Create
Notifications

विम्बल्डन : राफेल नडाल या नोवाक जोकोविच, किसका पलड़ा भारी?

नडाल और जोकोविच दोनों ही पूर्व विम्बल्डन चैंपियन हैं और इस बार खिताब के प्रबल दावेदार हैं।
नडाल और जोकोविच दोनों ही पूर्व विम्बल्डन चैंपियन हैं और इस बार खिताब के प्रबल दावेदार हैं।
Hemlata Pandey

27 जून से साल के तीसरे ग्रैंड स्लैम विम्बल्डन चैंपियनशिप्स के मेन ड्रॉ के मुकाबले शुरु होने जा रहे हैं। ग्रास कोर्ट के इस सबसे बड़े टूर्नामेंट को ग्रैंड स्लैम की दुनिया का सबसे बड़ा टूर्नामेंट माना जाता है और ऐसे में फैंस के बीच लगातार इस बात की चर्चा चल रही है कि इस बार विम्बल्डन के खिताब का सबसे प्रबल दावेदार कौन है - गत चैंपियन नोवाक जोकोविच या फिर पूर्व विश्व नंबर 1 और इस साल के शुरुआती दोनों ग्रैंड स्लैम जीत चुके स्पेन के राफेल नडाल।

नडाल और जोकोविच आखिरी बार विम्बल्डन में साल 2018 में भिड़े जहां जोकोविच जीते थे।
नडाल और जोकोविच आखिरी बार विम्बल्डन में साल 2018 में भिड़े जहां जोकोविच जीते थे।

नोवाक जोकोविच पिछले तीन बार से लगातार विम्बल्डन को जीतते आ रहे हैं। कुल 6 बार इस खिताब को अपने नाम कर चुके जोकोविच मौजूदा समय में ग्रास कोर्ट के सबसे दमदार खिलाड़ी हैं। लेकिन हाल ही में विश्व नंबर 1 की कुर्सी गंवाने वाले जोकोविच के लिए पिछला साल जितना शानदार था, ये सीजन अभी तक उतना ही खराब रहा है। दूसरी ओर राफेल नडाल के लिए चोटों के बावजूद ये साल अभी तक काफी अच्छा रहा है।

नडाल की फॉर्म बेहतर

साल के शुरुआत में जोकोविच को कोविड वैक्सीनेशन न करवाने के कारण ऑस्ट्रेलियन ओपन में खेलने का मौका नहीं मिला तो वहीं राफेल नडाल ने फाइनल में डेनिल मेदवेदेव को 2 सेट पिछड़ने के बाद हराने में कामयाबी हासिल की। नडाल ने इसके साथ ही रिकॉर्ड 21वां ग्रैंड स्लैम अपने नाम किया। फरवरी के महीने में जहां जोकोविच ने दुबई टेनिस चैंपियनशिप में हार मिलने के बाद अपना नंबर 1 का स्थान गंवाया तो नडाल ने मैक्सिकन ओपन का खिताब जीता। इसके बाद नडाल इंडियन वेल्स के फाइनल में पहुंचे लेकिन हार गए। पीठ की चोट की वजह से कुछ हफ्ते टेनिस कोर्ट से दूर रहे। वहीं जोकोविच फिट तो थे लेकिन कोविड वैक्सीनेशन नहीं करवाने के कारण इंडियन वेल्स और मियामी ओपन जैसे एटीपी 1000 ईवेंट में भाग नहीं ले पाए।

नडाल ने साल 2008 और 2010 में विम्बल्डन का खिताब अपने नाम किया।
नडाल ने साल 2008 और 2010 में विम्बल्डन का खिताब अपने नाम किया।

