Create

घर पर कैसे बनाए टूथपेस्ट : Home-made Toothpaste Benefits

घर पर कैसे बनाए टूथपेस्ट (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
घर पर कैसे बनाए टूथपेस्ट (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

क्या आप देसी नुस्खों में विश्वास करते है? तो दांतो से स्वास्थ के लिए क्यों ना अपनाए घरेलू नुस्खें। दांत के कीड़े, सड़न, मसूड़े में दर्द व अन्य दांतो की समस्याओं के लिए घर पर बने "toothpaste" का उपयोग होगा एक अच्छा उपाय। खुद को फिट रखने के लिए हम बाजार में बिकने वाले तमाम उत्पादों को प्रयोग में लाते हैं लेकिन फिर भी हमें रोगों से निजात नहीं मिल पाती। वहीं यदि हम अपनी आदतों में थोड़ा बदलाव लें आएं और कुछ देसी नुस्खों को अपनाएं तो सेहत को संवारा जा सकता है। आइए जानते हैं के कैसे बनाए घर पर दंतमंजन या टूथपेस्ट और क्या है फायदे।

घर पर कैसे बनाए टूथपेस्ट : Home-made Toothpaste Benefits In Hindi

दांतों की मजबूती के लिए (For strong teeth)

सेंधा नमक, हल्दी पाउडर व सरसों के तेल को मिलाकर मध्यम अंगुली से दांतों को साफ करें। हल्दी एंटीबायोटिक का काम करती है। लेकिन इसका प्रयोग सिर्फ 15 दिनों तक करें। 15 दिनों में ये हमारे मसूड़ों को मजबूत कर देती है। इससे अधिक समय तक प्रयोग में लाने से दांतों में पीलापन होने का खतरा रहता है।

घर पर बनाए ऐसे टूथपेस्ट (How to make toothpaste at home in hindi)

घर पर बना पेस्ट भी इस्तेमाल कर सकते हैं इसके लिए 75 ग्राम सेंधा नमक, 25 ग्राम मुल्तानी मिट्टी, 5 ग्राम लौंग का तेल, 5 ग्राम फिटकरी, 5 ग्राम यूकेलिप्टस (नीलगिरि) का तेल, 5 ग्राम मिंट, 10 ग्राम हल्दी पाउडर व सरसों के तेल को मिलाकर प्रयोग कर सकते हैं। दांतों को दिन में दो बार साफ करें। मल विसर्जन के वक्त दांतों को भींचकर रखें। इससे दांत हमेशा मजबूत बने रहेंगे।

थपेस्‍ट में मौजूद चीजों के फायदे (Benefits of this toothpaste)

- सेंधा नमक में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं जो दांतों को बैक्टीरियल इन्‍फेक्‍शन से बचाते हैं और हेल्‍दी बनाए रखने में मदद करते हैं।

- सरसों के तेल में पर्याप्त मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट्स गुण होते हैं जो कि दांतों को हेल्‍दी रखने में मदद करते हैं।

- लौंग के तेल में मौजूद यूजेनॉल में प्राकृतिक अनेस्थेटिक और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं जो मुंह में सूजन को कम करने में लाभदायक होते हैं। दांतों में छिपे बैक्‍टीरिया से लड़ने में यह काफी असरदार उपाय होता है।

- नीलगिरी का तेल आपकी दांतों की हेल्‍थ के लिए फायदेमंद होता है। इसकी एंटी-माइक्रोबियल गुण दांतों की सडऩ को दूर करने का काम करते हैं। यह तेल दांतों के इन्‍फेक्‍शन के लिए बहुत लाभदायक होता है। इसी वजह से इस तेल का इस्‍तेमाल टूथपेस्ट में किया जाता है।

- फिटकरी में मौजूद तत्व दांतों की हेल्‍थ के लिए फायदेमंद होते हैं। फिटकरी का नियमित इस्तेमाल दांतों की कैविटी को कम करने में मदद करता है।

- हल्दी में मौजूद एंटी-बैक्‍टीरियल गुणों के साथ एंटी-इंफ्लेमेंटरी गुण मसूड़ों को हेल्‍दी रखने में मदद करते हैं। साथ ही बैक्‍टीरियल संक्रमण के कारण दांतों के गिरने की समस्‍या को भी रोकता है। दांतों को चमकाने के लिए भी हल्‍दी का इस्‍तेमाल किया जा सकता है। हल्दी पाउडर से दांत मजबूत होते हैं और पीलापन दूर हो जाता है।

- इसके अलावा मिंट में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं जो दांतों की हेल्‍थ के लिए बहुत अच्‍छे होते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment