर कम किया।

उज्‍बेकिस्‍तान के खिलाफ बेहतर प्रदर्शन के बाद भारत ने दूसरे मुकाबले में धमाकेदार शुरूआत की और तीसरे ही मिनट में उसके पास बढ़त हासिल करने का मौका आया था जब सौम्‍या गुगुलोठ ने बॉक्‍स के बाहर से दमदार किक जमाया। स्‍ट्राइकर प्‍यारी जाजा ने रीबाउंड पर हेडर जमाया, लेकिन उनके प्रयास से गेंद गोलपोस्‍ट के ऊपर से चली गई।

दाएं फुलबैक पर खेल रही अंजू तमांग ने कई बार शानदार प्रदर्शन करते हुए विरोधी खेमे में खलबली मचाई। अंजू तमांग ने ने सिर्फ आक्रमण करने में मदद की बल्कि फुलबैक पर रहते हुए कई महत्‍वपूर्ण ब्‍लॉक करके भी अपना जलवा दिखाया।

25वें मिनट में मनीषा ने बेलारूस के कई डिफेंडर्स को छकाया और विरोधी क्षेत्र में अपना रास्‍ता बनाया, लेकिन उन्‍हें एक डिफेंडर ने धक्‍का देकर गेंद से दूर कर दिया। हालांकि, रेफरी ने मैच जारी रखने का निर्देश दिया। कुछ मिनटों बाद बेलारूस के पास गोल करने का शानदार मौका आया जब मिडफील्‍डर पिलिपेंका हाना ने गोल की तरफ अपनी राह बनाई। हाना ने भारतीय गोलकीपर के पास से गेंद निकाली, लेकिन भारत की डिफेंडर रंजना चानू ने शानदार बचाव करके खतरा टाला। भारत की हेड को मेमोल रॉकी ने अनुभवी डिफेंडर आशालता देवी को पहले हाफ के अंत में वापस बुलाया और उनकी जगह सौम्‍या को उतारा।

भारत-बेलारूस में हुई कड़ी जंग

हाफटाइम के बाद बेलारूस ने जल्‍द ही भारतीय जाली में गेंद भेद दी, लेकिन रेफरी ने व्‍हसिल बजाई और कहा कि उनका एक खिलाड़ी ऑफसाइड पर था। भारत ने भी दूसरे हाफ में खुद को सेटल किया। एक घंटा पूरा होने के बाद मनीषा कल्‍याण ने बाएं फ्लैंक से विरोधी खेमे में दाखिला लिया और नीचा क्रॉस जमाया।

हालांकि, इस पर स्‍ट्राइकर प्‍यारी जाजा का प्रयास खराब गया और गोल करने का मौका गंवा दिया गया। कुछ मिनटों बाद बेलारूस को पेनल्‍टी मिली क्‍योंकि भारतीय बॉक्‍स में उनके स्‍ट्राइकर पर हमला हुआ। शुप्‍पो नसतासिया ने अदिति चौहान के बाएं तरफ से गेंद को जाली में भेदकर बेलारूस को 1-0 की बढ़त दिला दी।

10 मिनट बाद ही पिलिपेंका हाना ने भारतीय पेनल्‍टी बॉक्‍स में दाखिल होते हुए कीपर के दाएं तरफ गोल दागकर बेलारूस को 2-0 की बढ़त दिलाई। मैच समाप्‍त होने में करीब पांच मिनट बचे थे तब भारत को फ्री किक मिला। संगीता बासफोड़े का यह प्रयास विफल हो गया। इसके बाद अतिरिक्‍त समय में 30 यार्ड की दूरी से संगीता ने एक और प्रयास करके गोल दागा।


Edited by Vivek Goel

Comments

Fetching more content...