Create
Notifications

'कॉमनवेल्थ गेम्स में ना खेल पाने का अफसोस है' - नीरज चोपड़ा

नीरज को विश्व चैंपियनशिप फाइनल के दौरान मांसपेशी में चोट आई थी।
नीरज को विश्व चैंपियनशिप फाइनल के दौरान मांसपेशी में चोट आई थी।
Hemlata Pandey

भारत के स्टार जैवलिन थ्रो एथलीट नीरज चोपड़ा के बर्मिंघम कॉमनवेल्थ खेलों से हटने की खबर के बाद देश के खेल प्रेमी काफी दुखी हो गए थे। टोक्यो ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट नीरज ने एक दिन पहले ही ऐलान किया कि वो मांसपेशी में खिंचाव के कारण इन खेलों में भाग नही ले पा रहे। नीरज के मुताबिक इन खेलों में भाग नहीं ले पाने का उन्हें काफी अफसोस है। नीरज ने ट्विटर के माध्यम से अपने फैंस तक इस बारे में अपना विशेष संदेश पहुंचाया।

नीरज ने अमेरिका के ओरेगोन में खेली गई विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में जैवलिन थ्रो का सिल्वर मेडल जीता और 19 साल बाद इस प्रतियोगिता में देश को पदक दिलाया। इससे पहले साल 2003 में अंजू बॉबी जॉर्ज ने लॉन्ग जम्प का ब्रॉन्ज जीता था। इस प्रदर्शन के बाद 28 जुलाई से शुरु हो रहे 2022 के कॉमनवेल्थ खेलों में नीरज से धमाकेदार प्रदर्शन की उम्मीद और बढ़ गई थी। लेकिन विश्व चैंपियनशिप फाइनल के दौरान चौथा थ्रो करते हुए नीरज को मांसपेशी में खिंचाव आया और जांच करने पर चोट होने की पुष्टि हुई है।

नीरज ने अपने संदेश में बताया है कि इसके इलाज और रिकवरी के लिए उन्हें कुछ हफ्ते आराम करना होगा। इस खबर के बाद देशभर के खेल प्रेमी जहां एक ओर निराश हो गए, तो दूसरी ओर नीरज के जल्द ठीक होने की कामना भी करने लगे। नीरज ने 2018 गोल्ड कोस्ट खेलों में जैवलिन थ्रो का गोल्ड जीता था, जो उस संस्करण में एऐथलेटिक्स में भारत का इकलौता गोल्ड था। अब बर्मिंघम खेलों में पुरुषों के जैवलिन थ्रो में रोहित यादव और डीपी मनु भाग ले रहे हैं। रोहित ने भी विश्व चैंपियनशिप के जैवलिन थ्रो फाइनल में स्थान पक्का किया था और पहली बार भारत की तरफ से इस प्रतिष्ठित प्रतियोगिता की किसी स्पर्धा का फाइनल दो भारतीय खेल रहे थे। हालांकि रोहित फाइनल में 10वें नंबर पर रहे, लेकिन अपना बेस्ट प्रदर्शन कर रोहित कम से कम भारत को कॉमनवेल्थ खेलों में पोडियम फिनिश दिलवाने का प्रयास जरूर करेंगे।


Edited by निशांत द्रविड़

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...