Create

मोंटे-कार्लो मास्टर्स के पहले दौर में जोकोविच को मिला बाई, नडाल की गैर मौजूदगी में खिताब के प्रबल दावेदार

जोकोविच ने इकलौती बार साल 2013 में नडाल को हराकर ही मोंटे कार्लो का खिताब जीता था।
जोकोविच ने इकलौती बार साल 2013 में नडाल को हराकर ही मोंटे कार्लो का खिताब जीता था।

दुनिया के नंबर 1 टेनिस खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच दो महीने के अंतराल के बाद टेनिस कोर्ट में दर्शकों को दिखाई देंगे। जोकोविक सीजन के पहले क्ले एटीपी 1000 टूर्नामेंट मोंटे कार्लो के मुख्य ड्रॉ में शामिल हैं और उन्हें पहले दौर में बाई मिला है। इसका मतलब जोकोविच सीधे राउंड ऑफ 32 यानी दूसरे दौर में खेलते दिखेंगे। टूर्नामेंट में रिकॉर्ड 11 बार के चैंपियन स्पेन के राफेल नडाल भाग नहीं ले रहे हैं, वो पीठ की चोट के कारण बाहर हैं। ऐसे में फैंस का मानना है कि जोकोविच साल 2013 के बाद अब दूसरी बार मोंटे कार्लो का खिताब अपने नाम करेंगे। खास बात ये है कि साल 2013 में जोकोविच ने फाइनल में नडाल को मात देकर खिताब अपने नाम किया था।

मोंटे कार्लो में इटली के जैनिक सिनर के साथ ट्रेनिंग सत्र के दौरान जोकोविच।
मोंटे कार्लो में इटली के जैनिक सिनर के साथ ट्रेनिंग सत्र के दौरान जोकोविच।

फरवरी के महीने में दुबई ओपन में जोकोविच ने भाग लिया था जहां क्वार्टर फाइनल में चौंकाने वाली हार के साथ वो बाहर हो गए थे। इसके बाद मार्च में इंडियन वेल्स और मियामी ओपन में भाग लेने के लिए जोकोविच को अमेरिका ने कोविड वैक्सीनेशन न करवाने की वजह से एंट्री देने से पहले ही मना कर दिया था। अब मोंटे कार्लो ओपन के लिए जोकोविच मोनाको में हैं और दर्शक उन्हें दो महीने बाद खेलते देखेंगे। जोकोविच दूसरे दौर में स्पेन के अलेहांद्रो फोकीना और अमेरिका के मार्कोस गिरोन के बीच होने वाले मैच के विजेता से भिड़ेंगे।

क्वार्टर फाइनल में अल्कराज की चुनौती

जोकोविच अगर दूसरे और तीसरे दौर की बाधा पार कर क्वार्टरफाइनल में पहुंचते हैं तो उनका सामना 18 साल के स्पेन के कार्लोस अल्कराज के साथ हो सकता है। अल्कराज ने हाल ही में मियामी ओपन जीतकर इतिहास रचा था और क्ले कोर्ट पर उनके खेल की प्रशंसा कई बार हो चुकी है। ऐसे में जोकोविच के लिए खिताब तक की यात्रा आसान नहीं होगी। मजेदार बात ये है कि इस भिड़ंत की उम्मीद अधिकतर टेनिस फैंस कर रहे हैं।

Novak Djokovic and Carlos Alcaraz in the same quarter in Monte Carlo is a big YES PLEASE

इस टूर्नामेंट में इस बार नडाल के अलावा रूस के डेनिल मेदवेदेव भी नहीं भाग ले रहे जिनका हाल ही में हर्निया का इलाज हुआ है। ऐसे में जोकोविच इस खिताब के प्रबल दावेदार माने जा रहे हैं। जोकोविच के अलावा दूसरी वरीयता प्राप्त जर्मनी के एलेग्जेंडर ज्वेरेव, पिछले साल के विजेता और तीसरी वरीयता प्राप्त ग्रीस के स्टेफानोस सितसिपास, पिछली बार के उपविजेता और इस बार पांचवी वरीयता प्राप्त एंड्री रुब्लेव तथा चौथी वरीयता प्राप्त कैस्पर रूड को भी पहले दौर में बाई दिया गया है।

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment