Create

3 सबसे बड़े टारगेट जिनका पीछा करते हुए इंग्लैंड ने टेस्ट में जीत हासिल की 

Neeraj
तीन टेस्ट जिनमें इंग्लैंड ने सबसे सबसे बड़े टारगेट को सफलतापूर्व चेस किया
तीन टेस्ट जिनमें इंग्लैंड ने सबसे सबसे बड़े टारगेट को सफलतापूर्व चेस किया

एजबेस्टन में इंग्लैंड और भारत (ENG vs IND 2022) के बीच खेले गए पांचवें रिशेड्यूल टेस्ट में इंग्लैंड (England Cricket Team) ने भारत (Indian Cricket Team) को सात विकेट से मात देते हुए जीत दर्ज की। इसी के साथ दोनों देशों के बीच खेली गई ये पांच मैचों की टेस्ट सीरीज 2-2 की बराबरी पर समाप्त हुई। इंग्लैंड की ओर से दूसरी पारी में जो रूट (Joe Root) और जॉनी बेयरस्टो (Jonny Bairstow) ने शतक पूरे किये और नाबाद रहते हुए टीम को जीत दिलाई।

इंग्लैंड टीम ने इस मैच में जीत हासिल करने के साथ टेस्ट क्रिकेट इतिहास के कई रिकॉर्ड अपने नाम किये। आपको बता दें, भारत के खिलाफ खेले इस मैच में इंग्लैंड ने टेस्ट में अब तक का सबसे बड़ा टारगेट सफलतापूर्व चेस करने में सफलता हासिल की। इस आर्टिकल में हम उन तीन बड़े लक्ष्य की बात करेंगे जो इंग्लैंड ने टेस्ट में सफलतापूर्व चेस किये हैं।

3 सबसे बड़े टारगेट जिनका पीछा करते हुए इंग्लैंड ने टेस्ट में जीत हासिल की

#3 332 रन - बनाम ऑस्ट्रेलिया, मेलबर्न (1928)

हरबर्ट सटक्लिफ (Image - Espn)
हरबर्ट सटक्लिफ (Image - Espn)

1928/29 में इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया के दौरा का दिया था। जहाँ दोनों देशों के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेली गयी थी। सीरीज का तीसरा टेस्ट 29 दिसंबर से 5 जनवरी के बीच मेलबर्न में खेला गया था। मैच में मेजबानों ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग का फैसला लिया और ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पहली पारी में 397 रन बनाये। जवाब में इंग्लैंड ने मैच की दूसरी पारी में 417 रन बनाते हुए 20 रनों की बढ़त हासिल की।

ऑस्ट्रेलिया ने अपनी दूसरी पारी में 351 रन बनाते हुए, मेहमान टीम को मैच जीतने के लिए 332 रनों का टारगेट दिया। जिसे इंग्लैंड ने हरबर्ट सटक्लिफ की खेली 135 रनों की शानदार शतकीय पारी की बदौलत सात विकेट गंवाकर हासिल कर लिया।

#2 359 रन - बनाम ऑस्ट्रेलिया, लीड्स (2019)

बेन स्टोक्स (Image - Espn)
बेन स्टोक्स (Image - Espn)

आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के तहत साल 2019 में इंग्लैंड की सरजमीं पर इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेली गई थी। सीरीज का तीसरा मैच लीड्स के मैदान पर खेला गया। उस मैच में मेजबानों ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का निर्णय लिया। ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए डेविड वॉर्नर के (61) और मार्नस लैबुशेन (74) की अर्धशतकीय पारियों की मदद से 179 रन बनाये।

जवाब में इंग्लैंड की पूरी टीम अपनी पहली पारी में 67 रनों पर ढेर हो गई, जिसकी बदौलत ऑस्ट्रेलिया को 112 रनों की लीड प्राप्त हुई। मैच की तीसरी पारी में कंगारुओं ने 246 रन बनाते हुए, इंग्लैंड को जीत के लिए 359 रनों का टारगेट दिया।

चौथी पारी में इस बड़े लक्ष्य को हासिल कर पाना इंग्लैंड के लिए बिल्कुल भी आसान नहीं था, लेकिन बेन स्टोक्स की 219 गेंदों पर खेली 135 रनों की नाबाद पारी के दम पर इंग्लैंड ने इस लक्ष्य को 9 विकेट गंवाते हुए हासिल कर लिया। इंग्लैंड ने इस मैच को एक विकेट से जीतकर टेस्ट क्रिकेट में बड़ी उपलब्धि हासिल की थी।

#1 378 रन - बनाम भारत, बर्मिंघम (2022)

जो रूट (Image - Espn)
जो रूट (Image - Espn)

इंग्लैंड ने टेस्ट क्रिकेट में सबसे बड़ा टारगेट सफलतापूर्व चेस भारतीय टीम के विरुद्ध खेलते हुए 2022 में हासिल किया है। एजबेस्टन में इंग्लैंड और भारत के बीच पांच मैचों की सीरीज का आखिरी रिशेड्यूल मुकाबला खेला गया था। मैच में कप्तान बेन स्टोक्स ने टॉस जीतकर भारतीय टीम को पहले बल्लेबाजी करने का न्यौता दिया।

भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 416 रन बनाए, जवाब में मेजबानों की पहली पारी 284 रनों पर सिमट गई। 132 रनों की मिली बढ़त के साथ खेलते हुए भारत ने मैच की तीसरी पारी में 245 और जोड़े, और मेजबान टीम को जीत के लिए 378 रनों का विशाल टारगेट दिया। इंग्लैंड ने जो रूट (142*) और जॉनी बेयरस्टो (114*) द्वारा खेली शानदार पारियों की बदौलत तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment