Create

3 भारतीय मूल के खिलाड़ी जिन्होंने दूसरे देश की ओर से खेलते हुए भारत के विरुद्ध कप्तानी की 

Neeraj
भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेली गई ये टी20 सीरीज 2-2 की बराबरी पर खत्म हुई थी
भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेली गई ये टी20 सीरीज 2-2 की बराबरी पर खत्म हुई थी

भारत में क्रिकेट के चाहने वालों की संख्या दुनिया के बाकी सभी देशों से कहीं ज्यादा है। क्रिकेट भारत का सबसे लोकप्रिय खेल रहा है, भारत ने जब 1983 में पहला वर्ल्ड कप जीता था। तब से लोगों की दीवानगी इस खेल के प्रति और भी ज्यादा बढ़ गई। भारत में लाखों बच्चे बचपन से ही देश के लिए क्रिकेट खेलने का सपना देखना शुरू कर देते हैं। लेकिन इनमें से सिर्फ गिने-चुने युवा खिलाड़ियों को ही भारत की राष्ट्रीय टीम की ओर से खेलने का अवसर मिल पाता है।

भारतीय टीम (Indian Cricket Team) के लिए खेलने के लिए चुना जाना किसी भी खिलाड़ी के लिए आसान नहीं रहता है। इसके लिए एक खिलाड़ी के अंदर मेहनत करने का जज्बा, धैर्य और खेल के प्रति पूरी निष्ठा का होना जरुरी है। अभी तक कई ऐसे खिलाड़ी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में खेल चुके हैं जो भारत में पैदा हुए या फिर उनके परिवार का नाता भारत के साथ रहा हो, लेकिन उन्होंने क्रिकेट दूसरे देश की ओर से खेला हो। इनमें से कई खिलाड़ियों ने भारत के खिलाफ खेलते हुए कप्तानी भी की है। इस आर्टिकल में हम उन्हीं 3 भारतीय मूल के खिलाड़ियों की बात करेंगे जिन्होंने भारतीय टीम के विरुद्ध खेलते हुए दूसरे देश की ओर से कप्तानी की।

3 भारतीय मूल के खिलाड़ी जिन्होंने दूसरे देश की ओर से खेलते हुए भारत के विरुद्ध कप्तानी की

#3 नासिर हुसैन (इंग्लैंड)

नासिर हुसैन (Image - Espn)
नासिर हुसैन (Image - Espn)

भारतीय मूल के नासिर हुसैन का जन्म 28 मार्च 1968 को चेन्नई में हुआ था। हुसैन को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में इंग्लैंड की ओर से खेलने का मौका मिला था। इंग्लैंड के लिए दाएं हाथ के बल्लेबाज ने 96 टेस्ट और 88 वनडे मुकाबले खेले हैं। अपने टेस्ट करियर में हुसैन ने 37.18 की औसत से 5764 रन बनाये। जबकि एकदिवसीय करियर में 30.29 की औसत से 2332 रन बनाये हैं। बता दें, 54 वर्षीय हुसैन ने 56 वनडे मैचों में इंग्लैंड टीम की कप्तानी की जिसमें से 28 मैचों में टीम ने जीत दर्ज की।

इन्हीं में से कुछ मुकाबलों में हुसैन ने भारत के खिलाफ खेलते हुए भी इंग्लैंड टीम की कमान संभाली थी। जिसमें से सबसे यादगार मुकाबला 2002 में नेटवेस्ट सीरीज का फाइनल रहा था। इसमें भारतीय टीम ने सौरव गांगुली की कप्तानी में इंग्लैंड को मात देते हुए सीरीज अपने नाम की थी।

#2 हाशिम अमला (दक्षिण अफ्रीका)

हाशिम अमला (Image - Espn)
हाशिम अमला (Image - Espn)

दक्षिण अफ्रीका के पूर्व धुरंधर खिलाड़ी हाशिम अमला का नाता भी भारत से रहा है। प्रोटियाज टीम की ओर से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलते हुए अमला ने कई सारे बड़े रिकॉर्ड्स अपने नाम किये। दाएं हाथ के बल्लेबाज ने अपने करियर के दौरान 124 टेस्ट, 181 वनडे और 44 टी20 मुकाबले खेले थे। जिसमें उन्होंने तीनों प्रारूपों को मिलाकर कुल 18672 रन बनाये। साल 2015 में जब दक्षिण अफ्रीका ने भारत का दौरा किया था तब उस दौरे पर प्रोटियाज टीम ने अमला की कप्तानी में भारत के साथ चार टेस्ट मैचों की सीरीज खेली थी, जिसमें भारत ने मेहमान टीम को 3-0 से शिकस्त दी थी।

#1 केशव महाराज (दक्षिण अफ्रीका)

केशव महाराज (Image - Espn)
केशव महाराज (Image - Espn)

बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज केशव महराज के पूर्वज उत्तर-प्रदेश के सुल्तानपुर जिले के रहने वाले थे। केशव के पिता आत्मानंद महाराज खुद भी घरेलू स्तर पर विकेटकीपिंग कर चुके हैं। हाल में ही दक्षिण अफ्रीका जब भारत के दौरे पर पांच मैचों की टी20 सीरीज खेलने आई थी, तब सीरीज के पांचवें मुकाबले में महाराज को भारत के खिलाफ कप्तानी करने का बेहतरीन मौका मिला था। हालाँकि बेंगलुरु में खेला गया ये मैच बारिश की वजह से बेनतीजा रहा। बता दें, दक्षिण अफ्रीकी कप्तान टेम्बा बवुमा चौथे टी20 के दौरान चोटिल हो गए थे जिसके चलते वो पांचवें टी20 मैच में नहीं खेल पाए। उनकी गैरमौजूदगी में प्रोटियाज टीम मैनेजमेंट ने 32 वर्षीय महाराज को टीम की कमान सौपीं थी।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment