Create

ज्यादा सौंफ खाने के फायदे और नुकसान : Zyada Saunf Khane Ke Fayde Aur Nuksan

ज्यादा सौंफ खाने के फायदे और नुकसान (फोटो - sportskeeda हिन्दी)
ज्यादा सौंफ खाने के फायदे और नुकसान (फोटो - sportskeeda हिन्दी)

आमतौर पर सौंफ (Fennel seeds) का उपयोग माउथ फ्रेशनर के रूप में किया जाता है। इसके अलावा, भारतीय रसोई में सौंफ का उपयोग मसाले के रूप में भी किया जाता है। क्या आप जानते हैं कि आपके किचन की यह छोटी-सी चीज आपको सेहतमंद बनाए रखने में कितनी बड़ी भूमिका निभाती है? आंतों की गैस, नाराज़गी और नौका विहार जैसी पाचन स्थिति के लिए सौंफ़ का उपयोग किया जाता है। इसका उपयोग सांस की समस्या जैसे हैजा, ब्रोंकाइटिस, खांसी और दृश्य समस्याओं के लिए भी किया जाता है। कई महिलाएं दूध के प्रवाह को बढ़ाने, मासिक धर्म की समस्या को रोकने के लिए सौंफ का उपयोग करती हैं। औषधीय गुणों के कारण सौंफ के कई लाभ विटामिन, मिनरल, पोषक तत्व आदि होते हैं। सौंफ के बीज कई विटामिनों का भंडार कह सकते हैं। इन बीजों में विटामिन A, E, C और B-कॉम्प्लेक्स केंद्रित होते हैं। लेकिन, सौंफ के उपयोग के फायदे और नुकसान दोनों ही मौजुद हैं -

ज्यादा सौंफ खाने के फायदे और नुकसान : Zyada Saunf Khane Ke Fayde Aur Nuksan In Hindi

सौंफ एनीमिया को रोकता है (Fennel Seeds Prevents Anaemia)

सौंफ आयरन और हिस्टिडीन नामक अमीनो एसिड का अच्छा स्रोत है। ये हीमोग्लोबिन के निर्माण में मदद करते हैं।

सौंफ के बीज पाचन में सहायक होते हैं (Fennel Seeds Aids Digestion)

सौंफ में मौजूद एसेंशियल आयल के घटक पाचक रसों और एंजाइमों के स्राव को ट्रिगर करते हैं जो बदले में पाचन की प्रक्रिया को तेज करते हैं। सौंफ पेट फूलने (अत्यधिक गैस बनने) के कारण पेट की सूजन को कम करती है।

सौंफ कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करती है (Fennel Seeds Controls Cholesterol Levels)

सौंफ में मौजूद फाइबर इसे रक्त में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम रखने के लिए एक अच्छा विकल्प बनाता है। कोलेस्ट्रॉल का उच्च स्तर शरीर के लिए हानिकारक हो सकता है क्योंकि यह दिल के दौरे, स्ट्रोक और आर्थेरोस्क्लेरोसिस जैसी विभिन्न स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बनता है।

अच्छी नींद के लिए (Treats insomnia)

सौंफ के अनेक गुणों में से एक गुण यह भी है कि यह अच्छी नींद लाने में मदद कर सकती है। सौंफ में मैग्नीशियम पाया जाता है, जिसके बारे में कहा जाता है कि यह अच्छी नींद और नींद के समय को बढ़ा सकती है। साथ ही यह भी कहा जाता है कि मैग्नीशियम अनिद्रा दूर भगाने में भी मददगार हो सकती है।

ज़्यादा सौंफ खाने के नुकसान :-

1. जिन लोगों को अजवाइन और गाजर से एलर्जी होती है उन्हें भी सौंफ से एलर्जी होती है। सौंफ त्वचा को अतिरिक्त संवेदनशील बनाती है और सनबर्न होने में आसानी होती है। सौंफ उन लोगों के लिए एलर्जी का कारण हो सकता है जो इन अवयवों के प्रति संवेदनशील हैं।

2. सौंफ के घटक फायदे के अलावा अधिक मात्रा में लेने पर खतरनाक भी हो सकते हैं। बैक्टीरिया और रोगाणुओं को मारने वाले यौगिक आपके लिए भी हानिकारक हो सकते हैं। सौंफ का प्रयोग सांस लेने में तकलीफ, असामान्य धड़कन और तंत्रिका संबंधी स्थितियों को प्रभावित कर सकता है।

3. अधिक मात्रा में सौंफ के बीज से बचना चाहिए। सौंफ के यौगिक उच्च सांद्रता में विषाक्त हो सकते हैं और मतिभ्रम पैदा कर सकते हैं।

4. सौंफ का सेवन काफी सुरक्षित माना जाता है, यहां तक कि यह एंटीबायोटिक दवाओं के अवशोषण में भी बाधा उत्पन्न कर सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment