Asian Games 2023 : एथलेटिक्स में खुला भारत का खाता, किरण बालियान ने 72 साल बाद दिलाया शॉट पुट का ब्रॉन्ज

महिला शॉट पुट में भारत को  साल 1951 के बाद पहला मेडल मिला है।
महिला शॉट पुट में भारत को साल 1951 के बाद पहला मेडल मिला है।

भारत को 19वें एशियन गेम्स 2023 में अपना पहला एथलेटिक्स मेडल मिल गया है। महिलाओं की शॉट पुट स्पर्धा के फाइनल में भारत की किरण बालियान ने कांस्य पदक जीतने में कामयाबी हासिल की। किरण ने 17.36 मीटर की दूरी तक शॉट पुट फेंका और तीसरा स्थान पाया। चीन के हांगझाओ में हो रहे एशियाड में इस स्पर्धा का गोल्ड और सिल्वर दोनों ही चीन के नाम रहे। भारत की मनप्रीत कौर भी इस स्पर्धा में शामिल थीं और 16.25 मीटर के थ्रो के साथ वह पांचवें स्थान पर रहीं। महिला शॉट पुट में भारत का यह दूसरा मेडल है। इससे पहले साल 1951 में हुए पहले एशियन गेम्स में बारबरा वेब्स्टर ने ब्रॉन्ज जीता था।

लेकिन महिलाओं के हैमर थ्रो फाइनल में भारत के हाथ कोई पदक नहीं लगा। तान्या चौधरी ने 60.50 मीटर की दूरी के थ्रो के साथ सातवां स्थान पाया जबकि भारत की रचना कुमारी 58.13 मीटर के साथ 9वें स्थान पर रहीं। गोल्ड जीतने वाली चीन की वांग झेंग ने 71.53 मीटर का थ्रो किया। सिल्वर भी चीन के नाम रहा जबकि दक्षिण कोरिया को ब्रॉन्ज मिला। महिलाओं की 20 किलोमीटर पैदल चाल में भारत की प्रियंका गोस्वामी पांचवें स्थान पर रहीं जबकि पुरुषों की 20 किलोमीटर पैदल चाल का में भारत के विकास सिंह पांचवें स्थान पर रहे जबकि संदीप कुमार डिस्क्वालिफाई हो गए।

पुरुषों की 400 मीटर हीट्स से भारत के लिए मिले-जुले परिणाम आए। मुहम्मद अजमल ने जहां 45.76 सेकेंड का समय लेकर फाइनल में जगह बनाई तो वहीं मोहम्मद याहिया 46.29 सेकेंड के समय के साथ फाइनल में क्वालिफाई करने में नाकामयाब रहे। याहिया का क्वालिफाई न कर पाना इसलिए चौंकाने वाला है क्योंकि 2018 में हुए पिछले एशियन गेम्स में वह इस स्पर्धा के सिल्वर मेडलिस्ट थे और 2017 में एशियन चैंपियनशिप का गोल्ड भी जीत चुके हैं।

महिलाओं की 400 मीटर हीट्स में भारत की ऐश्वर्य कैलाश मिश्रा ने अपना सीजन बेस्ट प्रदर्शन कर फाइनल के लिए क्वालिफाई किया। लेकिन हिमांशी मलिक अपनी हीट में चौथे स्थान पर रहीं और फाइनल में जगह नहीं बना पाईं।

Edited by Prashant