Create

जर्मन ओपन: अगले दौर में सिंधू, साइना, सेन और श्रीकांत, प्रणॉय ने भी दर्ज की शानदार जीत 

श्रीकांत और सिंधू भारत की ओर से टूर्नामेंट में टॉप सीड हैं।
श्रीकांत और सिंधू भारत की ओर से टूर्नामेंट में टॉप सीड हैं।

जर्मन ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के पहले दिन भारत को सिंगल्स के अपने मुकाबलों में कामयाबी देखने को मिली। पीवी सिंधू और लक्ष्य सेन ने जहां एक ओर आसानी से अपने पहले दौर के मुकाबले जीते, तो वहीं साइना नेहवाल और किदाम्बी श्रीकांत को जीत के लिए पसीना बहाना पड़ा। लेकिन सिंगल्स में भारत की ओर से सबसे बेहतरीन खेल विश्व नंबर 24 और जायंट स्लेयर के नाम से मशहूर एच एस प्रणॉय ने दिखाया जिन्होंने विश्व नंबर 10 और टूर्नामेंट में सातवीं वरीयता प्राप्त हॉन्ग-कॉन्ग के का लॉन्ग एंगस को सीधे सेटों में मात दी।

PV Sindhu progresses to the second round of the German Open 2022 with a convincing win over 🇹🇭’s Busanan Ongbamrungphan. 🏸Check out the full story. 👇olympics.com/en/news/german…#Badminton | @BAI_Media

टोक्यो ओलंपिक कांस्य पदक विजेता सिंधू ने अपनी प्रतिद्वंदी थाईलैंड की बुसानन को बेहद आसानी से सीधे सेटों में मात दी। विश्व नंबर 7 सिंधू ने विश्व नंबर 11 बुसानन को 21-8, 21-7 से हराने में सिर्फ 32 मिनटों का समय लिया। सिंधू ने पूरे मैच में बेहद तेज अटैक दिखाया और बेहतरीन फुट मूवमेंट के साथ मुकाबला अपने नाम किया। साइना नेहवाल को स्पेन की क्लारा अजुरमेंडी को हराने में मेहनत करनी पड़ी और उन्होंने 21-15, 17-21, 21-14 से तीन सेटों में मैच अपने नाम किया।

भारत के टॉप पुरुष खिलाड़ी और विश्व चैंपियनशिप सिल्वर मेडलिस्ट किदाम्बी श्रीकांत को पहले दौर में जीत के लिए मशक्कत करनी पड़ी। श्रीकांत ने फ्रांस के ब्राइस लेवरडेज को तीन सेट तक चले मैच में 21-10, 13-21, 21-7 से हराया। पहला सेट आसानी से जीतने के बाद दूसरे सेट में ब्राइस ने शानदार वापसी करते हुए इसे अपने नाम किया। हालांकि तीसरे सेट में श्रीकांत ने अपने अनुभव का पूरा फायदा उठाया और मुकाबला अपने नाम करने में कामयाबी हासिल की। वहीं लक्ष्य सेन ने थाईलैंड के कांताफोन वांगचरोएन को 21-6, 22-20 से सिर्फ 36 मिनट में हराकर अगले दौर में जगह बनाई। एच एस प्रणॉय ने बेहतरीन खेल दिखाते हुए अपने से ऊंची रैंकिंग के खिलाड़ी हॉन्ग कॉन्ग के का लॉन्ग एंगस को 21-14, 21-19 से हराया।

डबल्स में निराशा

मिक्स्ड डबल्स में भारत के साई प्रतीक और एन सिक्की रेड्डी की जोड़ी पहले दौर में हारकर बाहर हो गई। उन्हें पहली वरीयता प्राप्त थाईलैंड की पुआवारानुक्रोह-ताईरत्तानचाई की जोड़ी ने सीधे सेटों में 21-19, 21-8 से हराते हुए बाहर कर दिया। ध्रुव कपिला और गायत्री गोपीचंद की जोड़ी को भी हार का सामना करना पड़ा। इंडोनिशिया के अदनान मौलाना-मिशेल बंदासो ने ध्रुव-गायत्री को 21-19, 21-19 से मात दी तो वहीं ईशान भटनागर-तनिषा क्रास्टो की जोड़ी भी हारकर बाहर हो गई। महिला डबल्स में भारत की हरिता-आश्ना रॉय को इटली की मार्टिना-जुडिथ की जोड़ी ने 21-9, 20-22, 21-9 से हराया।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment