Create
Notifications

शल्लकी के 5 फायदे- Shallaki Ke Fayde

शल्लकी के फायदे(फोटो-Sportskeeda hindi)
शल्लकी के फायदे(फोटो-Sportskeeda hindi)
Rakshita Srivastava

शल्लकी (Shallaki) एक प्रकार का गोंद है, जिसे बोसवेलिया (Boswellia) पेड़ की राल से तैयार किया जाता है। शल्लकी को लोबान के नाम से भी जाना जाता है। साथ ही शल्लकी का उपयोग सेहत को भी कई लाभ भी पहुंचाता है। क्योंकि शल्लकी औषधीय गुणों से भरपूर होता है। शल्लकी का उपयोग कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं को दूर करने में मददगार साबित होता है। क्योंकि शल्लकी में भरपूर मात्रा में विटामिंस और मिनरल्स मौजूद होते हैं। जो स्वास्थ्य के लिहाज से काफी लाभदायक साबित होते हैं। आइए जानते हैं शल्लकी के क्या-क्या फायदे होते हैं।

शल्लकी के 5 फायदे

1- शल्लकी का सेवन बुखार (Fever) की शिकायत होने पर काफी फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि अगर आप शल्लकी के चूर्ण का सेवन करते हैं, तो इससे बुखार उतर जाता है। साथ ही शल्लकी का सेवन बुखार के बाद होने वाली थकान को भी दूर करने में मददगार साबित होता है।

2- दांत दर्द (Toothache) की समस्या एक आम समस्या है। लेकिन दांत दर्द की शिकायत होने पर अगर आप शल्लकी और बबूल की गोंद को मुंह में रखकर चुसते हैं, तो इससे दांत दर्द की शिकायत दूर होती है। क्योंकि इससे मुंह में मौजूद हानिकारक बैक्टीरिया खत्म होते हैं।

3- गठिया (Arthritis) की शिकायत होने पर जोड़ों में दर्द और सजून की शिकायत हो जाती है। लेकिन गठिया की शिकायत होने पर अगर आप शल्लकी का पेस्ट बनाकर प्रभावित जगह पर लगाते हैं, तो इससे दर्द और सूजन दोनों में काफी हद तक आराम मिलता है।

4- कैंसर (Cancer) एक गंभीर बीमारी है, इसलिए इसके रोकथाम के लिए अगर आप शल्लकी का सेवन करते हैं, तो यह काफी फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि शल्लकी का सेवन कैंसर के सेल्स को पनपने से रोकने में मदद करता है।

5- सांस फूलने की शिकायत को दूर करने के लिए भी शल्लकी का सेवन काफी फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि अगर आप शल्लकी के चूर्ण में शहद मिलाकर चाटते हैं, तो इससे सांस फूलने की शिकायत दूर होती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Rakshita Srivastava

Comments

Fetching more content...