खेल

CWG 2018: भारत के आखिरी दिन के प्रदर्शन पर एक नज़र

भारत ने पदक तालिका में तीसरा स्थान हासिल किया, 2010 में दिल्ली में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स के बाद अभी तक का दूसरा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन

गोल्ड कोस्ट, ऑस्ट्रेलिया में कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत ने 66 पदकों के साथ अपना अभियान समाप्त किया। आखिरी दिन साइना नेहवाल ने स्वर्ण पदक जीतकर भारत के लिए 26वां स्वर्ण हासिल किया और इसके अलावा आज चार रजत और दो कांस्य पदक भी भारत के हिस्से में आये। 26 स्वर्ण, 20 रजत और 20 कांस्य के साथ भारत पदक तालिका में तीसरे स्थान पर रहा और यह 2010 में दिल्ली में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स (38 स्वर्ण, 27 रजत और 36 कांस्य = 101 पदक) के बाद भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है।

मेजबान ऑस्ट्रेलिया 198 पदक (80 स्वर्ण, 59 रजत और 59 कांस्य) के साथ पदक तालिका में पहले और इंग्लैंड 136 पदक (45 स्वर्ण, 45 रजत और 36 कांस्य) के साथ दूसरे स्थान पर रहा। कनाडा ने 66 पदकों के साथ चौथे और न्यूजीलैंड ने 46 पदकों के साथ पांचवें स्थान पर कब्ज़ा किया।


आइये नज़र डालते हैं भारत के आखिरी दिन के प्रदर्शन पर:


# बैडमिंटन 

महिला सिंगल्स के फाइनल में साइना नेहवाल ने पीवी सिन्धु को 21-18, 23-21 से हराकर स्वर्ण पदक पर कब्ज़ा किया। फाइनल में हार के कारण पीवी सिन्धु को रजत पदक से संतोष करना पड़ा।


पुरुष सिंगल्स के फाइनल में किदम्बी श्रीकांत को मलेशिया के ली चोंग वेई 19-21, 21-14, 21-14 से हराया और इस वजह से भारतीय खिलाड़ी को रजत पदक ही प्राप्त हुआ।

पुरुष डबल्स के फाइनल में सात्विकसाईंराज और चिराग शेट्टी की जोड़ी को इंग्लैंड के मार्कस एलिस और क्रिस लैंगरिज की जोड़ी ने 21-13, 21-16 से हराया और इस वजह से भारत को एक और रजत पदक से ही संतोष करना पड़ा।

# टेबल टेनिस

पुरुष सिंगल्स में अचंत शरत कमल ने इंग्लैंड के सैमुएल वॉकर को 4-1 से हराकर कांस्य पदक जीता।

मिक्स्ड डबल्स में मनिका बत्रा और साथियान गणासेकरण की जोड़ी ने अचंत शरत कमल और मौमा दास की जोड़ी को 3-0 से हराकर कांस्य पदक पर कब्ज़ा किया।

# स्क्वाश

महिला डबल्स में जोशना चिनप्पा और दीपिका पल्लिकल की जोड़ी ने रजत पदक हासिल किया। फाइनल में उन्हें न्यूजीलैंड की जोएल किंग्स और अमांडा मर्फी लैंडर्स की जोड़ी ने 2-0 से हराया।