Create

हेपेटाइटिस बी के घरेलू  उपचार – Hepatitis B Ke Gharelu Upchaar

हेपेटाइटिस बी के घरेलू उपचार – Home remedies of Hepatitis B
हेपेटाइटिस बी के घरेलू उपचार – Home remedies of Hepatitis B

हेपेटाइटिस बी (Hepatitis B), एक गंभीर लिवर स्वास्थ्य स्थिति (Liver condition) है जो हेपेटाइटिस बी वायरस (HBV) के कारण होती है। हेपेटाइटिस बी इन्फेक्शन एक पुरानी बीमारी बनने की ओर जाता है, मतलब यह 6 महीने से ज़्यादा रहता है। यदि मरीज़ Hepatitis B से पीड़ित है तो उसे लिवर के ख़राब होने का, सिरोसिस (Cirrhosis) या लिवर के कैंसर (Liver cancer) होने का खतरा होता है, जो कि हमेशा के लिए एक दुखद तजुर्बा हो सकता है।

हेपेटाइटिस बी 2 प्रकार के होते हैं - क्रोनिक (Chronic) हेपेटाइटिस जिसमें बीमारी 6 महीने से ज़्यादा रहती हैं - शराब का सेवन, नशीले पर्दार्थ का सेवन या हेरिडिटरी डिसऑर्डर (Hereditary Disorder) इसके कुछ प्रमुख कारणों में से है और दूसरा एक्यूट (Acute) हेपेटाइटिस जिसमें से लेकर चार महीने तक परेशानियों से जूझना पड़ता है - जो वायरल/नॉन-वायरल इन्फेक्शन से और मेटाबोलिक डिजीज के कारण हो सकता है।

हेपेटाइटिस बी के लक्षण

जोड़ो का दर्द, मतली (Nausea), उलटी, कमज़ोरी व थकान (fatigue), पेशाब में पीलापन, अचानक पेट दर्द, बुखार, त्वचा का पीलापन और आँखों का सफ़ेद होना कुछ लक्षणों में से हैं, लक्षणों के ना समझ आने के कारण डॉक्टर ब्लड टेस्ट और यूरिन टेस्ट का सुझाव देते हैं।

हेपेटाइटिस बी के घरेलू नुस्खे और इलाज – Hepatitis B Ke Gharelu Upchaar In Hindi

हेपेटाइटिस बी से घबराएं नहीं, इसका नियंत्रण घरेलू इलाज और सही खान-पान से भी हो सकता है। वैसे तो भोजन आपके शरीर क़ो खुद हील (heal) करता है पर कुछ घरेलू इलाज क़ो आप अपना सकते है जो के आपको जल्दी ठीक होने में मदद करेंगे, आगे जानने के लिए पढ़िए -

तनाव को कम करें

तनाव आपकी मौजूदा परिस्थिति को बिगाड़ सकता है, इसलिए अधिक तनाव न लें। खाने में चेरी, केला,नींबू, गोभी, पत्ता-गोभी, नट्स और सीड्स, डार्क-चॉकलेट इस समय आपके लिए लाभदायक रहेंगे।

जिंक को अपनी आहार में जोड़े

जिंक एक मात्र सप्लीमेंट है जो इम्युनिटी को बढ़ाने में मदद करता है। जिंक से भरपूर आप अंडे, साग-सब्जियां, दाल, मशरुम व नॉनवेज में चिकन को सूप के रूप में ले सकते हैं, जो कि खाने में हल्का होता है।

लिवर केयर इस समय बहुत ज़रूरी

लिवर को डेटॉक्स और क्लैंस (Detox and cleanse) की अधिक ज़रुरत होती है, हेपेटाइटिस बी वायरस लिवर में अशुद्धि फैला देता है जिसको शरीर खुद साफ़ करने का प्रयास करता है लेकिन कमज़ोरी और अन्य लक्षणों के कारण अपना काम सही रूप से करने में असफल हो जाता है। लिवर डेटॉक्स के लिए आप जूस, फलाहार, सलाद एवं जीरा/तेज पत्ता के पानी का सेवन कर सकते हैं।

हेपेटाइटिस वायरस के कारण हताश ना हों

सबसे महत्वपूर्ण, बीमार होने के कारण हतोत्साहित न महसूस करें, अपने परिवार और दोस्तों के साथ रहिये और अपने खान पान का समय से ध्यान दें।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment