Create
Notifications

आईपीएल के 3 मैच विनर खिलाड़ी जो शायद आपको याद नहीं होंगे

मनप्रीत गोनी
मनप्रीत गोनी
akhilesh.tiwari19
visit

आईपीएल को दुनिया की सबसे बड़ी क्रिकेट लीग कहा जाता है। इसके जरिए हर साल कई बेहतरीन युवा खिलाड़ी हमारे सामने निकलकर आते हैं। इन खिलाड़ियों में से जो अपने अच्छे प्रदर्शन को जारी रख पाता है, वह शायद भारतीय टीम तक का सफर तय कर लेता है। जबकि कुछ खिलाड़ी अपने बेहतरीन प्रदर्शन को नियमित नहीं रख पाते और जल्द ही लोगों की नजरों से ओझल हो जाते हैं।

आईपीएल के अब तक के 12 सीजन में कई दिग्गज खिलाड़ी आए। इनमें से कुछ ने काफी नाम कमाया लेकिन कई खिलाड़ी ऐसे भी रहे जो अपनी उस फॉर्म को बरकरार नहीं रख पाए और जल्द ही भुला दिए गए।

आज हम आपको आईपीएल के ऐसे ही तीन स्टार खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें शानदार प्रदर्शन के बावजूद आप भूल चुके होंगे।

यह भी पढ़ें : 3 भाग्यशाली क्रिकेटर जो आईपीएल 2020 से करेंगे अपना डेब्यू

जानिए कौन हैं वो तीन स्टार खिलाड़ी :-

#3 मनप्रीत गोनी

मनप्रीत गोनी
मनप्रीत गोनी

चेन्नई सुपरकिंग्स की ओर से आईपीएल का पहला सीजन खेलने वाले मनप्रीत गोनी का नाम भी आईपीएल के स्टार खिलाड़ियों में शामिल होता है। उन्होंने पहले ही सीजन में सीएसके की ओर से सबसे ज्यादा 17 विकेट लिए थे। इसी वजह से उन्हें भारतीय टीम की ओर से एशिया कप में भी खेलने का मौका मिला।

हालांकि वह अपने इस शानदार प्रदर्शन को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर जारी नहीं रख सके और जल्द ही टीम से बाहर हो गए। इसके बाद उन्होंने साल 2013 में किंग्स इलेवन पंजाब की ओर से कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ 18 गेदों में 42 रनों की शानदार पारी खेली। लगातार गिरते प्रदर्शन के बावजूद गुजरात लॉयंस ने साल 2017 में उन्हें खरीदा लेकिन उस सीजन वो केवल एक ही मैच खेल पाए और वह उनका आखिरी सीजन था।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं।

#2 पॉल वाल्थाटी

पॉल वाल्थाटी
पॉल वाल्थाटी

मनप्रीत गोनी के बाद अगला नाम आता है, पॉल वाल्थाटी का। इस खिलाड़ी का नाम तब सुर्खियों में आया, जब उन्होंने 2011 के आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब की ओर से खेलते हुए चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाफ 63 गेदों पर 120 रनों की शानदार पारी खेली थी। इसके बाद डेक्कन चार्जर्स के खिलाफ बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए उन्होंने 29 रन देकर 4 विकेट लिए और बल्ले से भी कमाल दिखाते हुए 47 गेदों पर 75 रनों की पारी खेली।

उन्होंने उस सीजन 14 मैचों में 463 रन बनाए, जिसमें एक शतक और दो अर्धशतक शामिल थे। हालांकि 2012 के सीजन में वो 7 मैचों में मात्र 36 रन ही बना पाए। यही कारण रहा कि साल 2013 के सीजन में वो मात्र एक मैच ही खेल पाए और उसके बाद वह फिर कभी आपीएल में खेलते हुए नहीं दिखे।

#1 मनविंदर बिस्ला

मनविंदर बिस्ला
मनविंदर बिस्ला

इस लिस्ट में पहला नाम है मनविंदर बिस्ला का, जो कि साल 2012 के आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स के स्टार खिलाड़ी साबित हुए थे। उन्होंने उस सीजन के फाइनल में चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाफ 48 गेदों में 89 रन की पारी खेलकर अपनी टीम को चैंपियन बनाया था। इसके बाद यह लग रहा था कि यह खिलाड़ी भारतीय टीम के लिए टी20 में स्टार खिलाड़ी साबित हो सकता है लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

बिस्ला ने 2013 के सीजन में भी केकेआर की ओर से कुल 255 रन बनाए थे, जिसमें दो अर्धशतक शामिल थे। इसके बाद साल 2015 में वह केकेआर को छोड़कर रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर में शामिल हुए, और यह उनके आईपीएल करियर का आखिरी सीजन साबित हुआ। उन्होंने उस सीजन आरसीबी की ओर से मात्र 2 मैच ही खेले थे।

Edited by सावन गुप्ता
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now