प्रो कबड्डी 2019: चेन्नई लेग के बाद अंक तालिका, टॉप रेडर्स और डिफेंडर्स- अपडेटेड आंकड़े

तमिल थलाइवाज को होम लेग में नहीं मिली जीत
तमिल थलाइवाज को होम लेग में नहीं मिली जीत

प्रो कबड्डी लीग का सातवां सीजन अबतक शानदार रहा है और चेन्नई लेग का अंत हो गया है। घरेलू टीम तमिल थलाइवाज का प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा और चार में 3 मैच में शिकस्त मिली, तो एक मुकाबला टाई रहा। टीम के दिग्गज खिलाड़ी और स्टार रेडर राहुल चौधरी सिर्फ 22 रेड पॉइंट हासिल कर पाए, तो मंजीत छिल्लर भी चोट के कारण 3 मैच नहीं खेल पाए।

चेन्नई लेग के बाद जयपुर पिंक पैंथर्स 36 अंकों के साथ पहले स्थान पर रहे, तो तेलुगु टाइटंस 18 अंकों के साथ आखिरी स्थान पर हैं। गत विजेता बेंगलुरु बुल्स 27 अंकों के साथ पांचवें स्थान पर हैं। चेन्नई लेग के बाद पॉइंट्स टेबल कुछ इस प्रकार है:

Enter caption
टॉप 6 टीमें प्लेऑफ के लिए करेंगी क्वालीफाई
टॉप 6 टीमें प्लेऑफ के लिए करेंगी क्वालीफाई

सबसे ज्यादा रेड पॉइंट्स

चेन्नई लेग के बाद टॉप 5 रेडर्स
चेन्नई लेग के बाद टॉप 5 रेडर्स

पवन कुमार सहरावत का प्रदर्शन मिला-जुला रहा। उन्होंने जहां तमिल थलाइवाज के खिलाफ सुपर 10 लगाया, तो पुनेरी पलटन के खिलाफ वो कुछ खास नहीं कर पाए। हालांकि उन्होंने इस सीजन में अपन 100 रेड पॉइंट पूरे किए और वो पहले स्थान पर बने हुए हैं। उनके अलावा परदीप नरवाल का प्रदर्शन अच्छा रहा और वो भी पवन से ज्यादा पीछे नहीं हैं। दीपक निवास हूडा टॉप 5 से बाहर हो गए हैं और सिद्धार्थ देसाई ने शीर्ष 5 खिलाड़ियों में जगह बनाई।

सबसे ज्यादा टैकल पॉइंट्स

चेन्नई लेग के बाद टॉप 5 डिफेंडर्स
चेन्नई लेग के बाद टॉप 5 डिफेंडर्स

संदीप ढुल का प्रदर्शन चेन्नई लेग में कुछ खास नहीं रहा और उन्होंने दो मैच में सिर्फ 3 ही अंक हासिल किए, लेकिन अभी भी वो 33 अंकों के साथ पहले स्थान पर बने हुए हैं। उनके ठीक पीछे पटना पाइरेट्स के जयदीप हैं, जिनके 30 अंक हो गए। तमिल के दिग्गज खिलाड़ी मंजीत छिल्लर टॉप 5 से बाहर हो गए हैं और गुजरात के कप्तान सुनील कुमार (28 अंक) पांचवें स्थान पर आ गए हैं।

Quick Links

App download animated image Get the free App now