Create
Notifications

पिता कोविड-19 से संक्रमित हुए, लक्ष्‍य सेन को सारलोरलक्‍स ओपन से अपना नाम वापस लेना पड़ा

लक्ष्‍य सेन
लक्ष्‍य सेन
Vivek Goel
visit

जर्मनी में सारब्रूकन में होटल रूम में एकांतवास में रह रहे डीके सेन कोविड-19 से संक्रमित पाए गए, जिसके चलते उनके बेटे लक्ष्‍य सेन केा सारलोरलक्‍स ओपन से अपना नाम वापस लेना पड़ा। डीके सेन अपने बेटे के पिता व कोच हैं। दुर्भाग्‍यवश पिता के कारण लक्ष्‍य सेन को जर्मनी में सारलोरलक्‍स से अपना नाम वापस लेना पड़ा जहां वो गत चैंपियन थे।

बुधवार को कोविड-19 टेस्‍ट में पॉजिटिव पाए जाने के बाद डीके सेन को सबसे पहले अपने बेटे लक्ष्‍य सेन के करियर का ख्‍याल आया और फिर अन्‍य खिलाड़‍ियों की सुरक्षा के बारे में भी पूछा। यह मामला खेल के खतरों को अपने पुराने सर्किट प्रारूप में संचालित करने के लिए जारी है, जो यात्रा को मजबूत बना रहा है - हालांकि दो मेजबान शहरों के बीच की दूरी कम होना जरूरी है। और पुराने सहायक कर्मचारियों के लिए भी खतरनाक है।

डीके सेन ने इंडियन एक्‍सप्रेस कहा कि इसमें चिंता की कोई बात नहीं है। मैं ठीक हूं और भगवान से प्रार्थना हर रहा हूं कि जल्‍दी ठीक हो जाएं। हम अलग-अलग कमरों में हैं। लक्ष्‍य सेन अपने फिजियो अभिषके साथ रह रहे हैं। मैं अलग कमरे में हूं। मुझमें कोई संक्रमण नहीं पाए गए और सभी स्‍थानीय प्रोटोकॉल का पालन किया। हम जल्‍द ही दूसरा टेस्‍ट भी कराएंगे ताकि पता चल सके क‍ि कब खिलाड़ी वापस आ के।

डेनमार्क ओपन में खेलकर लक्ष्‍य सेन ने पीडर गेड एकेडमी में अभ्‍यास किया और फिर जर्मनी की यात्रा की, जहां उसने पिछले साल खिताब जीता था। लक्ष्‍य सेन के पिता ने कहा, 'हम 25 को आए और अनिवार्य परीक्षण के लिए फ्रेंकफर्ट गए। खुशी की बात रही कि दोनों टेस्‍ट निगेटिव आए और अब मैं एकांतवास में हूं। यह दुखद है क्‍योंकि लक्ष्‍य सेन ने कड़ी मेहनत की थी, लेकिन सभी की सुरक्षा का ध्‍यान रखते हुए टूर्नामेंट से नाम वापस लेना सर्वश्रेष्‍ठ विकल्‍प था।'

लक्ष्‍य सेन का अगला लक्ष्‍य क्‍या

जहां ओडेंसे सुपर 750 टूर्नामेंट बायो बबल में सफल तरीके से हुआ, इसमें खिलाड़‍ियों और सभी सपोर्ट स्‍टाफ के दो टेस्‍ट किए गए थे। अब इस साल कोई अंतरराष्‍ट्रीय बैडमिंटन टूर्नामेंट नहीं होना है। डेनमार्क ओपन तो बिना किसी परेशानी के सफल रूप से आयोजित हुआ।

इससे पहले अक्‍टूबर में थॉमस उबर कप भी रद्द किया गया था क्‍योंकि एशिया के शीर्ष देशों ने हिस्‍सा लेने से इंकार कर दिया था। वैसे, डेनमार्क ओपन के बाद उम्‍मीद जगी थी कि बैडमिंटन अपने पैर जमा लेगा, लेकिन एक बार फिर वह मुसीबतों से घिर गया है।

लक्ष्‍य सेन ने कहा कि वह अब घर लौटने के बाद कड़ा अभ्‍यास करेंगे और अगले टूर्नामेंट्स की तैयारी करेंगे। लक्ष्‍य सेन ने कहा, 'हम घर लौटेंगे। फिर आगे की योजना तैयार करेंगे और अगले टूर्नामेंट्स पर ध्‍यान देंगे।'

यह लक्ष्‍य सेन का पहला पूरा सीजन सीनियर सर्किट में था और उन्‍होंने ऑल इंग्‍लैंड चैंपियनशिप में अच्‍छा प्रदर्शन किया था। लक्ष्‍य सेन ने मैच खत्‍म करने के लिए अति उत्‍साह दिखाया, लेकिन डेनमार्क ओपन के दूसरे राउंड में शिकस्‍त झेल बैठे।


Edited by Vivek Goel
Fetching more content...
Article image

Go to article
App download animated image Get the free App now