Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

प्रो कबड्डी 2018: पुणे लेग के टॉप 5 रेडर्स 

FEATURED WRITER
आँकड़े
25 Oct 2018, 17:24 IST

Enter caption

घरेलू टीम पुनेरी पलटन की करारी हार के साथ पुणे लेग का भी अंत हुआ। पुणे लेग के अंतिम दिन जोन ए की दोनों टीमों को हार का सामना करना पड़ा, तो दूसरी तरफ बेंगलुरू बुल्स और यूपी योद्धा को जबरदस्त फायदा हुआ।

पुणे ने अपने होम लेग की शुरूआत गुजरात फार्च्यूनजायंट्स के खिलाफ मुकाबला हारने के साथ की, लेकिन टीम ने इसके बाद लय प्राप्त की और दो करीबी मुकाबले जीते। हालांकि पुनेरी पलटन को अपने पिछले दोनों ही मुकाबलों में शिकस्त झेलनी पड़ी।

पुणे के अलावा दूसरे मुकाबलों में पवन कुमार शेरावत ने एक बार फिर सुर्खियां बटोरी, तो राहुल चौधरी ने पीकेएल में अपने 700 रेड पॉइंट पूरे किए, तो अजय ठाकुर ने भी 600 पॉइंट पूरे किए। इसके अलावा सिद्धार्थ देसाई और विकास कंडोला ने भी अपनी छाप छोड़ी।

आइए नजर डालते हैं पुणे लेग के टॉप 5 रेडर्स पर:

5) मोनू गोयत (हरियाणा स्टीलर्स)

Enter caption

हरियाणा स्टीलर्स के कप्तान मोनू गोयत ने जरूरत पड़ने पर फॉर्म में वापसी की और विकास कंडोला की मदद करते हुए इस सीजन का दूसरा सुपर 10 लगाया। गोयत ने टच पॉइंट के साथ अच्छे से बोनस भी हासिल किए। उन्होंने 15 रेड में 11 पॉइंट हासिल किए।


4) अजय ठाकुर (तमिल थलाइवाज)

Enter caption

तमिल थलाइवाज का प्रदर्शन जरूर पूरे सीजन में अबतक कुछ खास नहीं रहा, लेकिन टीम के कप्तान अजय ठाकुर ने काफी प्रभावित किया है। अजय ने पुनेरी पलटन के खिलाफ 20 रेड में 12 पॉइंट हासिल किए, जिसके दम पर टीम ने जीत दर्ज की। उनके प्रदर्शन से दूसरे खिलाड़ियों पर भी असर देखने को मिला और जसवीर सिंह ने भी 8 अंक हासिल किए, तो मंजीत छिल्लर और सुकेश हेगड़े ने भी अच्छा काम किया।


3) विकास कंडोला (हरियाणा स्टीलर्स)

Enter caption
Advertisement

विकास कंडोला ने पुणे लेग में खेले इकलौते मुकाबले में अच्छे से अपनी छाप छोड़ी और 18 रेड में 14 अंक हासिल करते हुए सबको प्रभावित किया। हालांकि इतना शानदार प्रदर्शन करने के बाद भी वो अपनी टीम को जीत नहीं दिला पाए। कंडोला ने महेंदर, आशीष सांगवान और संदीप जैसे डिफेंडर्स के सामने अच्छा कार्य किया और पॉइंट अर्जित किए।


2) पवन कुमार शेरावत (बेंगलुरु बुल्स)

Enter caption

पवन कुमार शेरावत ने जिस तरह का प्रदर्शन अबतक किया है, उससे टीम के कप्तान रोहित कुमार पर ज्यादा दबाव नहीं आया है। पहले मैच में 20 और दूसरे मुकाबले 16 पॉइंट हासिल करने वाले शेरावत ने अपनी फॉर्म को जारी रखा और स्टीलर्स के खिलाफ दमदार प्रदर्शन करते हुए एक बार फिर 20 अंक हासिल किए। उन्हीं के प्रदर्शन के दम पर बेंगलुरू बुल्स ने शानदार जीत दर्ज की। उनके प्रदर्शन का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उनके 20 में से 19 पॉइंट टच के थे, जोकि काफी कुछ दर्शाता है।


1) सिद्धार्थ देसाई (यू-मुंबा)

Enter caption

यू-मुंबा के स्टार रेडर सिद्धार्थ देसाई की जितनी तारीफ की जाए, उतनी कम है। उन्होंने अपने प्रदर्शन में निरंतरता दिखाई है, जिससे उनकी टीम को काफी फायदा हुआ है। यू-मुंबा ने पुणे लेग में दो मैच खेले और इन दोनों मुकाबलों में सिद्धार्थ देसाई का प्रदर्शन लाजवाब रहा।

पुणे के खिलाफ मिली हार में देसाई ने 15 अंक हासिल किए, तो दूसरे मैच में उन्होंने 17 रेड पॉइंट अर्जित किए। देसाई ने 6 मुकाबलों में 5 में सुपर 10 लगाया और उनके आस-पास भी दूसरा कोई रेडर नजर नहीं आता।

Tags:
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...