Create
Notifications

ऑल इंग्‍लैंड चैंपियनशिप: सेमीफाइनल में थम गया पीवी सिंधू का सफर

पीवी सिंधू
पीवी सिंधू
Vivek Goel
visit

गत विश्‍व चैंपियन पीवी सिंधू को एक बार फिर प्रतिष्ठित ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन चैंपियनशिप के सेमीफाइनल में हार का सामना करना पड़ा। पीवी सिंधू महिला सिंगल्‍स में थाईलैंड की छठी वरीय पोर्नपावी चोचुवोंग से सीधे गेम में पराजित हो गईं। ओलंपिक सिल्‍वर मेडलिस्‍ट सिंधू दुनिया की 11वें नंबर की खिलाड़ी चोचुवोंग की फुर्ती, ताकत और सटीकता की बराबरी नहीं कर सकी और 43 मिनट तक चले मुकाबले में 17-21 9-21 से हार गई। याद हो कि दुनिया की सातवें नंबर की भारतीय शटलर पीवी सिंधू 2018 ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप के भी सेमीफाइनल में हार गयी थीं।

मैच हारने के बाद निराश सिंधू ने कहा, 'हर कोई फाइनल में पहुंचने का लक्ष्य बनाए होता है, अब यह खत्म हो गया तो मुझे अपनी गलतियों से सीख लेनी होगी और सकारात्मक चीजें सीखनी होंगी। मुझे एक महीने तक कोई टूर्नामेंट नहीं खेलना है तो मेरे पास मजबूत वापसी करने के लिये तैयारी का समय है।' पांचवीं वरीयता प्राप्त सिंधू का इस सेमीफाइनल से पहले 23 वर्षीय चोचुवोंग के खिलाफ जीत का रिकार्ड 4-1 था, जिसे उन्होंने जनवरी में एचएसबीसी बीडब्ल्यूएफ टूर फाइनल्स में हराया था।

लेकिन चोचुवोंग के बेहतरीन डिफेंस के आगे इस आंकड़े का कोई मतलब नहीं रहा जिन्होंने अपनी शॉट की रफ्तार से भारतीय खिलाड़ी को पस्त कर दिया।

इसी तरह सिंधू स्विस ओपन के फाइनल में ओलंपिक चैंपियन कैरोलिना मारिन से हारी थीं और वह फिर तेज तर्रार खेलने वाली प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ कमतर दिखीं।

पीवी सिंधू पर हावी हुई थकान

शायद जापान की यामागुची के खिलाफ 76 मिनट तक चले क्वार्टरफाइनल का असर सिंधू पर दिखा क्योंकि चोचुवोंग ने मुकाबले के दौरान पूरा दबदबा बनाये शुक्रवार की रात सिंधू ने क्वार्टरफाइनल में जापान की तीसरी वरीयता प्राप्त अकाने यामागुची को 16-21 21-16 21-19 से हराकर अंतिम चार में प्रवेश किया था। एक घंटे 16 मिनट तक चला मुकाबला जीतकर सिंधू दूसरी बार इस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंची थीं।

बहरहाल, सेमीफाइनल में पीवी सिंधू ने 3-1 से बढ़त बनाई, लेकिन कुछ गलतियां कर बैठीं और चोचुवोंग ने कुछ अच्छे शॉट लगाकर 8-5 की बढ़त हासिल कर ली। युवा थाई खिलाड़ी ने अपने क्रॉस कोर्ट रिटर्न का अच्छा इस्तेामल किया और ब्रेक तक 11-6 से आगे हो गयीं जिसे उन्होंने 14-7 कर दिया।

सिंधु ने लगातार चार अंक जुटाकर और थाईलैंड की खिलाड़ी की गलती से अंतर 13-15 से अंतर कम किया। लेकिन चोचुवोंग ने 19-16 की बढ़त हासिल करने के बाद शानदार नेट रिटर्न से चार गेम प्वाइंट जुटाये और पहला गेम जीत लिया। दूसरे गेम में चोचुवोंग ने 4-1 से आगे होने के बाद कुछ सहज गलतियां कर दी लेकिन वह फिर भी 4-3 से आगे थी। थाईलैंड की खिलाड़ी ने लगातार छह अंक जुटाकर इसे 10-3 कर दिया। ब्रेक तक वह सात अंक आगे थीं।

इसके बाद तो मानो सिंधु ने घुटने ही टेक दिये थे। चोचुवोंग ने 18-9 की बढ़त के बाद आसानी से इसे अपने नाम कर लिया।


Edited by Vivek Goel
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now