Create

3 बल्लेबाज जिन्होंने वनडे में टीम की हार में सबसे बड़ा स्कोर बनाया 

टीम के हारने के बावजूद इन तीनों खिलाड़ियों को प्लेयर ऑफ द मैच दिया गया
टीम के हारने के बावजूद इन तीनों खिलाड़ियों को प्लेयर ऑफ द मैच दिया गया

क्रिकेट में किसी भी खिलाड़ी के लिए अच्छा प्रदर्शन कर अपनी टीम को मैच जिताना सबसे सुखद अनुभव होता है। दुनिया भर में कई ऐसी टीमें हैं जो अपने प्रमुख खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर पूरी तरह निर्भर करती हैं लेकिन कई मौकों पर किसी एक खिलाड़ी के बेहतरीन प्रदर्शन करने के बावजूद उनकी टीम मुकाबला हार जाती है। ऐसे में उन खिलाड़ियों की पारियों को ज्यादा दिन तक कोई याद नहीं रख पाता। वनडे में कई बल्लेबाजों द्वारा ऐसी ही बड़ी पारियां खेली गई हैं जिन्हें टीम के हार जाने के कारण भुला दिया गया है।

आज हम ऐसे ही 3 खिलाड़ियों की बात करेंगे जिनके बल्ले से निकली बड़ी पारियों के बावजूद उनकी टीम को हार का सामना करना पड़ा।

इन 3 बल्लेबाजों ने टीम की हार में सबसे बड़े स्कोर बनाये

#3 मैथ्यू हेडन

ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज सलामी बल्लेबाज मैथ्यू हेडन बल्लेबाजी करते हुए
ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज सलामी बल्लेबाज मैथ्यू हेडन बल्लेबाजी करते हुए

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई सलामी बल्लेबाज मैथ्यू हेडन ने 20 फरवरी 2007 को न्यूजीलैंड के खिलाफ अपने वनडे करियर का सबसे बड़ा स्कोर बनाया था लेकिन उनकी इस पारी के बावजूद ऑस्ट्रेलिया को न्यूजीलैंड के हाथों 1 विकेट से हार का सामना करना पड़ा था।

3 वनडे मैचों की श्रृंखला में 2-0 से पीछे चल रही ऑस्ट्रेलिया के पास अपना सम्मान बचाने का आखिरी मौका था। रोमांचक मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने हेडन के 166 गेंदों पर 11 चौके और 10 छक्कों के साथ नाबाद 181 रनों की बदौलत न्यूजीलैंड को 347 रनों का विशाल लक्ष्य दिया। जवाब में क्रेग मैकमिलन की शानदार शतकीय पारी की मदद से न्यूजीलैंड ने यह मुकाबला 3 गेंद शेष रहते 1 विकेट से अपने नाम किया।

#2 फखर ज़मान

फखर ज़मान का नाम भी इसमें शामिल है
फखर ज़मान का नाम भी इसमें शामिल है

वनडे क्रिकेट में पाकिस्तान की तरफ से पहला दोहरा शतक लगाने वाले सलामी बल्लेबाज फखर ज़मान 4 अप्रैल 2021 को साउथ अफ्रीका दौरे की 3 वनडे श्रृंखला के दूसरे वनडे मुकाबले में अपना दूसरा दोहरा शतक लगाने से मात्र 7 रनों से चूक गए थे। उनकी इस बेहतरीन पारी के बावजूद पाकिस्तान को साउथ अफ्रीका के हाथों 17 रनों से हार का सामना करना पड़ा।

साउथ अफ्रीका के द्वारा दिए गए 342 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए पाकिस्तान टीम 50 ओवरों में सलामी बल्लेबाज फखर ज़मान के 155 गेंदों पर 18 चौके और 10 छक्कों की मदद से 193 रनों की पारी के बावजूद 9 विकेट खोकर 324 रन ही बना सकी।

#1 चार्ल्स कॉवेंट्री

चार्ल्स कॉवेंट्री ने मात्र 54 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं
चार्ल्स कॉवेंट्री ने मात्र 54 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं

सचिन तेंदुलकर के द्वारा 2010 में बनाए गए वनडे क्रिकेट के पहले दोहरे शतक से पहले वनडे का सर्वाधिक स्कोर जिंबाब्वे के चार्ल्स कॉवेंट्री के नाम था, जिन्होंने 16 अगस्त 2009 में बांग्लादेश के खिलाफ नाबाद 194 रनों की पारी खेली थी

चार्ल्स कॉवेंट्री के शानदार 156 गेंदों पर 16 चौके और 7 छक्कों की मदद से बनाए गए 194 रनों के बावजूद उनकी टीम को बांग्लादेश के खिलाफ चौथे वनडे मुकाबले में 4 विकेट से हार का सामना करना पड़ा था। उस मुकाबले में जिंबाब्वे के द्वारा दिए गए 313 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए बांग्लादेश के लिए सलामी बल्लेबाज तमीम इकबाल ने भी शानदार 154 रनों की पारी खेली थी।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment