Create
Notifications
Advertisement

प्रो कबड्डी 2019: यूपी योद्धा की टीम का पूरा विश्लेषण

  • यूपी की टीम पिछले सीजन की तुलना में ज्यादा संतुलित नजर आ रही है
Neeraj P
ANALYST
प्रीव्यू
Modified 22 May 2019, 10:12 IST

x

यूपी योद्धा ने प्रो कबड्डी लीग में डेब्यू करने के बाद अपने दोनों सीजन में शानदार प्रदर्शन किया है। दोनों ही सीजन में यूपी ने प्ले-ऑफ में जगह बनाई है और इस सीजन वे पहली बार प्रो कबड्डी लीग का खिताब जीतने के लिए पूरी कोशिश करेंगे। पिछले दो सीजन में यूपी के पास टॉप क्लास रेडर्स थे जो उन्हें लगातार अंक दिला रहे थे और इस सीजन की नीलामी में उन्होंने जिस तरह की टीम बनाई उनका ट्रेंड बने रहने की पूरी उम्मीद है।

नीलामी में यूपी ने खर्च किए पैसे

नीलामी में जाने से पहले यूपी ने एलीट कैटेगिरी से दो और यंग प्लेयर कैटेगिरी से चार खिलाड़ियों को रिटेन किया था। यूपी ने मोनू गोयत को 93 लाख रूपए, श्रीकांत जाधव को 68 लाख रूपए और रिशांक देवाड़िगा को 61 लाख रूपए की कीमत में खरीदा और अपने रेडिंग विभाग को काफी मजबूत बना लिया। 

यह भी पढ़ें: प्रो कबड्डी 2019: दबंग दिल्ली की टीम का पूरा विश्लेषण

टीम का विश्लेषण

नीलामी में स्टार रेडर्स को खरीदने के बाद सातवें सीजन में यूपी को अंक हासिल करने में कोई दिक्कत नहीं होने वाली है। मोनू, रिशांक और श्रीकांत विपक्षी डिफेंस में खलबली मचा सकते हैं। यूपी के लिए इस सीजन में उनकी रेडिंग ही उनकी सबसे मजबूत कड़ी लग रही है। आजाद सिंह रिटेन किए गए ऑलराउंडर थे और अब उनका साथ देने के लिए टीम में नरेन्दर, सुरेन्दर और गुरदीप जैसे खिलाड़ी टीम में मौजूद हैं।

डिफेंस में सचिन कुमार टीम के मुख्य खिलाड़ी होंगे तो वहीं अकरम, नितेश और गुलवीर भी अपनी छाप छोड़ने की कोशिश करेंगे। यूपी का डिफेंस काफी युवा है और उनके पास अनुभव की कमी है। कोचिंग स्टाफ को अपने युवा डिफेंडर्स को काफी कुछ सिखाने की जरूरत होगी। इस बात में कोई शक नहीं है कि यूपी मैच जीतने के लिए अपनेे रेडर्स पर निर्भर होगी,लेकिन अन्य विभागों को भी अपना बेस्ट देने की जरूरत है।


Published 22 May 2019, 10:12 IST
Advertisement
Fetching more content...
Get the free App now
❤️ Favorites Edit