Create

कोरिया ओपन बैडमिंटन - सेमीफाइनल में हारे सिंधू और श्रीकांत, भारतीय चुनौती समाप्त

श्रीकांत और सिंधू दोनों ही अपने प्रतिद्वंदियों के खिलाफ जीत दर्ज नहीं कर सके।
श्रीकांत और सिंधू दोनों ही अपने प्रतिद्वंदियों के खिलाफ जीत दर्ज नहीं कर सके।

दक्षिण कोरिया में खेली जा रही कोरिया ओपन बैडमिंटन प्रतियोगिता के सेमीफाइनल में पीवी सिंधू और किदाम्बी श्रीकांत हारकर बाहर हो गए हैं। इसी के साथ इस साल प्रतियोगिता में भारतीय चुनौती भी समाप्त हो गई है। सिंधू को विश्व नंबर 4 आन सियंग ने मात दी तो श्रीकांत को विश्व नंबर 8 जॉनाथन क्रिस्टी के हाथों हार मिली।

तीसरी वरीयता प्राप्त सिंधू को दूसरी वरीयता प्राप्त दक्षिण कोरिया की ही आन सियंग ने सीधे सेटों में 21-14, 21-17 से हराया। 48 मिनट तक चले मुकाबले में सिंधूु ने सियंग को हराने में पूरी जान लगा दी लेकिन उनका तोड़ नहीं ढूंढ पाई। आन सियंग ने सिंधू को पिछले साल सिंधू को वर्ल्ड टूर फाइनल्स और डेनमार्क ओपन में भी मात दी थी।20 साल की सियंग हाल ही में ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन चैंपियनशिप की उपविजेता भी रहीं थीं। अब फाइनल में सियंग का सामना छठी वरीयता प्राप्त थाईलैंड की पोर्नपावी चोचुवांग से होगा। पोर्नपावी ने दूसरे महिला सिंगल्स सेमीफाइनल में दक्षिण कोरिया की किम गेयुन को तीन सेट तक चले कड़े मैच में 17-21, 21-14, 21-14 से हराया।

सिंधू ने साल 2017 में कोरिया ओपन का खिताब जीता था और इस टूर्नामेंट को जीतने वाली इकलौती भारतीय खिलाड़ी बनीं थीं।

क्रिस्टी से फिर हारे श्रीकांत

किदाम्बी श्रीकांत का इस सीजन पहला खिताब जीतने का सपना फिर टूट गया। पुरुष सिंगल्स सेमीफाइनल में पांचवी वरीयता प्राप्त श्रीकांत को तीसरी वरीयता प्राप्त जॉनाथन क्रिस्टी ने 21-19, 21-16 से मात दी। जॉनाथन क्रिस्टी ने पिछले हफ्ते स्विस ओपन के सेमीफाइनल में भी श्रीकांत को हराया था जबकि उससे पहले ऑल इंग्लैंड के प्री-क्वार्टरफाइनल में भी क्रिस्टी को श्रीकांत के ऊपर जीत मिली थी। भारत का कोई भी पुरुष खिलाड़ी कोरिया ओपन में सिंगल्स खिताब नहीं जीत पाया है।

Quick Links

Edited by निशांत द्रविड़
Be the first one to comment