Create
Notifications

विटामिन से भरपूर, परवल खाने के फायदे : Parwal Ke Fayde

विटामिन से भरपूर, परवल खाने के फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
विटामिन से भरपूर, परवल खाने के फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
Vineeta Kumar
visit

परवल (Pointed Gourd) एक ऐसी हरी सब्जी है जिसे अलग-अलग नाम से जाना जाता हैं और इसे सभी प्रांत के लोग खाना पसंद करते हैं। परवल में विटामिन A, विटामिन B1, विटामिन B2 और विटामिन C भरपूर मात्रा में होता है और इन्ही गुणों के कारण परवल सेहत के लिए फायदेमंद है। यह सब्जी देखने में तो छोटी है, लेकिन सेहत के लिए इसके बड़े फायदे हैं। यह सब्ज़ी एक प्रकार की औषधि भी हैं, यह बिमारियों से भी बचाव करती हैं। इस लेख में परवल से होने वाले फायदों के बारे में चर्चा की गयी हैं, आइए आगे पढ़ें।

विटामिन से भरपूर, परवल खाने के फायदे : Parwal Ke Fayde In Hindi

1. डायबिटीज (Helps In Diabetes)

आजकल असंतुलित खान-पान के कारण मधुमेह होना आम बात हो गया है। परवल की सब्जी या परवल के पत्ते का सेवन करने से डायबिटीज, और सूजन में लाभ मिलता है।

2. सिरदर्द के लिए (Cures Headache)

दिन भर कंप्यूटर पर काम करने के बाद शाम को सिर दर्द हो जाता है। परवल के जड़ को पीसकर सिर पर लेप करने से सभी प्रकार के सिर दर्द से राहत मिलती है।

3. पाचन तंत्र के लिए (Improves Digestion)

औषधीय गुणों से भरपूर परवल का सेवन भूख और पाचन तंत्र में सुधार का काम कर सकता है। साथ ही इसमें एंटीअल्सर प्रभाव भी पाए जाते हैं, जो पेट को अल्सर से दूर रखने में मददगार साबित हो सकते हैं।

4. आंखों के रोग के लिए (Treats eye related diseases)

अगर आँखों से संबंधी बीमारियों से परेशान रहते हैं तो परवल शाक को घी में पकाकर सेवन करने से आँखों की बीमारियों से होने वाले कष्ट से आराम मिलता है।

5. पीलिया के इलाज में (Helps In Jaundice)

परवल, कुटकी, सफेद चंदन, मुलेठी, गुडूची से काढ़ा बनायें। 10-20 मिली काढ़े का सेवन करने से कामला या पीलिया रोग में लाभ होता है।

6. चेचक में (Small Pox)

स्मॉल पॉक्स की शुरुआती अवस्था में परवल के जड़ एवं पत्ते के काढ़े (10-20 मिली) में मुलेठी जड़ का रस (5ml) मिलाकर पीना चाहिए। इससे शरीर को आराम मिलता है। अडूसा, नागरमोथा, चिरायता, त्रिफला, इंद्रजौ, जवासा, परवल पत्ता तथा नीम छाल का काढ़ा बनायें। 10-20 मिली काढ़े में मधु मिला कर पीने से कफ वाले चेचक (स्मॉल पॉक्स) में लाभ होता है।

7. बुखार व खांसी में (Treats Fever And Cough)

परवल की पत्ती तथा परवल के फल की सब्जी में समान मात्रा में धनिया डाल लें। इसका काढ़ा पीने से बुखार उतर जाता है। परवल के पत्ते का काढ़ा बनाकर सेवन करने बुखार में लाभ होता है। नीम तथा परवल से बने जूस का सेवन करने से बलगम वाली खांसी और बुखार में लाभ होता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Vineeta Kumar
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now