Create
Notifications

3 दिग्गज भारतीय खिलाड़ी जो कभी टीम के कप्तान नहीं बन पाएंगे

आर जडेजा से पहले कुछ और नाम हैं
आर जडेजा से पहले कुछ और नाम हैं
Naveen Sharma
FEATURED WRITER

भारतीय टीम (Indian Team) में खेलने का सपना हर किसी का होता है और कई खिलाड़ी इस सपने को पूरा होते हुए भी देखते हैं लेकिन हर कोई राष्ट्रीय टीम में आकर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट नहीं खेल पाता। इन सबके बीच कुछ खिलाड़ी ऐसे होते हैं जिन्हें टीम की कप्तानी करने का मौका भी मिलता है। कई बार खराब प्रदर्शन के कारण खिलाड़ियों को कप्तानी छोड़ते हुए भी देखा गया है। सचिन तेंदुलकर इसका बेहतरीन उदाहरण हैं।

भारतीय टीम में कुछ कप्तानों का रिकॉर्ड काफी ज्यादा अच्छा रहा है और उनकी तारीफ भी काफी ज्यादा होती रहती है। कपिल देव, सौरव गांगुली, महेंद्र सिंह धोनी का नाम बेस्ट भारतीय कप्तानों में सबसे ऊपर आता है। अलग-अलग परिस्थितियों में इन तीनों कप्तानों ने टीम के लिए अच्छा काम बतौर कप्तान किया था। राहुल द्रविड़ और अनिल कुंबले भी कप्तान रहे थे लेकिन इन्हें ज्यादा लम्बे समय तक कप्तान रहने का मौका नहीं मिला था।

इस तरह वीवीएस लक्ष्मण, जहीर खान जैसे दिग्गज नामों को कप्तान बनने का मौका कभी मिला ही नहीं। कई बार नियमित कप्तान की अनुपस्थिति में टीम का नेतृत्व करने का मौका अन्य खिलाड़ियों को मिल जाता है और उनकी कप्तानी में टीम का बेहतर प्रदर्शन देखकर फैन्स उन्हें नियमित कप्तान बनाने की मांग भी करते हैं। इस आर्टिकल में भारतीय टीम के कुछ ऐसे खिलाड़ियों का जिक्र किया गया है जिन्हें अब कप्तान बनने का मौका नहीं मिलेगा।

चेतेश्वर पुजारा

चेतेश्वर पुजारा की उम्र भी बढ़ रही है
चेतेश्वर पुजारा की उम्र भी बढ़ रही है

भारतीय टीम के लिए वनडे और टेस्ट मैच खेलने वाले पुजारा को अब तक कप्तानी करने का मौका नहीं मिला है और आगे भी शायद अब उन्हें कभी कप्तानी करते हुए नहीं देखा जाएगा। 90 टेस्ट मैच और 5 वनडे मुकाबले खेल चुके पुजारा की उम्र 33 साल है और फ़िलहाल विराट कोहली कप्तानी अच्छी तरह कर रहे हैं। उनसे पहले अजिंक्य रहाणे भी टेस्ट क्रिकेट में कप्तानी करते हुए दिखे हैं। पुजारा कप्तानी नहीं कर पाएंगे।

1 / 3 NEXT
Edited by निशांत द्रविड़
comments icon1 comment
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now