Create

खड़े होकर पानी पीने से हो सकते हैं ये बड़े नुकसान-Khade Hokar Pani Pine Se Ho Sakte Hai Ye Bade Nuksan

खड़े होकर पानी पीने से हो सकते हैं ये बड़े नुकसान(फोटो-Sportskeeda hindi)
खड़े होकर पानी पीने से हो सकते हैं ये बड़े नुकसान(फोटो-Sportskeeda hindi)

स्वस्थ शरीर के लिए पानी भरपूर मात्रा में पीना (Drinking Water) बहुत जरूरी होता है। लेकिन अगर आप गलत तरह से पानी पीते हैं, तो यह शरीर को नुकसान पहुंचाते हैं। पानी खड़े होकर पानी पीना सेहत के लिए काफी हानिकारक माना जाता है। अगर आप खड़े होकर पानी पीते हैं, तो इससे आप कई बीमारियों के शिकार हो सकते हैं। इसलिए पानी हमेशा बैठकर ही पीना चाहिए। क्योंकि बैठकर पानी पीने से पानी सही तरीके से पचकर शरीर के सभी सेल्स तक पहुंचता है। जानिए खड़े होकर पानी पीने से कौन-कौन सी बीमारी हो सकती है।

खड़े होकर पानी पीने से हो सकते हैं ये बड़े नुकसान (Khade Hokar Pani Pine Se Ho Sakte Hai Ye Bade Nuksan In Hindi)

हड्डियां होती है कमजोर

खड़े होकर पानी पीने से हड्डियां (Bones) कमजोर हो जाती है। साथ ही जोड़ों में दर्द की शिकायत भी शुरू हो जाती है। क्योंकि पानी खड़े होकर पानी पीने से पानी का बहाव तेजी से शरीर में होकर जोड़ों में जमा हो जाता है। जिससे दर्द की समस्या हो जाती है।

प्यास नहीं बुझती है

पानी खड़े होकर पीने से प्यास नहीं बुझती है। लेकिन अगर आप बैठकर एक गिलास पानी भी पी लेते हैं, तो इससे प्यास तुरंत बुझ जाती है।

किडनी हो सकता है खराब

पानी खड़े होकर पानी से किडनी (Kidney) पर सीधा असर पड़ता है। क्योंकि खड़े होकर पानी पीने से पानी बिना फिल्टर हुए पेट की तरफ तेजी से बढ़ता है। जो पानी में जमे अशुद्धियों को पित्ताशय में जमा कर देता है, जो किडनी के लिए खतरनाक साबित होता है।

अपच की हो सकती है शिकायत

पानी खड़े होकर पीने की वजह से अपच (Indigestion) की समस्या हो सकती है। क्योंकि अगर आप पानी बैठकर पीते हैं, तो इससे मसल्स और नर्वस सिस्टम रिलैक्स होती है। जिसकी वजह से पानी आसानी से पच जाता है।

डाइजेस्टिव सिस्टम पर पड़ता है प्रभाव

अगर आप खड़े होकर पानी पीते हैं, तो इससे आपको कब्ज (Constipation) की समस्या भी हो सकती है। साथ ही खड़े होकर पानी पीने से पानी का सीधा प्रेशर पेट पर पड़ता है, जिससे उसके आसपास के अंगों और डाइजेस्टिव सिस्टम पर प्रभाव पड़ता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Rakshita Srivastava
Be the first one to comment