Create
Notifications

जोकोविच की गैरमौजूदगी में ये खिलाड़ी जीत सकता है साल का पहला ग्रैंड स्लैम 

जोकोविच के नाम रिकॉर्ड 9 ऑस्ट्रेलियन ओपन टाइटल हैं।
जोकोविच के नाम रिकॉर्ड 9 ऑस्ट्रेलियन ओपन टाइटल हैं।
SENIOR ANALYST

साल के पहले ग्रैंड स्लैम ऑस्ट्रेलियन ओपन के पुरुष सिंगल्स मुकाबलों में दुनिया के नंबर 1 खिलाड़ी नोवाक जोकोविच के खेलने पर अब भी संशय बना हुआ है। कोविड वैक्सिनेशन का खुलासा नहीं करने की जिद पर अड़े जोकोविच को पहले तो टेनिस ऑस्ट्रेलिया ने टूर्नामेंट में खेलने की अनुमति दी, लेकिन मेलबर्न एयरपोर्ट पहुंचने पर ऑस्ट्रेलियाई बॉर्डर फोर्स ने जोकोविच का वीजा कैंसिल करते हुए उन्हें डिटेंशन सेंटर में डाल दिया। इस पूरे वाकये के खिलाफ जोकोविच ने स्थानीय कोर्ट में अपील की है जहां सोमवार को सुनवाई होनी है। विशेषज्ञों की राय है कि जोकोविच को खेलने की अनुमति शायद ही मिले। ऐसे में दुनियाभर के टेनिस फैंस ये आंकलन कर रहे हैं कि 17 जनवरी से शुरु हो रहे इस इस टूर्नामेंट में अगर गत विजेता जोकोविच नहीं खेलेंगे तो आखिर कौन सा खिलाड़ी इसे जीत सकता है।

1) डेनिल मेदवेदेव -

मेदवेदेव ऑस्ट्रेलियन ओपन के खिताब के सबसे प्रबल दावेदार हैं।
मेदवेदेव ऑस्ट्रेलियन ओपन के खिताब के सबसे प्रबल दावेदार हैं।

नडाल और फेडरर नहीं, फिलहाल जोकोविच के बाद इस खिताब के सबसे करीब जो खिलाड़ी दिख रहा है वो हैं दुनिया के नंबर 2 टेनिस खिलाड़ी रूस के डेनिल मेदवेदेव। डेनिल ने पिछले साल 2021 में ऑस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल में जोकोविच का सामना किया था। हालांकि वो इस फाइनल को हार गए थे, लेकिन जोकोविच की गैरमौजूदगी में उनका खेल मजबूत होने की उम्मीद है। मेदवेदेव ने 2021 में साल के आखिरी ग्रैंड स्लैम यूएस ओपन के फाइनल में जिस अंदाज में जोकोविच को हराते हुए उनका कैलेंडर स्लैम पूरा करने का और सबसे ज्यादा ग्रैंड स्लैम जीतने का सपना तोड़ा था उसके गवाह सभी टेनिस प्रेमी बने। ये मेदवेदेव के करियर का पहला ग्रैंड स्लैम खिताब भी था। मेदवेदेव गजब फॉर्म में हैं और ऐसे में इस 24 वर्षीय खिलाड़ी के पास अपना पहला ऑस्ट्रेलियन ओपन जीतने का शानदार मौका है।

2 ) एलेग्जेंडर ज्वेरेव -

2021 का एटीपी फाइनल जीतने वाले ज्वेरेव भी ऑस्ट्रेलियन ओपन जीत सकते हैं।
2021 का एटीपी फाइनल जीतने वाले ज्वेरेव भी ऑस्ट्रेलियन ओपन जीत सकते हैं।

