COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

सैयद मोदी इंटरनेशनल 2018: समीर वर्मा ने लगातार दूसरे साल खिताब जीता, साइना नेहवाल को फाइनल में मिली हार

न्यूज़
53   //    26 Nov 2018, 14:26 IST

Enter caption

लखनऊ में खेले गए सैयद मोदी टूर्नामेंट के पुरुष सिंगल्स में भारत के समीर वर्मा ने लगातार दूसरे साल खिताब पर कब्ज़ा किया। दूसरी तरफ महिला सिंगल्स के फाइनल में साइना नेहवाल को हार का सामना करना पड़ा। पुरुष डबल्स के फाइनल में भारत के सात्विकसाईराज रनकीरेड्डी और चिराग शेट्टी को और महिला डबल्स के फाइनल में अश्विनी पोनप्पा और सिक्की रेड्डी को भी फाइनल में हार का सामना करना पड़ा।

पुरुष सिंगल्स के फाइनल में समीर वर्मा ने चीन के लू गुआंगज़ू 16-21, 21-19, 21-14 से हराकर खिताब जीता। भारत के अजय जयराम, सिरिल वर्मा, एचएस प्रनॉय, सिद्धार्थ ठाकुर, राहुल यादव, श्रेयांश जायसवाल, कार्तिकेय गुलशन कुमार और सौरभ वर्मा पहले राउंड में एवं हर्षिल दानी, गुरुसाई दत्त, शुभांकर डे और मिथुन मंजुनाथ दूसरी राउंड में हारकर बाहर हो गए, वहीं परुपल्ली कश्यप और बी साईं प्रणीत को क्वार्टरफाइनल में हार का सामना करना पड़ा।

महिला सिंगल्स के फाइनल में चीन की हान युई ने भारत की साइना नेहवाल को 21-18, 21-8 से हराकर खिताब पर कब्ज़ा किया। भारत की ऋतुपर्णा दास और साई उत्तेजिता राव क्वार्टरफाइनल में हारकर बाहर हो गई। रेश्मा कार्तिक, श्रेयांशी, अमोलिका सिंह, श्रुति मूंदड़ा, प्राशी जोशी, रिया मुखर्जी, सैली राणे और ममिला पिल्लई दूसरे राउंड में एवं मुग्धा आग्रेय, स्मित तोषनीवाल, शिखा गौतम, रसिका राजे, आकर्षि कश्यप, रितिका ठाकर, वृषाली, वैदेही चौधरी, श्री कृष्णा प्रिया, इरा शर्मा और अनुरा प्रभुदेसाई पहले ही राउंड में हारकर बाहर हो गई।

पुरुष डबल्स के फाइनल में भारत के सात्विकसाईराज रनकीरेड्डी और चिराग शेट्टी को इंडोनेशिया के फजर अल्फियान और मुहम्मद रियान की जोड़ी ने 21-11, 22-20 से हराया। महिला डबल्स के फाइनल में भारत की अश्विनी पोनप्पा और सिक्की रेड्डी को मलेशिया की चाउ मे कुआं और ली मेंग यीन की जोड़ी ने 21-15, 21-13 से हराकर खिताब जीता।

मिक्स्ड डबल्स में भारत की अश्विनी पोनप्पा और सात्विकसाईराज रनकीरेड्डी की जोड़ी को सेमीफाइनल और टॉप सीड प्रभाव चोपड़ा और सिक्की रेड्डी की जोड़ी को पहले ही राउंड में हार का सामना करना पड़ा।

ANALYST
Cricket is my reason for living
Advertisement
Fetching more content...