जोकोविच को अप्रैल में जहां मोंटे-कार्लो मास्टर्स के पहले मैच में हारना पड़ा, तो वहीं सर्बिया ओपन में अपने घर में वो फाइनल एंड्री रुब्लेव के खिलाफ हारे। मेड्रिड ओपन के सेमीफाइनल में कार्लोस गार्फिया ने उन्हें मात दी। इसके बाद इटालियन ओपन के रूप में जोकोविच ने सीजन का पहला टाइटल जीता। वहीं नडाल ने जब मेड्रिड ओपन और इटालियन ओपन में क्ले कोर्ट पर मुकाबले हारे तो फैंस को लग रहा था कि वो फ्रेंच ओपन में भी जल्द बाहर हो जाएंगे। लेकिन हुआ इसका उल्टा। गत विजेता जोकोविच को नडाल ने क्वार्टरफाइनल में हराया और इसके बाद खिताब भी जीता।

कागजों पर जोकोविच दावेदार, खेल में नडाल

जोकोविच ने साल 2021 में विम्बल्डन समेत कुल 6 बार खिताब जीता है।
जोकोविच ने साल 2021 में विम्बल्डन समेत कुल 6 बार खिताब जीता है।

कागजों पर जोकोविच हर लिहाज से विम्बल्डन जीतने के प्रबल दावेदार लग रहे हैं लेकिन नडाल मौजूदा समय में जिस फॉर्म में चल रहे हैं, उन्हें नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। नडाल की नजर तो इस साल बचे दो ग्रैंड स्लैम जीतकर अपना कैलेंडर स्लैम पूरा करने पर है, ऐसे में जोकोविच के लिए नडाल को रोकना बेहद कठिन होगा। नडाल कुल 5 बार विम्बल्डन पुरुष सिंगल्स फाइनल खेल चुके हैं और दो बार साल 2008 और 2010 में ट्रॉफी जीतने में कामयाब रहे हैं। तो वहीं जोकोविच 7 बार फाइनल में पहुंचे हैं और 2011, 2014, 2015, 2018, 2019, 2021 में खिताब जीता है जबकि साल 2013 में वो एंडी मरे से हारे थे।

जोकोविच ने साल 2011 विम्बल्डन फाइनल में नडाल को हराकर पहली बार खिताब जीता था।
जोकोविच ने साल 2011 विम्बल्डन फाइनल में नडाल को हराकर पहली बार खिताब जीता था।

खास बात ये है कि साल 2011 में फाइनल में जोकोविच ने नडाल को मात दी थी। नडाल साल 2011 में फाइनल में हारे थे और इसके साल 2018 में कुल 7 सालों के इंतजार के बाद सेमीफाइनल में पहुंचे। इस साल जोकोविच ने नडाल को सेमीफाइनल में हराया तो 2019 के सेमीफाइनल में नडाल को रॉजर फेडरर ने मात दी। पिछले साल नडाल चोट के कारण विम्बल्डन का हिस्सा नहीं बने थे, लेकिन इस बार की उनकी फॉर्म के लिहाज से फिलहाल तो नडाल का ही पलड़ा भारी दिख रहा है।

फाइनल में ही हो सकता है सामना

इस बार विश्व नंबर 1 डेनिल मेदवेदेव बैन के कारण विम्बल्डन में नहीं दिखेंगे तो चोट के कारण नंबर 2 ऐलेग्जेंडर ज्वेरेव भी नहीं खेलेंगे। ऐसे में रैंकिंग में नंबर 3 पर काबिज जोकोविच टॉप सीड होंगे तो चौथे नंबर पर काबिज राफेल नडाल दूसरे नंबर पर होंगे। इस लिहाज से जो ड्रॉ बनेगा और जो सीडिंग मिलेगी, जोकोविच और नडाल दोनों ही अलग-अलग हाफ में होंगे। यानी अगर दोनों की भिड़ंत किसी भी हाल में फाइनल से पहले होना संभव नहीं है। ऐसे में ग्रास कोर्ट पर ये दोनों खिलाड़ी ट्रॉफी के लिए फाइनल में आमना-सामना करते हैं या नहीं , ये जानने के लिए फैंस बेताब हैं।


Edited by Prashant Kumar

Comments

Fetching more content...