PKL 8 में एक बार फिर मिला नया चैंपियन, पटना पाइरेट्स को बहुत बड़ी गलती के कारण मिली हार 

PKL 8 में एक बार फिर मिला नया चैंपियन (Photo: Pro Kabaddi League)
PKL 8 में एक बार फिर मिला नया चैंपियन (Photo: Pro Kabaddi League)

PKL 8 के फाइनल मुकाबले में दबंग दिल्ली ने पटना पाइरेट्स को 37-36 से हराते हुए रोमांचक जीत दर्ज की। दबंग दिल्ली ने इतिहास रच दिया है और उन्होंने पहली बार PKL का खिताब जीता है। इसके अलावा यह लगातार तीसरा सीजन है जब PKL में नया चैंपियन मिला है। पटना पाइरेट्स का चौथी बार चैंपियन बनने का सपना टूट गया है।

PKL 8 में पटना पाइरेट्स को बहुत बड़ी गलती का हुआ नुकसान

पटना पाइरेट्स ने पहले हाफ के बाद 17-15 से बढ़त बनाई। मैच की शुरुआत से ही दोनों टीमों के डिफेंस को सफलता नहीं मिली। दूसरी तरफ दबंग दिल्ली और पटना पाइरेट्स के रेडर्स ने जबरदस्त प्रदर्शन किया। हालांकि जैसे ही मोहम्मदरेजा चियानेह ने नवीन कुमार को आउट किया। इसके बाद पटना पाइरेट्स ने दबंग दिल्ली को ऑल-आउट करने में देरी नहीं की और 11वें मिनट में उन्हें ऑल-आउट किया। दबंग दिल्ली ने भी खुद को पिछड़ने नहीं दिया और पहला हाफ खत्म होने से पहले शानदार वापसी की। इस बीच नवीन कुमार ने PKL 8 में अपने 200 रेड पॉइंट्स पूरे किए।

पहले हाफ में दबंग दिल्ली के नवीन कुमार ने सबसे ज्यादा 7 और पटना पाइरेट्स के सचिन तंवर ने 6 अंक हासिल किए। दोनों टीमों ने रेडिंग में 12 और डिफेंस में 2 अंक हासिल किए। हालांकि पटना को 2 पॉइंट ऑलआउट के जरिए मिले और इसी वजह से पहले हाफ के बाद उनके पास बढ़त थी।

दूसरे हाफ की शुरुआत में दबंग दिल्ली के पास पटना पाइरेट्स को ऑल-आउट करने का मौका था, लेकिन सचिन तंवर ने अपनी टीम की लीड में जबरदस्त तरीके से इजाफा किया। उन्होंने पहले रेडिंग में दो अंक हासिल किए और फिर नवीन कुमार को उन्होंने टैकल भी किया। दिल्ली ने वापसी का प्रयास किया। इस बार गुमान सिंह मल्टी पॉइंट रेड करते हुए अपनी टीम को राहत दी और फिर शादलू ने नवीन कुमार को टैकल करते हुए बाहर भेजा। दबंग दिल्ली के डिफेंस ने भी काफी कमजोर खेल दिखाया और इसका नुकसान उन्हें काफी हुआ। विजय मलिक ने अहम मौके पर सुपर रेड (2 टच और एक बोनस) लगाते हुए पटना पाइरेट्स को झटका दिया।

नवीन कुमार ने फाइनल में भी अपना सुपर 10 पूरा किया और उन्होंने प्लेऑफ के हर मुकाबले में सुपर 10 लगाया। गुमान सिंह ने एक बार फिर अपनी टीम को ऑल-आउट से बचाया। उन्होंने बोनस के साथ टच पॉइंट हासिल करते हुए पटना पाइरेट्स को राहत दी। दबंग दिल्ली ने मैच के 34वें मिनट में आखिरकार पहली बार पटना पाइरेट्स को ऑल-आउट किया। पटना पाइरेट्स के टीम मैनेजमेंट से बहुत बड़ी गलती हुई और उन्होंने अपने सब्सटीट्यूशन को खत्म कर दिया।

उनके तीनों रेडर्स सचिन तंवर, गुमान सिंह और प्रशांत कुमार राय आखिरी 6 मिनट में मैच का हिस्सा ही नहीं बन पाए। इस बीच विजय मलिक ने एक और सुपर रेड (2 टच और एक बोनस) लगाते हुए अपना सुपर 10 पूरा किया। पटना ने अपने मुख्य रेडर्स के बिना भी रेडिंग में पॉइंट्स हासिल करते हुए लीड को कम किया। शादलू ने लगातार पॉइंट्स लाते हुए अपनी टीम को जीत दिलाने का प्रयास किया, लेकिन अंत में नवीन कुमार ने अपनी टीम को ऐतिहासिक जीत दिलाई।

इस मैच में दबंग दिल्ली के विजय मलिक ने सबसे ज्यादा 14 पॉइंट्स (13 रेड और एक टैकल) हासिल किए। नवीन कुमार ने भी 13 रेड पॉइंट्स हासिल किए। पटना पाइरेट्स के लिए सचिन तंवर और गुमान सिंह ने रेडिंग में 9-9 अंक हासिल किए। पटना पाइरेट्स के मुख्य रेडर्स का अगर मैच का हिस्सा रहते तो जरूर वो इस मैच में जीत दर्ज कर सकते थे।

Quick Links

Edited by मयंक मेहता