Create

चैंपियंस लीग : जानिए कैसे इस सीजन की 'Comeback King' बनी रियाल मेड्रिड की टीम

रियाल मेड्रिड रिकॉर्ड 17वीं बार लीग के फाइनल में पहुंची है।
रियाल मेड्रिड रिकॉर्ड 17वीं बार लीग के फाइनल में पहुंची है।

सोचिए कि आपकी फेवरेट टीम एक अहम फुटबॉल मैच में 2 गोल से पीछे चल रही हो और मैच के 89 मिनट पूरे हो गए हों। ऐसे में अगर आप स्टेडियम में मौजूद हैं तो शायद निराशा के साथ घर जाने की सोचेंगे। कुछ ऐसा ही रियाल मेड्रिड के कई फैंस ने मैनचेस्टर सिटी के साथ चैंपियंस लीग के सेमीफाइनल में दूसरे लेग के मैच के दौरान किया। लेकिन अगले ही एक मिनट के अंदर रियाल के लिए रोद्रिगो ने एक के बाद एक 2 गोल किए और मैच में टीम की वापसी करवा दी।

A moment of silence for those Real Madrid fans who left the stadium in the 89th minute😭😭😭 https://t.co/mkyPoM6Hwt

ये वापसी इतनी जोरदार थी कि जो दर्शक स्टेडियम से बाहर आ गए थे वो एक मिनट बाद ही स्टेडियम के अंदर जाने के लिए दौड़ते दिखे। इतना ही नहीं, इसके 5 मिनट बाद करीम बेंजेमा ने पेनेल्टी को गोल में बदला और एक हारा हुआ मैच रियाल की टीम ने जीत में बदल दिया। इस जीत में टीम के गोलकीपर थीबॉ कूरटोई ने बेहद अहम भूमिका निभाई और चेल्सी के कई प्रयासों को नाकाम किया।

What a reaction from . Madrid fans after Benzema 's scored 👀 .. WHAT A GAME ,WHAT A GOAL Big Benz,🔥#HalaMadrid #ChampionsLeague #RealMadrid #RealMadridManCity https://t.co/BBuMDGI1ND

सबसे ज्यादा 13 बार चैंपियंस लीग जीतने वाली रियाल मेड्रिड ने इस सीजन नॉकआउट के दौर में जिस तरह आखिरी मिनटों में वापसी करते हुए जीत दर्ज की है उसके बाद टीम को इस सीजन की Comback King कहना गलत नहीं होगा। और इसका सबसे बड़ा श्रेय जाता है टीम के अनुभवी फॉरवर्ड करीम बेंजेमा को जिन्होंने राउंड ऑफ 16 से लेकर सेमीफाइनल तक, हर मैच में टीम के लिए निर्णायक गोल दागा है।

बेंजेमा ने न सिर्फ मैच का निर्णायक गोल किया बल्कि रोद्रिगो को पहले गोल में असिस्ट भी किया।
बेंजेमा ने न सिर्फ मैच का निर्णायक गोल किया बल्कि रोद्रिगो को पहले गोल में असिस्ट भी किया।

ग्रुप स्टेज से कुल 16 टीमों ने नॉकआउट दौर में प्रवेश किया था। रियाल ने राउंड ऑफ 16 में पेरिस-सेंट जर्मने का सामना किया। पहले लेग के मैच में पीएसजी ने रियाल पर 1-0 की जीत दर्ज की। दूसरे लेग में अपने होम ग्राउंड में खेलते हुए रियाल की टीम पहले ही एक गोल से पीछे थी। पीएसजी के लिए पहले हाफ में एमबापे ने गोल किया और पीएसजी को एग्रीगेट में 2-0 से आगे कर दिया। मैच के 60 मिनट तक रियाल 2 गोल से पीछे थी और फैंस जानते थे कि टीम को कोई चमत्कार ही बचा सकता है। ऐसे में करीम बेंजेमा ने 61वें, 76वें और 78वें मैच में गोल करते हुए रियाल मेड्रिड को 3-2 से एग्रीगेट में जीत दिला दी। खुद रियाल के फैंस को इस प्रदर्शन पर यकीन नहीं हो रहा था।

Real Madrid fans that left early trying to get back into the Bernabeu 🤣 https://t.co/jU7Ot523Xr

राउंड ऑफ 16 के कमबैक को कई फुटबॉल विशेषज्ञों ने एक संयोग माना। इसके बाद क्वार्टरफाइनल में रियाल ने गत विजेता चेल्सी का सामना किया। पहले लेग के मैच में रियाल ने 3-1 से जीत दर्ज की। इस जीत में भी बेंजेमा ने हैट्रिक लगाई। इसके बाद दूसरे लेग में चेल्सी ने गजब खेल दिखाया और मैच के 75वें मिनट तक 3 गोल करते हुए एग्रीगेट में 4-3 की बढ़त ले ली। रियाल को मैच में वापसी करने के लिए 1 गोल और मैच जीतने के लिए 2 गोल चाहिए थे। फैंस को लगा कि चेल्सी का मजबूत डिफेंस ये होने नहीं देगा। लेकिन तब 80वें मिनट में रोद्रिगो ने गोल कर पहले तो एग्रीगेट 4-4 से बराबर करवाया। और इसके बाद 96वें मिनट में बेंजेमा ने गोल कर रियाल को एग्रीगेट में 5-4 से जीत दिलाते हुए सेमीफाइनल में पहुंचाया।

Real Madrid fans aren’t going to live long and probably die because of a heart attack for what their team does but boy they lived their lives. They have seen the light, they have seen the Magic. They are Blessed! What a time to be alive! #HalaMadrid #RMAMCI #UCL https://t.co/c4kNBgrTyF

और अब सेमीफाइनल की कहानी सभी के सामने है। रियाल मेड्रिड ने इस सीजन जिस तरह हारते-हारते मुकाबले जीते हैं, वो फुटबॉल इतिहास के कुछ बेहद बढ़िया लम्हों में से एक है। कई फुटबॉल प्रेमी तो मैनचेस्टर सिटी के साथ सेमीफाइनल के दूसरे लेग के मुकाबले को इतिहास के सर्वश्रेष्ठ क्लब फुटबॉल मैच में गिन रहे हैं। रोद्रिगो ने इस मैच में 90वें मिनट में 2 गोल किए और लीग के नॉकआउट स्टेज में 90वें मिनट में 2 गोल दागने वाले पहले खिलाड़ी बने हैं। वहीं बेंजेमा नॉकआउट स्टेज में 10 गोल दाग चुके हैं और इस मामले में वो फिलहाल क्रिस्टियानो रोनाल्डो के साथ रिकॉर्ड बराबर कर चुके हैं।

अब रियाल के फैंस की नजर लिवरपूल के साथ 28 मई को होने वाले फाइनल पर है। फाइनल मुकाबले में कोई लेग नहीं होता, सिर्फ 1 मैच खेला जाता है। ऐसे में रियाल के पास इस बार दूसरे मैच में वापसी का मौका तो नहीं होगा, लेकिन लिवरपूल पीएसजी, चेल्सी और सिटी की तरह रियाल को कम आंकने की, खासतौर पर आखिरी मिनटों में कमजोर देखने की गलती बिलकुल नहीं करेगी।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment