Create

सर्वाइकल की एक्सरसाइज -Cervical Ki Exercise

सर्वाइकल की एक्सरसाइज (source - google image )
सर्वाइकल की एक्सरसाइज (source - google image )

सरवाइकल का दर्द (cervical pain) अक्सर उम्र से संबंधित समस्या माना जाता है। यह दर्द आधुनिक जीवन शैली के कई नुकसानों का हिस्सा है जिसमें लंबे समय तक काम करना व पर्याप्त आराम न पाना शामिल है। ऐसे समय में जब लोग कंप्यूटर के सामने बैठने में 10 घंटे तक दे रहे है और व्यायाम करने में आधा घंटा भी नहीं दे रहे हैं, सर्वाइकल पेन जैसी बीमारियां उजागर हो जाती हैं। चिकित्सकीय रूप से, सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस (cervical spondylosis), सर्वाइकल ऑस्टियो-गठिया (cervical ostero-arthritis) और गर्दन के गठिया के रूप में जाना जाता है। यह तकलीफ हमेशा के लिए आपका साथ छोड़ सकती है याने की इस स्थिति से निपटा जा सकता है और कुछ व्यायाम करने से लक्षणों से राहत मिलेगी।

सर्वाइकल की एक्सरसाइज -Cervical Ki Exercise In Hindi

1. गर्दन को झुकाये और ऊपर की ओर उठाये

इस व्यायाम को करने के लिए आप या तो कुर्सी पर बैठ सकते हैं या सीधे खड़े हो सकते हैं। अपने सिर को धीरे-धीरे आगे की ओर तब तक छोड़ें जब तक कि आपकी ठुड्डी आपकी छाती को न छू ले और कुछ सेकंड के लिए वहीं पोजीशन होल्ड करें। धीरे-धीरे छोड़ें और अपने सिर को थोड़ा पीछे की ओर धकेलें। कुछ सेकंड के लिए रुकें। प्रक्रिया को लगभग 5 बार दोहराएं। यह आपकी गर्दन के लचीलेपन और गति में मदद करेगा।

2. गर्दन को घुमाना

गर्दन को घुमाना भी आपकी गर्दन के किनारों के लिए एक अच्छा व्यायाम है। अपनी पीठ सीधी करके किसी अच्छी मुद्रा में खड़े हों या बैठें। अपनी गर्दन को धीरे-धीरे घुमाएं और कुछ सेकंड के लिए होल्ड करें जब दोनों तरफ हो। प्रक्रिया को हर तरफ 5 बार दोहराएं।

3. शोल्डर रोल

कंधे के व्यायाम भी आपकी गर्दन को मजबूत बनाने में मदद कर सकते हैं। शोल्डर रोल के लिए आप या तो सीधे खड़े हो सकते हैं या कुर्सी पर बैठ सकते हैं। धीरे-धीरे और मजबूती से अपने कंधों को ऊपर और नीचे रोल करें। प्रक्रिया को 5 बार दोहराएं।

4. दोनों बग़ल की ओर सिर झुकाना

इस व्यायाम को करने के लिए आप या तो कुर्सी पर बैठ सकते हैं या सीधे खड़े हो सकते हैं। अपने दाहिने कंधे को नीचे की ओर रखते हुए धीरे-धीरे अपने सिर को बाएं कंधे की ओर झुकाएं और इसके विपरीत भी दोहराए। कुछ सेकंड के लिए इसी स्थिति में रहें और इस क्रम को कम से कम 5 बार दोहराएं। यह आपकी गर्दन के मोशन में सुधार करने में मदद करता है।

5. गर्दन को पीछे की ओर खींचना

सीधे खड़े हो जाएं या बैठ जाएं। अपनी ठुड्डी को नीचे किए बिना, अंदर खींचने की कोशिश करें। कुछ सेकंड के लिए इस स्थिति में रहें जब तक कि आप गर्दन पर खिंचाव महसूस न करें। प्रक्रिया को 5 बार दोहराएं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment