Create

पीवी सिंधू ने कहा- परिवार और कोच गोपीचंद से कोई लड़ाई नहीं

पीवी सिंधू
पीवी सिंधू

विश्‍व चैंपियन पीवी सिंधू ने अचानक हैदराबाद में प्री ओलंपिक राष्‍ट्रीय कैंप छोड़ा और लंदन के लिए रवाना हो गईं। पीवी सिंधू के पिता पीवी रमन्‍ना ने इस खबर के बारे में पीटीआई से बातचीत करते हुए कहा कि परिवार में किसी तरह की चिंता नहीं है। उनके मुताबिक पीवी सिंधू लंदन में बेहतर ट्रेनिंग हासिल करने गई हैं क्‍योंकि उसे नेशनल कैंप में पर्याप्‍त ट्रेनिंग नहीं मिल रही है। मगर मजेदार बात यह है कि पीवी सिंधू ने अपने इंस्‍टाग्राम पोस्‍ट पर कहा कि नेशनल कैंप में उनके ट्रेनिंग को लेकर कोई परेशानी नहीं है।

पीवी सिंधू ने अपने पोस्‍ट में कहा- मेरी मेरे कोच गोपीचंद या एकेडमी में ट्रेनिंग को लेकर कोई शिकायत नहीं है। पीवी सिंधू ने साथ ही कहा कि परिवार में कोई चिंता नहीं हैं और वह लगातार अपने माता-पिता के संपर्क में है। पीवी रमन्‍ना ने कहा, 'पीवी सिंधू की प्रैक्टिस यहां सही नहीं चल रही थी। 2018 एशियाई गेम्‍स के बाद गोपीचंद ने उसकी ट्रेनिंग में रुचि नहीं दिखाई। गोपी ने पीवी सिंधू को अभ्‍यास के लिए सही जोड़ीदार नहीं दिया। पीवी सिंधू का पर्याप्‍त अभ्‍यास नहीं हुआ और वो इस तरह के रवैये से परेशान हो गई थी।'

पीवी सिंधू अकेले गईं लंदन

पीवी रमन्‍ना ने साथ ही कहा कि उनकी बेटी पीवी सिंधू अकेले ही लंदन गई है क्‍योंकि वो उनके साथ दो महीने तक वहां नहीं रुक सकते। गोपीचंद ने रमन्‍ना की टिप्‍पणी पर कुछ भी कहने से इंकार किया। उन्‍होंने कहा- 'पीवी सिंधू के पिता ने कुछ भी कहा हो, मैं उस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं देना चाहता। जहां तक मुझे पता है कि पीवी सिंधू लंदन में गेटोरेड ट्रेनिंग एकेडमी में ट्रेनिंग के लिए गई है। पीवी सिंधू ने मुझे कहा कि वो वहां आठ से 10 सप्‍ताह रहेगी। एक बार वो लौटे तो फिर पहले ही तरह ट्रेनिंग करेगी।'

पीवी सिंधू ने अपने इंस्‍टाग्राम पर कहा, 'मैं कुछ दिनों पहले लंदन अपने न्‍यूट्रीशन और जीएसएसआई के साथ रिकवरी जरूरतों पर काम करने आई हूं। मैं यहां अपने परिवार वालों की रजामंदी से आई हूं और इस संबंध में मेरे परिवार में कोई दरार नहीं है। मेरा अपने माता-पिता से कोई विवाद क्‍यों होगा, जिन्‍होंने मेरे खातिर अपनी जिंदगी के साथ समझौता किया। मेरा परिवार आपस में बंधा हुआ है और वो हमेशा मेरा समर्थन करते हैं। मैं हर रोज अपने परिवार वालों से बातें करती हूं।'

Quick Links

Edited by Vivek Goel
Be the first one to comment