Create
Notifications

जेनेवा ओपन : कैस्पर रूड सेमीफाइनल में, मेदवेदेव को हराने वाले गास्केट भी अंतिम 4 में

रूड अगर इस बार खिताब जीतते हैं तो लगातार जेनेवा ओपन जीतने वाले तीसरे प्लेयर होंगे।
रूड अगर इस बार खिताब जीतते हैं तो लगातार जेनेवा ओपन जीतने वाले तीसरे प्लेयर होंगे।
Hemlata Pandey

गत विजेता और विश्व नंबर 8 कैस्पर रूड ने जेनेवा ओपन के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। रूड ने क्वार्टरफाइनल में ऑस्ट्रेलिया के थनासी कोकिनाकिस को 6-4, 7-6 से हराकर अंतिम 4 में स्थान पक्का किया। दूसरी वरीयता प्राप्त नॉर्वे के रूड ने मैच के बाद थनासी को अच्छे खेल के लिए बधाई दी और माना कि पूरे मैच में थनासी ने उन्हें बेहद कड़ी चुनौती दी। पिछले साल रूड ने इस प्रतियोगिता के फाइनल में कनाडा के डेनिस शापोवालोव को हराकर खिताब जीता था। इस बार सेमीफाइनल में रूड का सामना चौथी सीड अमेरिका के राइली ओपेल्का से होगा।

The defending champ is still standing 💪 @CasperRuud98 moves past Kokkinakis in straight sets 6-4 7-6(3) to set a fourth meeting with Opelka.@genevaopen | #GonetGenevaOpen https://t.co/oXsOfWWJ3X

विश्व नंबर 18 ओपेल्का नीदरलैंड के टैलन ग्राइक्सपूर को 6-4, 3-6, 6-3 से मात देते हुए अंतिम 4 में जगह बनाई। अपनी 6 फुट 11 इंच की हाइट के लिए मशहूर ओपेल्का ने कैस्पर रूड का कुल 3 बार सामना किया है जिनमें तीनों बार जीत रूड की हुई है। जबकि एक बार ऑस्ट्रेलियन ओपन के क्वालीफ़ायरमें ओपेल्का ने रूड को हराया था। ऐसे में सेमीफाइनल की जंग में रूड का पलड़ा भारी दिख रहा है।

अन्य क्वार्टरफाइनल में फ्रांस के अनुभवी खिलाड़ी रिचर्ड गास्केट ने भी जीत के साथ सेमीफाइनल में स्थान पक्का कर लिया है। पूर्व विश्व नंबर 7 फ्रांस के गास्केट ने पोलैंड के कामिल मज्रजाक को 6-2, 6-4 से हराने मेंं कामयाबी हासिल की। अपने करियर में 15 एटीपी खिताब जीत चुके गास्केट ने इस टूर्नामेंट के दूसरे दौर में विश्व नंबर 2 डेनिल मेदवेदेव को सीधे सेटों में हराकर बाहर किया था। ऐसे में वो खिताब के प्रबल दावेदार माने जा रहे हैं। गास्केट दूसरे सेमीफाइनल में पुर्तगाल के हाओ सूसा का सामना करेंगे। 79वीं रैंकिंग वाले सूसा ने एटीपी रैंकिंग में 50वे नंबर पर काबिज रूस के इल्या इवाश्का को 7-5, 7-5 से हराया। इवाश्का ने दूसरे दौर में पिछली बार के उपविजेता डेनिस शापोवालोव को हराया था। ऐसे में इवाश्का को बाहर करने वाले सूसा गास्केट को अच्छी चुनौती दे सकते हैं।


Edited by Prashant Kumar

Comments

Fetching more content...