AUS v IND - 3 भारतीय गेंदबाज जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट मैच की एक पारी में सर्वाधिक विकेट झटके 

हरभजन सिंह विकेट लेने के बाद साथी खिलाड़ियों के साथ जश्न मनाते हुए 
हरभजन सिंह विकेट लेने के बाद साथी खिलाड़ियों के साथ जश्न मनाते हुए 

भारत (Indian Cricket Team) और ऑस्ट्रेलिया (Australia Cricket Team) के बीच बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी का आगाज हो चुका है और इसके तहत पहला टेस्ट एडिलेड के मैदान में खेला जा रहा है। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच हाल के कुछ टेस्ट मुकाबलों को छोड़ दें तो ऑस्ट्रेलिया टीम का दबदबा काफी रहा है। हालाँकि ऑस्ट्रेलिया के पुराने खिलाड़ियों के संन्यास के बाद टीम पहले की अपेक्षा काफी कमजोर हो गयी है। इसके बावजूद ऑस्ट्रेलिया को उनके घर में कम नहीं आँका जा सकता है। भारत ने पिछली बार यह ट्रॉफी अपने नाम की थी। उस सीरीज जीत में भारतीय गेंदबाजों का बहुत बड़ा योगदान रहा था।

यह भी पढ़े : हार्दिक पांड्या की टेस्ट टीम में दोबारा वापसी को लेकर विराट कोहली का बड़ा बयान

भारतीय गेंदबाजों ने टेस्ट में कई बार ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शानदार प्रदर्शन किया है और विपक्षी बल्लेबाजों को परेशान किया है। टेस्ट मैच में कभी -कभी कोई गेंदबाज किसी एक पारी में बेहतर प्रदर्शन करता है और उस पारी में सर्वाधिक विकेट भी हासिल कर लेता है । भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच ऐसे कई भारतीय गेंदबाज रहे, जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक पारी में शानदार गेंदबाजी का प्रदर्शन किया है। इस आर्टिकल में हम ऐसे 3 भारतीय गेंदबाजों के बारे में बात करने जा रहे हैं, जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट मैच की एक पारी में सर्वाधिक विकेट लिए हैं।

3 भारतीय गेंदबाज जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट मैच की एक पारी में सर्वाधिक विकेट लिए

#3 कपिल देव (8)

कपिल देव
कपिल देव

भारत के महान ऑलराउंडर कपिल देव ने 13 दिसंबर, 1985 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए दौरे के पहले टेस्ट मैच में अपनी शानदार गेंदबाजी का प्रदर्शन किया। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने वाली ऑस्ट्रेलिया की टीम के बल्लेबाजों के सामने कपिल देव को छोड़कर अन्य सभी गेंदबाज बेबस नजर आये। कपिल ने 38 ओवर की गेंदबाजी करते हुए 106 रन देकर 8 विकेट अपने नाम किये थे।

#2 हरभजन सिंह (8)

हरभजन सिंह
हरभजन सिंह

साल 2001 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली गयी टेस्ट सीरीज हरभजन सिंह के टेस्ट करियर की सबसे यादगार सीरीज कही जा सकती है। हरभजन ने इस सीरीज में अपनी फिरकी से ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजों को जमकर परेशान किया था और उनके विकेट चटकाए थे। इस सीरीज के तीसरे टेस्ट में हरभजन ने पहली पारी में 7 विकेट लिए थे और ऑस्ट्रेलिया 391 रन पर ऑल आउट हो गयी थी । इसके बाद दूसरी पारी में भी हरभजन ने कमाल की गेंदबाजी करते हुए 84 रन खर्च कर ऑस्ट्रेलिया के 8 बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई थी।

#1 जसुभाई पटेल

जसुभाई पटेल 
जसुभाई पटेल

1959 में भारत दौरे पर आयी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में जसुभाई पटेल ने अपनी गेंदबाज से ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजों को एक के एक पवेलियन की राह दिखाई। पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय अपनी पहली पारी में मात्र 152 रन पर ऑल आउट हो गयी। ऑस्ट्रेलिया के डेविडसन ने 5 विकेट अपने नाम किये। इसके बाद ऑस्ट्रेलिया अपनी पहली पारी में जसुभाई पटेल की ऑफ ब्रेक गेंदबाजी के आगे फंस गयी और इन्होंने 16 रन देते हुए 9 ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजों को आउट किया।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar