Cricket Records 2019: तीन बड़े रिकॉर्ड जो भारतीय टीम ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में बनाए 

रोहित शर्मा (Photo-Bcci)
रोहित शर्मा (Photo-Bcci)

साल 2019 भारतीय क्रिकेट के लिए काफी अच्छा रहा। भारतीय टीम ने इस साल अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में बेहतरीन प्रदर्शन किया। भारत ने इस साल 28 वनडे, 8 टेस्ट और 16 टी20 मुकाबले खेले, इसमें टीम ने क्रमश:19, 7 और 9 मुकाबलों में जीत दर्ज की।

साल 2019 में भारतीय टीम इकलौती ऐसी एशियाई टीम थी, जिसने क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में 50 फीसदी से ज़्यादा मुकाबलों में जीत हासिल की। आज इस आर्टिकल में हम ऐसे तीन रिकॉर्ड की बात करेंगे, जो भारतीय टीम ने साल 2019 में अपने नाम किए।

#3 क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में हैट्रिक

हैट्रिक लेने के बाद दीपक चाहर
हैट्रिक लेने के बाद दीपक चाहर

साल 2019 भारत के लिए हैट्रिक का साल रहा है, क्योंकि इस साल 4 खिलाड़ियों ने भारत के लिए हैट्रिक ली।साल की सबसे पहली हैट्रिक भारतीय तेज़ गेंदबाज़ मोहम्मद शमी के नाम रही, जिन्होंने विश्व कप में अफ़ग़ानिस्तान के खिलाफ पारी के आखिरी ओवर में हैट्रिक ली।

शमी के बाद दूसरी हैट्रिक तेज़ गेंदबाज़ जसप्रीत बुमराह के नाम रही, जिन्होंने वेस्टइंडीज़ के खिलाफ टेस्ट सीरीज़ में इसे हासिल किया। साल की तीसरी हैट्रिक दीपक चाहर ने बांग्लादेश के खिलाफ टी20 सीरीज़ में ली और चौथी हैट्रिक कुलदीप यादव ने वेस्टइंडीज़ के खिलाफ वनडे सीरीज़ में अपने नाम की।

इसी के साथ भारत ने एक साल में किसी भी टीम द्वारा सबसे ज़्यादा हैट्रिक लेने के पाकिस्तान के रिकॉर्ड को ध्वस्त किया। पाकिस्तानी टीम ने साल 1999 में तीन हैट्रिक ली थी।

#2 टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज़्यादा बार पारी घोषित

पारी घोषित करने के बाद भारतीय बल्लेबाज़
पारी घोषित करने के बाद भारतीय बल्लेबाज़

टेस्ट क्रिकेट में इस साल भारत ने सबसे ज़्यादा 7 बार अपनी पारी घोषित की। यह सिलसिला वेस्टइंडीज़ के खिलाफ खेले गए दूसरे टेस्ट की दूसरी पारी से शुरू हुआ था।

पहले यह रिकॉर्ड इंग्लैंड की टीम के नाम था, जिन्होंने वेस्टइंडीज़ के खिलाफ साल 2009 में लगातार 6 बार पारी घोषित की थी।

#1 टेस्ट सीरीज़ के हर मुकाबले में दोहरा शतक

रांची में दोहरा शतक लगाने के बाद रोहित शर्मा
रांची में दोहरा शतक लगाने के बाद रोहित शर्मा

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अक्टूबर में खेली गई 3 मुकाबलों की टेस्ट सीरीज़ में भारतीय टीम के खिलाड़ियों ने 3 दोहरे शतक लगाए। टेस्ट क्रिकेट में ऐसा पहली बार हुआ, कि किसी एक टीम के तीन खिलाड़ियों ने लगातार तीन मुकाबलों में दोहरा शतक बनाया।

विशाखापट्नम में खेले गए पहले टेस्ट में सलामी बल्लेबाज़ मयंक अग्रवाल ने सीरीज़ का पहला दोहरा शतक लगाया। इस मुकाबले में उनके बल्ले से 215 रन निकले थे। पुणे में खेले गए दूसरे टेस्ट में भारतीय कप्तान विराट कोहली ने सीरीज़ का दूसरा दोहरा शतक लगाया। इस मुकाबले में उनके बल्ले से 254 रन निकले थे।

सीरीज़ का तीसरा मुकाबला रांची में खेला गया था, और इस मुकाबले में भारतीय सलामी बल्लेबाज़ रोहित शर्मा ने 255 गेंदों में 212 रन की ताबरतोड़ पारी खेली थी।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता