Create
Notifications

नीम के पत्ते खाने के फायदे- neem ke patte khane ke fayde

नीम के पत्ते खाने के फायदे (फोटो: Indiamart)
नीम के पत्ते खाने के फायदे (फोटो: Indiamart)
Ritu Raj
ANALYST

नीम को चमत्कारिक जड़ी बूटी के रूप में भी जाना जाता है। इसका हर हिस्सा औषधीय उपचार में काम आता है। रक्त को साफ करने के साथ ही शरीर से किसी भी जहरीले तत्व को बाहर निकालने में नीम काफी मदद करता है। पहले के समय में दांतों के लिए नीम का दुतन ही इस्तेमाल किया जाता था। प्राचीन समय से ही हमारे पूर्वजों ने नीम के गुणों को पहचान कर कई बीमारियों को ठीक करने के लिए नीम का उपयोग करना शुरू कर दिया था। नीम एंटी कैंसर गुणों के लिए जाना जाता है.

यह मात्र एक ऐसा पेड़ है जिसके हर हिस्से का इस्तेमाल औषधि बनाने के लिए किया जाता है। इसकी छाल, पत्ते और बीज के चमत्कारिक फायदे आयुर्वेद में बताए गए हैं। कई बार, जड़, फूल और फल का भी उपयोग किया जाता है।

कैंसर से बचाता है

नीम की पत्तियां बिना किसी प्रतिकूल प्रभाव के शरीर से फ्री रेडिकल्स यानी मुक्त कणों को नष्ट करने में मदद करती हैं। नीम की पत्तियां खून को साफ करने में मदद करती हैं और ऐसे में अगर आप खाली पेट नीम की पत्तियों का सेवन करें तो कैंसर से बचने में मदद मिल सकती है। कई रिपोर्ट में यह दावा किया गया है कि, नीम की पत्तियों में मौजूदा पॉलिसैकेराइड और लिमरॉयड ट्यूमर और कैंसर को कम करते हैं और लिम्फोसाइटिक ल्यूकेमिया के खिलाफ प्रभावी माने जाते हैं। रोज सुबह खाली पेट नीम की पत्तियां खाने से स्किन कैंसर भी दूर करने में मदद करती है।

इम्यूनिटी

नीम में एंटी माइक्रोबियल, एंटीवायरल और एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होता है। सुबह खाली पेट इसकी पत्तियां चबाने से आपका इम्यून सिस्ट मजबूत तो होगा ही साथ ही रोगों से लड़ने की आपकी क्षमता को भी बेहतर बनाने में मदद करता है। इसके साथ ही खाली पेट पत्तियां खाने से फ्लू से लेकर कैंसर और हृदय रोग जैसी कई बीमारियों का खतरा कम हो सकता है।

मुंह की सफाई

नीम का दातुन या फिर इसकी पत्तियां खाने से दांत, मसूड़ों और मुंह की सभी तरह की बीमारियों को दूर रखने में मदद करता है। इसके साथ ही मुंह की सफाई भी हो जाती है। जीवाणुरोधी होने के कारण नीम की पत्तियां कीटाणुओं से लड़ती हैं, प्लाक (पट्टिका) निर्माण और मसूड़ों में संक्रमण के खिलाफ प्रभावी हैं।

पाचन

नीम की तासीर ठंडी होती है इसलिए यह पेट में एसिडिटी, सीने में जलन और पाचन से जुड़ी कई और समस्याओं से छुटकारा दिलाने में मदद करती है। रोजाना सुबह खाली पेट नीम की पत्तियां खाने से पाचन अच्छा रहता है और पेट साफ होता है।

डायबिटीज

कई सालों से, नीम की पत्तियों के अर्क का उपयोग डायबिटीज के लिए एक प्रभावी इलाज के रूप में किया जा रहा है। नीम के पत्तों का एक चम्मच रस रोज सुबह खाली पेट तीन महीने तक खाने से डायबिटीज की समस्या में सुधार हो सकता है। या फिर 10 ताजी पत्तियों का रोज सुबह सेवन करें। इसके अलावा भी नीम कई बीमारियों के इलाज में उपयोग की जाती है। फोड़ा, फुंसी, मुंह के छाले इत्यादि।


Edited by Ritu Raj
Fetching more content...
Article image

Go to article
App download animated image Get the free App now