विश्व के नंबर 3 टेनिस खिलाड़ी जर्मनी के ज्वेरेव पिछले कुछ समय में गजब फॉर्म के साथ प्रतिद्वंदियों के सामने आए हैं। ज्वेरेव ने 21 साल की उम्र में 2018 का एटीपी फाइनल जीतकर सभी को चौंका दिया था। 2021 में भी एटीपी फाइनल में गत विजेता मेदवेदेव को सीधे सेटों में हराकर खिताब अपने नाम किया। यही नहीं टोक्यो ओलंपिक में पुरुष सिंगल्स का गोल्ड भी ज्वेरेव ने जीता। पिछले साल ऑस्ट्रेलियन ओपन के क्वार्टर-फाइनल में ज्वेरेव जोकोविच के हाथों कड़े मुकाबले में हारे थे, जिसमें पहला सेट ज्वेरेव ने जीता था। ज्वेरेव पिछले 6 महीनों से गजब फॉर्म में दिख रहे हैं, यूएस ओपन में भी वो पिछले साल सेमिफाइनल तक पहुंचे थे। ज्वेरेव ऑस्ट्रेलियन ओपन के रूप में अपना पहला ग्रैंड स्लैम जीतने की पूरी कोशिश करेंगे।

3) राफेल नडाल -

राफेल नडाल टेनिस की दुनिया का एक ऐसा नाम है जिसके खेल ने फेडरर समेत जोकोविच और बाकि खिलाड़ियों को भी सालों तक डरा कर रखा था। सबसे ज्यादा ग्रैंड स्लैम जीतने के मामले में नडाल फेडरर और जोकोविच की बराबरी पर हैं। 35 साल के नडाल ने कुल 20 ग्रैंड स्लैम अपने नाम किए हैं जिनमें से रिकॉर्ड 13 बार क्ले कोर्ट पर फ्रैंच ओपन का खिताब जीता है, इसलिए ये स्पेनिश खिलाड़ी किंग ऑफ क्ले भी कहलाता है।

2009 में फेडरर को हराकर नडाल ने अपने करियर का इकलौता ऑस्ट्रेलियन ओपन जीता था।
2009 में फेडरर को हराकर नडाल ने अपने करियर का इकलौता ऑस्ट्रेलियन ओपन जीता था।

नडाल पिछले साल बाएं पैर की चोट से जूझते रहे। पिछले साल ऑस्ट्रेलियन ओपन के क्वार्टर-फाइनल में नडाल को हार का सामना करना पड़ा था। साल 2009 में नडाल ने अपने करियर का इकलौता ऑस्ट्रेलियन ओपन खिताब जीता था। ऐसे में जोकोविच की गैर मौजूदगी में नडाल ऑस्ट्रेलियन ओपन जीत सकते हैं। अगर ऐसा होता है तो उनके नाम पुरुष सिंगल्स में सबसे ज्यादा ग्रैंड स्लैम टाइटल हो जाएंगे। हालांकि नडाल ने 5 महीने बाद दिसंबर 2021 में ही कोर्ट पर वापसी की है। दिसंबर में भी नडाल कोविड पॉजिटिव आए थे और फिलहाल रिकवरी के बाद खेल रहे हैं। लेकिन इस स्टार खिलाड़ी की दावेदारी को नकारा नहीं जा सकता।

इन तीन खिलाड़ियों के अलावा विश्व नंबर 4 स्टेफानोड सितसिपास का खेलना लगभग तय है और वो भी खिताब जीतने का दम रखते हैं। एंड्री रुबलेव और कैस्पर रूड भी अपने खेल से सभी को चौंका सकते हैं। पूर्व विश्व नंबर 1 रॉजर फेडरर घुटने की चोट के चलते ऑस्ट्रेलिया में नहीं दिखेंगे। ऐसे में ये देखना वाकई में दिलचस्प होगा कि इस बार ये खिताब किसके नाम होता है। जोकोविच को अगर खेलने की इजाजत मिल जाती है तो वो भी हर हाल में टूर्नामेंट जीतकर ऑस्ट्रेलिया में हुए बर्ताव का बदला लेना चाहेंगे। अगर जोकोविच को इजाजत नहीं मिलती तो इस बार नया चैंपियन देखने को मिल सकता है।


Edited by निशांत द्रविड़
Fetching more content...
Article image

Go to article
App download animated image Get the free App now