Pro Kabaddi League 9 में 5 खिलाड़ियों की सैलरी में पिछले सीजन की तुलना में हुई है 50 प्रतिशत से ज्यादा की कटौती

सिद्धार्थ देसाई की सैलरी में हुई है भारी कटौती (फोटो: इंस्टाग्राम)
सिद्धार्थ देसाई की सैलरी में हुई है भारी कटौती (फोटो: इंस्टाग्राम)

PKL 9: प्रो कबड्डी लीग (PKL) के नौवें सीजन के लिए हुई नीलामी में सभी 12 टीमों ने अपनी-अपनी पसंद के खिलाड़ियों के लिए बोलियां लगाई थी। इस नीलामी में फजल अत्राचली (Fazel Atrachali) को 1.38 करोड़ रुपये मिले और वह PKL इतिहास के सबसे महंगे विदेशी खिलाड़ी बने थे। इसके अलावा बेंगलुरु बुल्स के पूर्व खिलाड़ी पवन सेहरावत (Pawan Sehrawat) को 2.26 करोड़ रुपये मिले थे। पवन लीग इतिहास के सबसे महंगे खिलाड़ी बन गए हैं।

भले ही पवन और फजल की सैलरी में काफी अधिक बढ़ोतरी देखने को मिली है, लेकिन कई ऐसे भी खिलाड़ी रहे हैं जिनकी सैलरी में भारी कटौती भी हुई है। एक नजर डालते हैं उन पांच खिलाड़ियों पर जिनकी इस सीजन की सैलरी में पिछले सीजन की तुलना में 50 प्रतिशत की कटौती हुई है।

#1 Pro Kabaddi League, PKL 9 में बेस प्राइस में बिके हैं सिद्धार्थ देसाई

youtube-cover

पिछले सीजन तेलुगु टाइटंस ने सिद्धार्थ देसाई को खरीदने के लिए 1.3 करोड़ रुपये खर्च किए थे। हालांकि, सिद्धार्थ चोट के कारण अधिकतर मैचों में बाहर रहे थे और उन्होंने पिछले सीजन केवल तीन ही मैच खेले थे। 2022 की नीलामी से पहले टाइटंस ने उन्हें रिलीज कर दिया था। सबको उम्मीद थी कि सिद्धार्थ के लिए कई टीमें आपस में टकराएंगी और उनके लिए बड़ी बोली लगेगी, लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं हुआ। सिद्धार्थ के लिए केवल टाइटंस ने ही बोली लगाई और मात्र 20 लाख रुपये की कीमत में उन्हें दोबारा अपने साथ जोड़ लिया।

#2 रोहित गुलिया को मिले हैं 30 लाख रूपये

youtube-cover

हरियाणा स्टीलर्स ने पिछले साल रोहित गुलिया को खरीदने के लिए 83 लाख रूपये की बड़ी बोली लगाई थी। हालांकि, गुलिया पूरे सीजन में केवल 69 प्वाइंट ही हासिल कर सके थे। इस साल की नीलामी से पहले हरियाणा ने उन्हें रिलीज कर दिया था। पटना पाइरेट्स ने गुलिया को 30 लाख रूपये की बेस प्राइस में अपने साथ जोड़ा है।

#3 रविंदर पहल की सैलरी में भी हुई है कटौती

youtube-cover

रविंदर पहल PKL इतिहास के सबसे सफल डिफेंडर्स में से एक हैं। पिछले साल गुजरात जायंट्स ने उन्हें साइन करने के लिए 74 लाख रुपये की बड़ी बोली लगाई थी। भले ही पहल का प्रदर्शन ठीक रहा था, लेकिन इसके बावजूद गुजरात ने उन्हें रिटेन नहीं किया है। इस बार की नीलामी में तेलुगु टाइटंस ने पहल को केवल 23 लाख रुपये की कीमत में खरीदा है। उनकी कीमत में भी 50 प्रतिशत से ज्यादा की गिरावट आई है।

#4 राहुल चौधरी को मिले हैं केवल 10 लाख रूपये

राहुल चौधरी पिछले सीजन पुनेरी पलटन के लिए खेले थे और वह उनके लिए उनके करियर का सबसे खराब सीजन रहा था। राहुल को पिछले सीजन अधिक मौके नहीं मिले और जब उन्हें मौके मिले भी तो उसका फायदा नहीं ले पाए थे। इस साल की नीलामी में उनके लिए केवल एक ही टीम ने बोली लगाई थी। जयपुर पिंक पैंथर्स ने उन्हें 10 लाख रूपये की बेस प्राइस में खरीदा है। सीजन 8 में राहुल को 40 लाख रुपये में खरीदा गया था।

#5 बलदेव सिंह को भी हुआ है नुकसान

पिछले सीजन की नीलामी में पुनेरी पलटन ने बलदेव सिंह को खरीदने के लिए 60 लाख रूपये खर्च किए थे। हालांकि, इस सीजन के लिए उन्होंने बलदेव को रिटेन नहीं किया। राइट कॉर्नर पर खेलने वाले डिफेंडर बलदेव इस सीजन गुजरात जायंट्स के लिए खेलते हुए नजर आएंगे। गुजरात ने बलदेव को 21.5 लाख रुपये में खरीदा है। बलदेव सिंह की सैलरी में भी भारी गिरावट आई है।

Quick Links

Edited by मयंक मेहता