PKL में जब Pardeep Narwal ने एक ही रेड में 6 डिफेंडर्स को आउट करते हुए रचा था इतिहास, जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए टीम को दिलाई थी ऐतिहासिक जीत

PKL
PKL में जब परदीप नरवाल ने एक ही रेड में 6 डिफेंडर्स को किया था आउट

PKL: प्रो कबड्डी (Pro Kabaddi) के सबसे बड़े खिलाड़ी की बात की जाएगी, तो निश्चित ही इसमें परदीप नरवाल (Pardeep Narwal) का नाम जरूर आएगा। PKL के सबसे सफल रेडर परदीप नरवाल के नाम कई बड़े रिकॉर्ड दर्ज हैं और ऐसे कई कारनामे कर चुके हैं जो हर खिलाड़ी करना चाहता है।

डुबकी किंग ने PKL में ऐसा ही एक कारनामा 23 अक्टूबर 2017 को पटना पाइरेट्स के लिए खेलते हुए हरियाणा स्टीलर्स के खिलाफ किया था। दोनों टीमों के बीच PKL के 5वें सीजन का दूसरा एलिमिनेटर मुकाबला खेला गया था। दोनों टीमों के बीच रोमांचक मुकाबले की उम्मीद थी और सभी का ध्यान पटना के रेडर्स और हरियाणा के डिफेंडर्स पर था।

एक तरफ पटना के पास परदीप नरवाल और मोनू गोयत थे, तो दूसरी तरफ हरियाणा के पास लीग के सबसे दमदार डिफेंडर्स मोहित छिल्लर और सुरेंदर नाडा थे। पहले हाफ के बाद पटना पाइरेट्स ने हरियाणा स्टीलर्स के खिलाफ 22-15 से बढ़त बनाई हुई थी। इस पल तक स्टीलर्स के पास वापसी का पूरा मौका था, लेकिन उन्हें नहीं पता था कि दूसरे हाफ में परदीप नरवाल क्या करने वाले हैं।

परदीप नरवाल ने दूसरे हाफ में अपना जलवा दिखाया और इस बीच अपना सुपर 10 भी पूरा किया। उन्हें मोनू गोयत का भी अच्छा साथ मिला। इन दोनों के आगे हरियाणा स्टीलर्स का डिफेंस पूरी तरह से बिखर गया और वो मैच में वापसी ही नहीं कर पाए। परदीप ने डॉमिनेट करना जारी रखा और पटना की जीत को सुनिश्चित कर दिया।

PKL 5 के दूसरे एलिमिनेटर में परदीप नरवाल ने तोड़े कई रिकॉर्ड

हालांकि परदीप यहां पर नहीं रुके और इस बीच उन्होंने एक ऐसी रेड की जिसे देखकर हर कोई हैरान रह गया था। दरअसल, हरियाणा की टीम में 6 खिलाड़ी एक्टिव थे और रेड करने परदीप नरवाल गए थे। परदीप ने यहां जबरदस्त स्किल दिखाते हुए सभी 6 डिफेंडर्स को चकमा देते हुए मिड लाइन को क्रॉस किया और इतिहास रचा। परदीप ने एक ही रेड में 6 डिफेंडर्स को आउट करते हुए 8 पॉइंट्स (6 टच और दो ऑल-आउट) स्कोर किए। यह पहला मौका था जब किसी रेड में एक साथ इतने ज्यादा डिफेंडर्स आउट हुए थे।

youtube-cover

आपको बता दें कि परदीप नरवाल ने इस मुकाबले में कुल मिलाकर 34 पॉइंट्स स्कोर किए और एक मैच में सबसे ज्यादा रेड पॉइंट्स स्कोर करने का रिकॉर्ड भी बनाया। यह रिकॉर्ड 2019 तक उनके नाम था, बाद में जिसे पवन सेहरावत ने तोड़ा था। अंत में पटना पाइरेट्स ने हरियाणा स्टीलर्स को 69-30 से करारी शिकस्त देते हुए इस मुकाबले को अपने नाम किया और तीसरे एलिमिनेटर में जगह बनाई थी।

यह पटना के लिए ऐतिहासिक जीत थी, क्योंकि पॉइंट्स के मामले में उस समय तक इतनी बड़ी जीत किसी टीम ने दर्ज नहीं की थी। अभी भी PKL की यह टॉप 3 जीत में शामिल है। इसके बाद टीम ने तीसरे एलिमिनेटर में पुनेरी पलटन, दूसरे क्वालीफायर में बंगाल वॉरियर्स और फाइनल में गुजरात जायंट्स को हराते हुए लगातार तीसरी बार PKL का खिताब जीता था।

Quick Links

Edited by मयंक मेहता
Be the first one to comment