COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

3 प्रमुख कारणों से आरसीबी बुरे दौर से गुज़र रही है 

टॉप 5 / टॉप 10
2.03K   //    11 Nov 2018, 18:32 IST

Enter caption

क्रिकेट में एक कहावत है, "बल्लेबाज़ आपको मैच जिताते हैं जबकि गेंदबाज़ आपको टूर्नामेंट जिताते हैं।" दुर्भाग्यवश, पिछले दो सीज़न से आरसीबी के गेंदबाजों का प्रदर्शन तो औसत दर्जे का रहा ही है लेकिन उनके बल्लेबाज़ भी उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं। हालाँकि, आईपीएल सीज़न 2016 में कप्तानी कोहली की टीम फाइनल तक पहुंची थी। 

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर पिछले दो सीज़न में प्ले-ऑफ में जगह नहीं बना पाई है। 2017 में आरसीबी अंक-तालिका में सबसे निचले स्थान पर रही थी वहीं 2018 में बैंगलोर टीम छठे स्थान पर रही थी। टीम में विराट कोहली, एबी डीविलियर्स और ब्रेंडन मैकलम जैसे धाकड़ बल्लेबाज़ों के होते हुए भी टीम अभी तक एक भी आईपीएल ट्रॉफी जीत नहीं पाई है जो कि काफी दुर्भाग्यपूर्ण बात है। 

तो आइये तीन प्रमुख कारणों पर नज़र डालें जिनकी वजह से आरसीबी बुरे दौर से गुज़र रही है 

1. विराट कोहली और एबी डीविलियर्स पर अधिक निर्भरता

Image result for rcb sad

पिछले कुछ वर्षों से, आरसीबी विराट कोहली और एबी डीविलियर्स पर अधिक निर्भर रही है। पूरी टीम की बल्लेबाज़ी इन दोनों पर निर्भर करती है, जब भी ये दोनों खिलाड़ी क्रीज़ पर होते हैं इनसे टीम को संकट से उबारकर जीत दिलाने की उम्मीद की जाती है।

पिछले कुछ सालों से हमने देखा है कि टीम की जीत या हार इन्हीं दो बल्लेबाज़ों पर निर्भर करती है। आईपीएल सीज़न 2016 में दोनों का बल्ला खूब चला था जिसकी वजह से आरसीबी ने फाइनल तक का सफर तय किया था और इसके अगले दो सत्रों में दोनों का बल्ला खामोश रहा, नतीजतन टीम प्ले-ऑफ में भी जगह नहीं बना पाई।

आरसीबी की बल्लेबाज़ी कागज़ों पर सभी टीमों से ज़्यादा मजबूत लगती है। पिछले सीज़न में टीम में विराट कोहली, एबी डीविलियर्स, ब्रेंडन मैकलम और डी कॉक जैसे दुनिया के बेहतरीन बल्लेबाज़ होने के बावजूद टीम प्ले-ऑफ में जगह नहीं बना पाई। इन चारों दिग्गज बल्लेबाज़ों में से सिर्फ विराट कोहली ही पिछले सीज़न के टॉप 10 बल्लेबाजों की सूची में जगह बना पाए थे। 

ऐसे में अगर अगले सीज़न में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को अच्छा प्रदर्शन करना है तो इन दो बल्लेबाज़ों पर निर्भरता कम करनी होगी।

क्रिकेट की ब्रेकिंग न्यूज़ और ताज़ा ख़बरों के लिए यहां क्लिक करें




1 / 3 NEXT
Advertisement
Topics you might be interested in:
Advertisement
Fetching more content...