Create
Notifications

प्रो कबड्डी 2018: चेन्नई लेग के टॉप 5 रेडर्स 

EVC
EXPERT COLUMNIST
Modified 15 Oct 2018

प्रो कबड्डी लीग के छठे सीजन का चेन्नई लेग काफी शानदार रहा। भले ही घरेलू टीम तमिल थलाइवाज का प्रदर्शन इतना जोरदार नहीं रहा, लेकिन फिर भी कई धमाकेदार मुकाबले देखने को मिले। इसके अलावा पूरे लेग में तमाम बड़े रेडर्स का प्रदर्शन काफी शानदार रहा।

तमिल थलाइवाज के कप्तान अजय ठाकुर, पटना पाइरेट्स के कप्तान परदीप नरवाल, पुनेरी पलटन के नितिन तोमर, बेंगलुरू बुल्स के पवन कुमार शेरावत ने काफी प्रभावित किया। इसके अलावा और भी कई रेडर्स थे, जिन्होंने अपने प्रदर्शन से काफी सुर्खियां बटोरी।

आइए नजर डालते हैं चेन्नई लेग के टॉप 5 रेडरस पर:

5) नितिन तोमर, पुनेरी पलटन (2 मैचों में 22 रेड पॉइंट)

Enter caption

पुनेरी पलटन के स्टार रेडर नितिन तोमर ने अपने प्रदर्शन से टीम को बिल्कुल भी निराश किया है। उन्होंने यू मुंबा के खिलाफ हुए ड्रॉ मुकाबले में 20 रेड में 15 अंक हासिल किए, तो हरियाणा स्टीलर्स के खिलाफ वो ज्यादा योगदान नहीं दे पाए। उस मैच में उन्हें 16 रेड में सिर्फ 7 पॉइंट मिले।


4) परदीप नरवाल, पटना पाइरेट्स (2 मैचों में 27 पॉइंट)

Enter caption

पटना पाइरेट्स के कप्तान परदीप नरवाल ने पिछले सीजन की अपनी फॉर्म को जारी रखते हुए इस सीजन की भी धमाकेदार शुरूआत की। तमिल थलाइवाज के खिलाफ मुकाबले में वो भले ही अपनी टीम को जीत नहीं दिला पाए, लेकिन उन्होंने सुपर 10 हासिल किया था। दूसरे मैच में उन्होंने यूपी योद्धा के खिलाफ दमदार प्रदर्शन करते हुए एक और सुपर 10 हासिल किया।


3) सिद्धार्थ देसाई, यू मुंबा ( 2 मैचों में 28 पॉइंट)

Enter caption

यू मुंबा के लिए इस सीजन में सिद्धार्थ देसाई का प्रदर्शन काफी बेहतरीन रहा है। पहले दो मुकाबलों में इस युवा रेडर ने काफी प्रभावित किया। पुनेरी पलटन के खिलाफ मुकाबले में उन्होंने 14 अंक हासिल किए, तो जयपुर पिंक पैंथर्स के खिलाफ मुकाबले में उनकी रेडिंग जबरदस्त रही और उन्होंने सुपर 10 हासिल किया।


4) पवन कुमार शेरावत, बेंगलुरू बुल्स ( एक मैच में 20 पॉइंट)

Enter caption

रोहित कुमार, काशिलिंग अड्के जैसे स्टार रेडर्स की मौजूदगी में कोई रेडर अगर अपनी छाप छोड़ता है, तो सही में उसकी तारीफ होनी चाहिए। पवन कुमार शेरावत ने बुल्स के लिए अपने पहले मुकाबले में शानदार प्रदर्शन करते हुए घरेलू टीम तमिल थलाइवाज के खिलाफ 20 पॉइंट हासिल किए। उन्होंने तमिल के ऊपर दबाव बनाया, जिसकी वजह से तमिल की टीम वापसी नहीं कर पाई।


5) अजय ठाकुर, तमिल थलाइवाज (5 मैच में 58 पॉइंट)

Enter caption

तमिल थलाइवाज के कप्तान ने चेन्नई लेग में बेहतरीन प्रदर्शन किया, लेकिन उनकी टीम ने बेहद निराशाजनक प्रदर्शन किया। होम लेग में उनकी टीम सिर्फ एक मैच ही जीत पाई। अजय ने पटना के खिलाफ 14 अंक हासिल किए, यूपी के खिलाफ उन्होंने 12 रेड पॉइंट हासिल किए। तेलुगु टाइटंस के खिलाफ वो सुपर 10 नहीं लगा पाए और सिर्फ 9 रेड पाइंट ही ले पाए।

बेंगलुरू बुल्स के खिलाफ उन्होंने 20 रेड पॉइंट लिए और बंगाल वॉरियर्स के खिलाफ आखिरी लीग मैच में उनके नाम सिर्फ 14 रेड में सिर्फ 6 अंक ही हासिल किए। कुल मिलाकर उन्होंने 5 मुकाबले में 58 पॉइंट हासिल किए।

Published 15 Oct 2018
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now